ACB Trap : मिलिट्री इंजीनियर एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार, जयपुर सीबीआई की कोटा में कार्रवाई, एक करोड़ से अधिक की संपत्ति मिली

जयपुर सीबीआई ने बुधवार को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते कोटा के एक मिलिट्री इंजीनियर को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। सीबीआई इंजीनियर को अपने साथ जयपुर ले गई। यहां सीबीआई ने इंजीनियर गुरुवार को इंजीनियर को अदालत में पेश किया। अदालत ने इंजीनियर को तीन दिन के डिमांड पर भेजा है।

सूत्रों ने बताया कि एक ठेकेदार ने जयपुर सीबीआई को शिकायत की थी कि मिलिट्री में उसका काम चल रहा है। यहां असिस्टेंट इंजीनियर पद पर कार्यरत एनके राव ने बिल पास करने की एवज में उससे एक लाख दस हजार रुपए रिश्वत की मांग की है। शिकायत की सत्यापन के बाद सीबीआई ने कोट पहुंचकर राव को पकड़ने के लिए जाल बिछाया। प्लानिंग के अनुसार ठेकेदार ने राय को रिश्वत के एक लाख रुपए सौंपे। इसके बाद ठेकेदार का इशारा मिलते हैं मौके की तलाश में खड़ी सीबीआई ने राव को रिश्वत लेने के आरोप में रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद सीबीआई रात 12:30 बजे तक कार्रवाई कर राव को अपने साथ जयपुर ले गई।

राव द्वारा डेढ़ लाख रुपए रिश्वत की मांग की गई थी। बाद में सौदा एक लाख 10 हजार रुपए में तय हुआ।

सूत्रों ने बताया कि राव पहले बेंगलुरु में तैनात था। यहां से राव 2021 में ही कोटा ट्रांसफर होकर आया था। राव उत्तर प्रदेश गाजीपुर का रहने वाला है। इलाहाबाद में भी इसका मकान है। दोनों जगह सीबीआई ने घर की तलाशी ली है। यहां से सीबीआई ने कुछ संपत्ति के कागजात जप्त किए हैं। सूत्रों ने बताया कि इस संपत्ति की कीमत एक करोड रुपए से अधिक है। इसके अलावा सीबीआई ने इलाहाबाद में राव का एक बैंक लॉकर भी सीज किया है। सीबीआई मामले में आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।