banner

पेटेन्ट एजेंट परीक्षा 2022 के परिणामों की घोषणा

पेटेन्ट एजेंट परीक्षा (पीएई) 2022 के परिणाम आज घोषित कर दिये गये। पीएई-2022 को  कोविड-19 महामारी के कारण चार वर्षों के अंतराल के बाद आठ मई, 2022 को आयोजित किया गया था। चेन्नई, दिल्ली, कोलकाता, मुम्बई और आरजीएनआईआईपीएम, नागपुर में विभिन्न आईपी कार्यालय स्थलों पर आयोजित होने वाली इस परीक्षा में कुल 7718 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया था। त्रिस्तरीय स्क्रीनिंग प्रक्रिया पूरी करने के बाद 1026 अभ्यर्थियों ने पेटेन्ट नियम 2016 के तहत निर्धारित उत्तीर्ण मानदण्डों को पूरा किया और उन्हें ‘उत्तीर्ण’ घोषित किया गया।

पीएई-2022 के परिणाम को https://www.ipindia.gov.in/IPIndiaAdmin/newsdetail.htm?813/ पर देखा जा सकता है।

वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता कार्य, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री श्री पियूष गोयल ने पेटेन्ट एजेंट परीक्षा 2022 में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को शुभकामनायें दीं और रचनात्मक एवं नवोन्मेषी भारत के प्रति उनके संकल्प की सराहना की। नवीन पेटेन्ट एजेंट भारत का भविष्य हैं और बौद्धिक सम्पदा सृजन के जरिये वे भारत के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिये जो प्रयास कर रहे हैं, वह सराहनीय है। उनका यह प्रयास ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ की परिकल्पना को पूरा करेगा।

यह भी पढ़ें :   बीआरओ ने अरुणाचल प्रदेश में नेचिफू सुरंग में विस्फोट को अंतिम रूप देकर सफलता हासिल की

पीईए-2022 में सफल पेटेन्ट एजेंटों को आरजीएनआईआईपीएम, नागपुर में प्रशिक्षण का अवसर मिलेगा। यह संस्थान आईपी-सम्बंधित जागरूकता पैदा करने वाला एक प्रमुख उत्कृष्टता केंद्र है।

मुम्बई स्थित सीजीपीडीटीएम का कार्यालय पेटेन्ट एजेंट परीक्षा का आयोजन करता है। यह परीक्षा पेटेन्ट अधिनियम, 1970 (संशोधनानुसार) की धारा 126 के पेटेन्ट नियम, 2016 (संशोधनानुसार) के नियम 110 के प्रावधानों के तहत होती है। पहला परीक्षा-पत्र एमसीक्यू (100 अंक) आधारित होता है, जबकि दूसरा प्रश्न-पत्र (100 अंक) वस्तुनिष्ठ होता है। दोनों परीक्षा-पत्रों का उद्देश्य पेटेन्ट अधिनियम और नियमों के बारे में अभ्यर्थियों की समझ का आकलन करना होता है।

यह भी पढ़ें :   गुरूवार को देश भर के कलाकार खेलेंगे मनोरंजक खेल हाउजी

पेटेन्ट एजेंट जिज्ञासु मानसिकता वाले होते हैं, जो विस्तृत सामाजिक तकाजों को पूरा करने के लिये नये आविष्कारों में संलग्न रहते हैं। वे पेटेन्ट कार्यालय में आईपी रचनाकार का प्रतिनिधित्व करते हैं और संरक्षण के लिये आविष्कारों को पेटेन्ट कराने की योग्यता को रेखांकित करते हैं। ये एजेंट एक आईपी विशेषज्ञ के तौर पर आविष्कारक का प्रतिनिधित्व करते हैं तथा आविष्कार के आईपी संरक्षण में आविष्कारक की सहायता करते हैं।

***

एमजी/एएम/एकेपी/वाईबी

यह भी देखें :   Bamanwas News : ग्रामीण तलाब को पर्यटन स्थल बनाने के लिए अग्रसर | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें