banner

वित्त वर्ष 2020-21 में 1,55,377 की तुलना में वित्त वर्ष 2021-22 में 1,67,080 कंपनियों का पंजीकरण हुआ

सीमित देयता साझेदारी (एलएलपी) और कंपनियों को एलएलपी अधिनियम, 2008 तथा कंपनी अधिनियम, 2013 के प्रावधानों के अनुसार कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय के तहत निगमित किया गया है। केंद्रीय कॉरपोरेट कार्य राज्य मंत्री श्री राव इंद्रजीत सिंह ने आज लोकसभा में एक प्रश्न के एक लिखित उत्तर में यह बात कही।

श्री राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि पिछले वर्ष की 1,55,377 कंपनियों की तुलना में वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान 1,67,080 कंपनियों का पंजीकरण किया गया। इसके अलावा, पिछले वर्ष की 42,187 की तुलना में वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान 43,050 एलएलपी पंजीकृत किए गए।

यह भी पढ़ें :   सात नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित करने के कार्यक्रम के अवसर पर प्रधानमंत्री के संबोधन का मूल पाठ

राष्ट्रीय वित्तीय रिपोर्टिंग प्राधिकरण (एनएफआरए) के बारे में, उन्‍होंने कहा कि कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय द्वारा गठित कंपनी कानून समिति ने मार्च, 2022 की अपनी रिपोर्ट (अध्याय 1 पैरा 11) में अन्य बातों के साथ-साथ यह सिफारिश की है कि एनएफआरए को उचित ‘पेशेवर या अन्य कदाचार’ के खिलाफ कार्रवाई करने की अपनी मौजूदा शक्तियों के अलावा एनएफआरए नियम, 2018 के तहत अन्य उल्लंघनों के खिलाफ कार्रवाई के लिए भी आवश्यक शक्तियां दी जानी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि रिपोर्ट कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय (www.mca.gov.in) की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें :   पेसा अधिनियम के 25 वर्ष पूरे होने पर एक दिवसीय सम्मेलन का आयोजन

***********

एमजी / एएम / जेके /वाईबी

यह भी देखें :   Gangapur City : करौली की घटना में गिरफ़्तारी की मांग को लेकर बजरंग दल ने दिया ज्ञापन | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें