डीईए ने इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी), मोहाली और भारतीय प्रबंधन संस्थान, कलकत्ता के सहयोग से अवसंरचना क्षेत्र में क्षमता निर्माण पहल के तहत प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया

समस्‍त मंत्रालयों, राज्य सरकारों और देश भर में अवसंरचना कार्यान्‍वयन के विस्तृत परिवेश में संबंधित क्षमता बढ़ाने के लिए क्षमता निर्माण आयोग (सीबीसी) के सहयोग से आर्थिक कार्य विभाग (डीईए) द्वारा तैयार की गई क्षमता संवर्धन योजना (सीईपी) के तहत कई प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। अवसंरचना परियोजनाओं की योजना बनाने, निष्पादन, कार्यान्वयन और निगरानी में शामिल 358 वरिष्ठ अधिकारियों के लिए अब तक बारह प्रशिक्षण कार्यक्रम (ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों ही) आयोजित किए गए हैं।

11 से 15 जुलाई तक 5 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी) के साथ साझेदारी में उसके मोहाली परिसर में ‘परियोजना प्रबंधन और नेतृत्व’ विषय पर आयोजित किया गया था। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में परियोजनाओं की पहचान व चयन, समकालीन साधन एवं तकनीक, अनुबंध का प्रबंधन, प्रदर्शन और बदलाव के लिए नेतृत्व, प्रभावकारी बातचीत के लिए रणनीतियां जैसे क्षेत्रों को शामिल किया गया था और इसमें केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों, सीपीएसई एवं राज्य सरकारों के 34 वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया था।

यह भी पढ़ें :   न्यूज़ऑनएयर रेडियो लाइव-स्ट्रीम की वैश्विक रैंकिंग

 

 

इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी), मोहाली में आयोजित प्रशिक्षण के लिए अनेक प्रतिभागी

 

25 से 29 जुलाई तक एक और 5 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम भारतीय प्रबंधन संस्थान, कलकत्ता (आईआईएम-सी) के साथ साझेदारी में उसके परिसर में ‘परियोजना प्रबंधन में क्षमता निर्माण कार्यक्रम’ विषय पर आयोजित किया गया था। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में परियोजना स्वामित्व मॉडल, जोखिम प्रबंधन, समय निर्धारण, निगरानी व नियंत्रण, मूल्य विश्लेषण, अनुबंध का प्रबंधन, विवाद समाधान जैसे क्षेत्रों को शामिल किया गया था और इसमें केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों, सीपीएसई और राज्य सरकारों के 35 वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया था। 

यह भी पढ़ें :   प्रधानमंत्री का कनाडा के ओंटारियो में सनातन मंदिर सांस्कृतिक केंद्र में संबोधन

 

 

भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम), कलकत्ता में आयोजित प्रशिक्षण के लिए अनेक प्रतिभागी

 

.  .

***

एमजी/एएम/आरआरएस/डीए                                            

यह भी देखें :   Gangapur City : गरीब के घर में भी चोरों ने दिखाई अपनी घिनौनी हरकत, सो रहा गंगापुर प्रशासन

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें