श्री प्रवीण कुमार श्रीवास्तव और श्री. अरविंद कुमार ने आज सतर्कता आयुक्त के रूप में शपथ ग्रहण की

श्री प्रवीण कुमार श्रीवास्तव और श्री अरविंद कुमार ने आज सतर्कता आयुक्त के रूप में शपथ ग्रहण की। केंद्रीय सतर्कता आयुक्त, श्री सुरेश एन पटेल ने केंद्रीय सतर्कता आयोग, सतर्कता भवन, नई दिल्ली के कार्यालय में उन्हें शपथ दिलाई। इन दोनों को माननीय राष्ट्रपति द्वारा 21 जुलाई, 2022 के वारंट द्वारा केंद्रीय सतर्कता आयोग में सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया था।

 

शपथ ग्रहण समारोह में कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग-डीओपीटी के सचिव, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो-सीबीआई के निदेशक, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो के विशेष निदेशक, कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के स्थापना अधिकारी, केंद्रीय सतर्कता आयोग-सीवीसी के सचिव तथा कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के संयुक्त सचिव उपस्थित थे।

श्री प्रवीण कुमार श्रीवास्तव 1988 बैच, असम-मेघालय कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं। भारत सरकार के साथ अपने कार्यकाल के दौरान, उन्होंने वाणिज्य विभाग के निदेशक / उप सचिव के रूप में विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के अंतर्गत सेवाओं में व्यापार से संबंधित बातचीत में सरकार के लिए कार्य किया था। उन्होंने राइट्स लिमिटेड में मुख्य सतर्कता अधिकारी और जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण मिशन (जेएनएनयूआरएम) के संयुक्त सचिव और मिशन निदेशक के रूप में भी कार्य किया।

यह भी पढ़ें :   केंद्रीय मंत्री श्रीमती रेणुका सिंह ने किया भोरमदेव में आम जन संग योगभ्यास

गृह मंत्रालय में विशेष सचिव और अतिरिक्त सचिव के रूप में कार्यकाल के दौरान, श्री प्रवीण कुमार श्रीवास्तव ने भारतीय पुलिस सेवा के कैडर प्रबंधन, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और केंद्र शासित प्रदेशों के कार्मिक तथा सामान्य प्रशासन से संबंधित मामलों की ज़िम्मेदारी संभाली थी। वे 31.01.2022 को सचिव (समन्वय), कैबिनेट सचिवालय, भारत सरकार के पद से सेवानिवृत्त हुए।

श्री अरविंद कुमार असम और मेघालय कैडर के भारतीय पुलिस सेवा-आईपीएस अधिकारी हैं। उन्होंने 30 जून, 2019 से 30 जून, 2022 तक इंटेलिजेंस ब्यूरो के 27 वें निदेशक के रूप में कार्य किया। श्री अरविंद कुमार 1991 में इंटेलिजेंस ब्यूरो में सहायक निदेशक के रूप में शामिल हुए। उन्होंने रूस के मास्को, में भारतीय दूतावास के प्रथम सचिव के रूप में भी काम किया है। अपनी सेवा के दौरान, उन्होंने वीआईपी सुरक्षा, वामपंथी उग्रवाद और जम्मू-कश्मीर सहित राष्ट्रीय सुरक्षा के मामलों में कई महत्वपूर्ण कार्यों को संभाला है।

श्री अरविंद कुमार को वर्ष 2003 में सराहनीय सेवा के लिए प्रतिष्ठित भारतीय पुलिस पदक और वर्ष 2009 में विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़ें :   प्रसार भारती के नये प्रतीक का शुभारंभ

  

केंद्रीय सतर्कता आयोग अधिनियम, 2003, के अंतर्गत केंद्रीय सतर्कता आयोग में एक केंद्रीय सतर्कता आयुक्त और दो सतर्कता आयुक्तों की नियुक्ति का प्रावधान है। सतर्कता आयुक्त का कार्यकाल चार वर्ष या पद ग्रहण करने वाले के 65 वर्ष की आयु प्राप्त करने तक का होता है।

इससे पहले आज, राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति भवन में श्री सुरेश एन पटेल को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के रूप में पद की शपथ दिलाई। श्री सुरेश एन पटेल को 29 अप्रैल 2020 को सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया था और 24 जून, 2021 से केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के रूप में कार्य कर रहे थे।

*****

एमजी/एएम/एमकेएस/वाईबी

यह भी देखें :   Live :बिना मालिक के भैसों का रैला घुसा शहर में ट्राफिक जाम की संभावना ।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें