banner

खेती के लिए उपयोग किए जाने वाले ट्रैक्‍टर्स की टेस्टिंग प्रक्रिया की समय-सीमा में की गई कमी

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्रालय ने खेती के लिए उपयोग किए जाने वाले ट्रैक्‍टर्स की टेस्टिंग प्रक्रिया की समय-सीमा को 9 माह से घटा कर मात्र 75 कार्य दिवस कर दिया है। यह व्‍यवस्‍था देश की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष “आजादी का अमृत महोत्सव” के उपलक्ष्य में कृषि क्षेत्र के लिए बड़ी सौगात है।

भारत में कृषि क्षेत्र में मशीनीकरण को बढ़ावा देने एवं किसानों के लिए उपयुक्‍त ट्रैक्‍टरों की उपलब्‍धता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर के दिशा-निर्देश पर कृषि एवं किसान कल्‍याण विभाग / मंत्रालय द्वारा यह सकारात्मक कदम उठाया गया है। ट्रैक्टर परीक्षण की नई, प्रभावी एवं शीघ्र परीक्षण प्रक्रिया को लागू करने के लिए कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्रालय द्वारा केंद्रीय कृषि मशीनरी प्रशिक्षण एवं परीक्षण संस्‍थान (CFMTTI), बुदनी तथा अन्य संबंधित अधिकारियों को संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं, जो 15 अगस्‍त 2022 से प्रभावी होंगे।

यह भी पढ़ें :   भारत में कोविड-19 के सक्रिय मामले और घटकर 10,26,159 हुए

***

अ. प. श. / प्र. क.

यह भी देखें :   Wazirpur News : डॉ भीमराव अम्बेडकर मूर्ति स्थापन का उद्घाटन करने पहुंचे विधायक G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें