प्रधानमंत्री मोदी की सरकार सुदूर से सुदूरवर्ती क्षेत्रों तक पहुंच रही है और पिछली सरकारों द्वारा ऐसे क्षेत्रों में पिछले छह दशकों से अधिक की लापरवाही की भरपाई करने की पूरी कोशिश कर रही है : केन्द्रीय मंत्री डॉ.. जितेन्द्र सिंह

मोदी सरकार सुदूर से सुदूरवर्ती क्षेत्रों तक पहुंच रही है और पिछली सरकारों द्वारा सुदूरवर्ती  क्षेत्रों में पिछले छह दशकों से अधिक की लापरवाही की भरपाई करने की पूरी कोशिश कर रही है।

यह बात आज केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री एवं पृथ्वी विज्ञान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने जम्मू और कश्मीर में उधमपुर जिले के ऊंचाई वाले दूदू के परिधीय पर्वतीय स्थान पर एक उत्साही जनसभा को संबोधित करते हुए कही है। उन्हें सुनने के लिए आसपास के गांवों से बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे।

इस जनसभा में संबोधन से पहले मंत्री महोदय ने कमांड अस्पताल उधमपुर के माध्यम से भारतीय सेना द्वारा आयोजित एक मेगा मल्टी स्पेशलिटी चिकित्सा शिविर (मेडिकल कैंप) का उद्घाटन किया। इस शिविर में भेषज, बालरोग , नाक-कान-गला, नेत्र चिकित्सा, स्त्री रोग, त्वचा रोग (मेडिसिन, पीडियाट्रिक्स, ईएनटी, ऑप्थल्मोलॉजी, गायनेकोलॉजी, डर्मेटोलॉजी) आदि सहित विभिन्न चिकित्सा श्रेणियों के विशेषज्ञ डॉ.क्टरों ने आसपास के सभी गांवों से बड़ी संख्या में आए रोगियों की देखभाल की। डॉ. जितेंद्र सिंह ने भारतीय सेना और मेजर जनरल डॉ. दाश के नेतृत्व वाली चिकित्सा टीम को उन लोगों को स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया, जो वास्तव में जरूरतमंद थे लेकिन कभी-कभी उनका इन सुविधाओं को प्राप्त करना कठिन हो जाता था।

 जनसभा को संबोधित करते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि दूदू और ऐसे अन्य पर्वतीय क्षेत्र पहाड़ के अद्भुत सौन्दर्य और पहाड़ी संसाधनों से संपन्न हैं। उन्होंने कहा, प्रकृति ने इन क्षेत्रों को  मुक्तहस्त से संसाधन दिए हैं लेकिन यहाँ के निवासियों को अपनी चुनी हुई पिछली सरकारों से न्याय नहीं मिला क्योंकि ये लोग उनकी वोट बैंक की राजनीति की परिधि में नहीं आते थे।

यह भी पढ़ें :   ‘द राजस्थान स्टेट शिड्यूल कास्ट एण्ड शिड्यूल ट्राईब्स डवलपमैंट फण्ड’ के प्रारूप पर 31 जनवरी तक सुझाव आमंत्रित

उन्होंने उधमपुर जिले का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्व में पिछले आठ साल का विकास पिछले कई दशकों के विकास से कहीं ज्यादा है। उन्होंने बताया कि पिछले तीन वर्षों से उधमपुर केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के अंतर्गत सड़क परियोजनाओं के कार्यान्वयन में देश के शीर्ष जिले के रूप में उभर रहा है। इसी तरह से इस क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण नए राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माणाधीन हैं जिनमें सुधमहादेव – मरमत – गोहा – खेलानी राष्ट्रीय राजमार्ग और लखनपुर- बानी –भद्रवाह -डोडा राजमार्ग शामिल हैं। उन्होंने कहा कि महत्वपूर्ण चटर्जला सुरंग के 4,000 करोड़ रुपये से अधिक के भारी बजट होने के कारण दूसरे राजमार्ग के निर्माण में में देरी हुई है लेकिन अब इस कार्य को भारतमाला योजना के अंतर्गत लिया जाएगा।

पास के ही मानतलाई का उल्लेख करते हुए, डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा, केंद्रीय वित्त पोषण के माध्यम से अब बाहर से आने वाले लोगों के लिए एक हेलीपैड के साथ एक अत्याधुनिक वेलनेस सेंटर बहुत जल्द तैयार हो जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने इस परियोजना की परवाह ही नहीं की और यह अभी जर्जर अवस्था में है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के सत्ता संभालने के बाद अब इस मुद्दे को केंद्र सरकार के संज्ञान में लाया गया है और परियोजना शुरू की गई है। 

यह भी पढ़ें :   खेल मंत्री श्री अनुराग सिंह ठाकुर द्वारा अब तक के सबसे बड़े 54 सदस्यीय भारतीय दल को टोक्यो-2020 पैरालंपिक खेलों के लिए वर्चुअल माध्यम से औपचारिक विदाई दी गई

 

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि उधमपुर संभवतः देश का एकमात्र ऐसा लोकसभा क्षेत्र है जिसे हाल के वर्षों में केंद्र द्वारा वित्त पोषित तीन मेडिकल कॉलेज मिले हैं। इसके अलावा यहाँ महत्वपूर्ण परियोजनाओं की एक श्रृंखला भी है और इस पहाड़ी क्षेत्र तथा उसके आसपास के लिए केन्द्रीय  विद्यालय की स्थापना की गई है।

जन सभा के बाद प्रखंड विकास समिति (बीडीसी), जिला विकास समितियों (डीडीसीएस) के प्रतिनिधि,  सरपंचो और पंचों सहित बड़ी संख्या में स्थानीय निकायों के प्रतिनिधियों ने डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाक़ात की। मंत्री महोदय ने उन्हें आश्वासन दिया कि वे स्वयं और उनका कार्यालय हमेशा उनके संपर्क में हैं और जब भी आवश्यकता होगी वे लोग उनसे संपर्क करने के लिए स्वतंत्र हैं। उन्होंने वन विभाग की मंजूरी आदि से संबंधित कुछ ऐसे मुद्दों को हल करने के लिए नागरिक प्रशासन को मौके पर निर्देश भी जारी किए जिनसे केंद्रीय सड़क परियोजनाओं आदि के निर्माण में देरी हो रही थी।

 

*****

 

एमजी / एएम / एसटी

यह भी देखें :   Gangapur City : देखिये अंधेर नगरी का विकास कार्य, नरक में रह रहे लोग, प्रशासन लापरवाह

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें