banner

उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास, पर्यटन और संस्कृति मंत्री श्री जी. किशन रेड्डी की आज बांग्लादेश की प्रधानमंत्री महामहिम शेख हसीना से भेंट तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के सम्मेलन को सम्बोधन

उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास, पर्यटन और संस्कृति मंत्री श्री जी. किशन रेड्डी ने आज बांग्लादेश की प्रधानमंत्री महामहिम शेख हसीना से मुलाकात की। उन्होंने बांग्लादेश और भारत के पूर्वोत्तर राज्यों के बीच सहयोग बढ़ाने के लिये विभिन्न संभावनायें पेश कीं। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर राज्यों के साथ बेहतर कारोबारी रिश्ते दोनों देशों में समृद्धि और अवसर लेकर आयेंगे।

मंत्री महोदय ने महामहिम का ध्यान इस तरफ भी आकर्षित किया कि सीमावर्ती हाटों, एकीकृत जांच चौकियों और भूमि सीमा शुल्क स्टेशनों की स्थापना और उन्हें मजबूत बनाने जैसे विभिन्न उपायों के जरिये सीमा व्यापार को बढ़ाने की आवश्यकता है

श्री किशन रेड्डी ने प्रधानमंत्री श्रीमती शेख हसीना से बांग्लादेश और उत्तर पूर्वी राज्यों के बीच बहुविध संपर्कता बढ़ाने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि इससे विभिन्न सेक्टरों में सहयोग और आपसी समृद्धि तथा विकास का मार्ग प्रशस्त होगा।

यह भी पढ़ें :   कुसुम ए योजना की अवधि 28 फरवरी तक बढ़ाई, बिना कोलेटरल सिक्योरिटी के बैंकों से मिलेगा ऋण - ऊर्जामंत्री

श्री रेड्डी ने प्रधानमंत्री श्रीमती शेख हसीना के साथ ऊर्जा, कृषि, पर्यटन आदि जैसे विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग की चर्चा की। उन्होंने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि इस विषय पर आगे विचार किया जाये।

तदुपरान्त, श्री किशन रेड्डी ने महामहिम प्रधानमंत्री शेख हसीना की उपस्थिति में दोनों देशों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों और व्यापार जगत के दिग्गजों के सम्मेलन को सम्बोधित भी किया।

श्री रेड्डी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार उत्तर पूर्वी क्षेत्र के विकास पर अभूतपूर्व ध्यान दे रही है, जिसकी बदौलत वहां निवेश के लिये अच्छा माहौल तैयार हो गया है। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश और भारत के बीच संपर्कता हमारे बहु-आयामी सम्बंधों की महत्ता बताते हैं।

श्री रेड्डी ने कहा कि अवकाश पर्यटन, मेडिकल पर्यटन, शिक्षा और सांस्कृतिक आदान-प्रदान की अपार क्षमताओं की चर्चा की, जो बांग्लादेश और उत्तर पूर्वी राज्यों के बीच रिश्तों को अधिक प्रगाढ़ बना सकते हैं

यह भी पढ़ें :   उपराष्ट्रपति ने टीकाकरण को जन-आंदोलन बनाने के लिए मेडिकल समाज से कोविड-19 की सुरक्षा पर लोगों को शिक्षित करने का आग्रह किया

उन्होंने व्यापार जगत के दिग्गजों का आह्वान किया कि वे विभिन्न सेक्टरों में मौजूद उत्तर पूर्वी राज्यों की अप्रयुक्त क्षमताओं की पड़ताल करें। उन्होंने निवेशकों और व्यापार जगत के दिग्गजों को आमंत्रित किया तथा यह आश्वासन दिया कि भारत सरकार उन्हें पूरा समर्थन देगी।

मंत्री महोदय ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और प्रधानमंत्री श्रीमती शेख हसीना के दूरदर्शी नेतृत्व में भारत-बांग्लादेश सम्बंध सुनहरे युग में पहुंच गये हैं।

 

*******

 

एमजी/एएम/एकेपी

यह भी देखें :   REET Exam : रोडवेज बस स्टैंड पर परीक्षार्थियों का ताँता, भर – भर की जा रही बसें

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें