श्री पीयूष गोयल की सऊदी अरब की सार्थक यात्रा का समापन

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री श्री पीयूष गोयल ने भारत-सऊदी अरब रणनीतिक साझेदारी परिषद की मंत्रिस्तरीय बैठक में भाग लेने के लिए 18 से 19 सितंबर 2022 तक सऊदी अरब का दौरा किया। श्री गोयल, सऊदी के ऊर्जा मंत्री और महामहिम प्रिंस अब्दुलअज़ीज़ बिन सलमान अल-सऊद ने भारत-सऊदी अरब रणनीतिक साझेदारी परिषद की अर्थव्यवस्था और निवेश समिति की मंत्रिस्तरीय बैठक की सह-अध्यक्षता की।

इस रणनीतिक साझेदारी परिषद की स्थापना अक्टूबर, 2019 में भारत के प्रधानमंत्री की सऊदी अरब की यात्रा के दौरान की गई थी और इसके दो मुख्य स्तंभ हैं – राजनीतिक, सुरक्षा, सामाजिक और सांस्कृतिक समिति तथा अर्थव्यवस्था एवं निवेश पर समिति।

इस मंत्रिस्तरीय बैठक के उल्लेखनीय नतीजे इस प्रकार रहे हैं:

यात्रा के दौरान माननीय मंत्री ने सऊदी अरब के वाणिज्य मंत्री डॉ. माजिद बिन अब्दुल्ला अल-कसाबी से मुलाकात की और द्विपक्षीय व्यापार, वाणिज्य तथा निवेश संबंधों के सभी पहलुओं पर व्यापक चर्चा की।

चर्चा में कुछ और प्रमुख बिंदु थे – व्यापार व वाणिज्य का विविधीकरण और विस्तार। व्यापार बाधाओं को दूर करना, जिनमें स्वच्छता और फाइटोसैनिटरी उपायों तथा व्यापार उपायों से जुड़े लंबित मुद्दे शामिल हैं। सऊदी अरब में भारतीय फार्मा उत्पादों का ऑटोमैटिक पंजीकरण और मार्केटिंग प्राधिकरण। रुपया-रियाल व्यापार को संस्थागत करने की व्यवहार्यता। सऊदी अरब में यूपीआई और रुपे कार्ड का आगाज़।

मंत्री महोदय ने बैठक के बाद अपनी ट्वीट में कहा, “सऊदी अरब के वाणिज्य मंत्री डॉ. माजिद बिन अब्दुल्ला अल-कसाबी के साथ उपयोगी बैठक हुई। इसमें भारत और सऊदी अरब के बीच आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देने के लिए ज्यादा निवेश आकर्षित करने और द्विपक्षीय व्यापार में विविधता लाने के तरीकों पर चर्चा की गई।”

Strengthening India-Saudi ties🇮🇳🤝🇸🇦Had a fruitful meeting with H.E. @malkassabi, Minister of Commerce, KSA.Discussed ways to attract greater investment & further diversify bilateral trade to boost economic ties between India & Saudi Arabia. pic.twitter.com/7sxX3vi0jm

यह भी पढ़ें :   केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री ने लिंग आधारित हिंसा का सामना करने वाली महिलाओं की सहायता के लिए तेलंगाना को और अधिक 'वन स्टॉप सेंटर' देने का आश्वासन दिया

माननीय मंत्री ने रॉयल कमीशन ऑफ ज़ुबैल और यानबू के अध्यक्ष श्री खालिद अल-सलेम, सऊदी एक्ज़िम बैंक के सीईओ श्री साद अल-खल्ब और सऊदी अरब के उद्योग मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से भी मुलाकात की।

इस दौरान दोनों देशों के एक्जिम बैंकों के संस्थागत गठजोड़, तीसरे देशों में संयुक्त परियोजनाओं, मानकों की पारस्परिक मान्यता, स्टार्टअप और इनोवेशन ब्रिज की स्थापना, इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास में सहयोग को मजबूत करने जैसे विषयों पर चर्चा हुई। खासकर दवा, ऑटोमोबाइल, पेट्रोकेमिकल्स, स्पेशलिटी केमिकल्स, टेक्निकल टेक्सटाइल्स, खनन और भारत से बढ़ते प्रोजेक्ट निर्यातों में निर्माण, रेलवे, औद्योगिक और विनिर्माण सहयोग के क्षेत्र।

श्री गोयल ने श्री खालिद अल-सलेम के साथ अपनी बैठक को लेकर ट्वीट किया, “रॉयल कमीशन ऑफ ज़ुबैल और यानबू के अध्यक्ष श्री खालिद अल-सलेम के साथ एक सार्थक बैठक हुई। दोनों देशों के बीच आर्थिक सहयोग को और मजबूत करने के लिए पारस्परिक रूप से लाभकारी अवसरों की पहचान की गई।”

इस यात्रा के दौरान माननीय मंत्री ने सऊदी अरब के प्रमुख कारोबारियों के साथ एक सीईओ राउंडटेबल बैठक में भी भाग लिया। इसमें भारत से बढ़ते निर्यात को प्रोत्साहित करने, भारत में आने वाले निवेश को सुविधाजनक बनाने, द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों को गहरा और व्यापक बनाने के नवीन तरीकों तथा साधनों पर ध्यान केंद्रित किया गया।

यहां हुई वार्ता के बारे में उन्होंने ट्वीट किया, “सऊदी अरब में विभिन्न क्षेत्रों की कंपनियों के सीईओ के साथ समृद्ध बातचीत हुई। दोनों देशों के बीच व्यापार और निवेश संबंधों को और मजबूत करने के प्रति उनके उत्साह को देखकर प्रसन्नता हुई।”

यह भी पढ़ें :   राष्ट्रपति 19 से 22 फरवरी तक ओडिशा और आंध्र प्रदेश के दौरे पर रहेंगे

Had an enriching interaction with CEOs of companies from different sectors in Saudi Arabia. Delighted to see their enthusiasm towards further strengthening trade & investment linkages between the two countries. 🇮🇳 🇸🇦 pic.twitter.com/GOARBQCiYP

श्री गोयल ने सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री प्रिंस अब्दुलअज़ीज़ बिन सलमान अल सऊद के साथ भी बातचीत की।

इस बैठक के बारे में उन्होंने ट्वीट किया, “हमने चर्चा की कि जलवायु परिवर्तन की संवेदनशीलता के साथ ऊर्जा सुरक्षा कैसे आर्थिक विकास और समृद्धि प्रदान कर सकती है। हमारे दोनों देशों के बीच अक्षय ऊर्जा में मजबूत साझेदारी पर भी विचार-विमर्श किया गया।”

Met HRH Prince Abdulaziz bin Salman Al Saud, Minister of Energy, Saudi Arabia.Discussed how energy security with climate change sensitivity can deliver economic growth & prosperity. Deliberated on stronger partnership in renewable energy between our two countries. 🇮🇳🤝🇸🇦 pic.twitter.com/E7W85uZKuf

श्री गोयल ने रियाद में भारतीय दूतावास के प्रयासों के तहत रियाद में “द इंडिया वीक” का भी उद्घाटन किया। खासकर बाजरा जैसे खाद्य उत्पादों और कपड़ा आदि को सेलिब्रेट करने के लिए।

मंत्री महोदय ने ट्वीट किया, “ब्रांड इंडिया सऊदी अरब में चमक रहा है!”

Brand India shining bright in Saudi Arabia! pic.twitter.com/A7YINeswgg

 

अपने दौरे पर मंत्री महोदय के साथ एक प्रतिनिधिमंडल भी था जिसमें कृषि, वाणिज्य, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालयों और नीति आयोग के अतिरिक्त सचिवों और संयुक्त सचिवों के स्तर के अधिकारी शामिल थे।

****

एमजी/एएम/जीबी/वाईबी

यह भी देखें :   Gangapur City : डॉ अर्चना शर्मा को न्याय दिलाने के लिए निकाली केंडल मार्च | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें