banner

एआईबीडी ने सर्वसम्मति से भारत की अध्यक्षता को एक और वर्ष के लिए बढ़ाया

प्रतिष्ठित एशिया-प्रशांत प्रसारण विकास संस्थान (एआईबीडी) में भारत  की अध्यक्षता को एक वर्ष के लिए और बढ़ा दिया गया है। नई दिल्ली में आयोजित संस्थान के दो दिवसीय आम सम्मेलन में एआईबीडी सदस्य देशों द्वारा सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया। वर्तमान में, प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और दूरदर्शन के महानिदेशक मयंक कुमार अग्रवाल, एआईबीडी के अध्यक्ष हैं।

सम्मेलन का उद्घाटन केंद्रीय सूचना और प्रसारण, युवा मामले और खेल मंत्री श्री. अनुराग सिंह ठाकुर ने किया था। इस अवसर पर सूचना और प्रसारण, मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी राज्य मंत्री डॉ एल मुरुगन और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्व चंद्रा भी उपस्थित थे।

यूनेस्को के तत्वावधान में 1977 में स्थापित एशिया-प्रशांत प्रसारण विकास संस्थान (एआईबीडी), एशिया और प्रशांत के लिए इलेक्ट्रॉनिक मीडिया विकास के क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक आयोग (यूएन-ईएससीएपी) के देशों की सेवा करने वाला एक विशिष्ट क्षेत्रीय अंतर-सरकारी संगठन है। एआईबीडी नीति और संसाधन विकास के माध्यम से एशिया-प्रशांत क्षेत्र में एक जीवंत और सामजस्यपूर्ण इलेक्ट्रॉनिक मीडिया वातावरण बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

यह भी पढ़ें :   श्री सुभाष सरकार ने एनआईटी दिल्ली के तीसरे दीक्षांत समारोह को संबोधित किया

एआईबीडी के वर्तमान में 26 पूर्ण सदस्य (देश) हैं जिसमें 43 संगठनों का प्रतिनिधित्व है, और 50 संबद्ध सदस्य (संगठन) हैं। 19-20 सितंबर 2022 को नई दिल्ली में आयोजित 47वीं एआईबीडी वार्षिक सभा/20वां एआईबीडी आम सम्मेलन और संबद्ध बैठकों में कई तरह की चर्चाएं, प्रस्तुतियां और विचार आदान-प्रदान सत्रों का आयोजन किया गया जिसमें विशेष रूप से “महामारी के बाद के युग में प्रसारण के एक मजबूत भविष्य का निर्माण” विषय पर ध्यान केंद्रित किया गया। सहकारी गतिविधियों और विनिमय कार्यक्रमों के लिए एक पंचवर्षीय योजना को भी निश्चित किया गया।

यह भी पढ़ें :   कश्मीर में सेब महोत्सव का केंद्रीय कृषि मंत्री श्री तोमर व उप राज्यपाल श्री सिन्हा ने किया शुभारंभ

सभी भागीदार देशों और सदस्य प्रसारकों ने एक स्थायी प्रसारण वातावरण, नवीनतम प्रौद्योगिकी जानकारी, उच्चतम विषयवस्तु निर्माण, विभिन्न सहकारी गतिविधियों के लिए संयुक्त रूप से कार्य करने का संकल्प लिया।

 

***

 

एमजी/एएम/एसएस

 

यह भी देखें :   Karauli : व्यापारी गणेश गुप्ता हत्या काण्ड का पर्दाफाश  | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें