स्वास्थ्य क्षेत्र में सहयोग के लिए एनएसआईसी और आंध्र प्रदेश मेडटेक जोन लिमिटेड के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

केन्द्रीय सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्री श्री नारायण राणे ने भारत सरकार के एमएसएमई मंत्रालय के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम, राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड (एनएसआईसी) और आंध्र प्रदेश मेडटेक ज़ोन लिमिटेड (एएमटीजेड) के बीच स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में सहयोग के संबंध में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत की। इस अवसर पर एमएसएमई के सचिव श्री बी. बी. स्वैन और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

 

समझौता ज्ञापन पर एनएसआईसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री गौरांग दीक्षित तथा एएमटीजेड के प्रबंध निदेशक और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी डॉ. जितेंद्र शर्मा ने हस्ताक्षर किए।

यह भी पढ़ें :   सेना प्रमुख ने लद्दाख का दौरा किया

 

इस अवसर पर श्री नारायण राणे ने कहा कि एनएसआईसी और एएमटीजेड के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर स्वास्थ्य क्षेत्र में सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यमों (एमएसएमई) की प्रतिस्पर्धा संबंधी क्षमता बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम होगा। उन्होंने यह भी कहा कि दोनों संगठन अपनी विशेषज्ञता का लाभ उठा सकते हैं और एमएसएमई के लिए स्वास्थ्य क्षेत्र में वैश्विक गठबंधन बनाने और इस क्षेत्र के लिए कुशल जनशक्ति तैयार करने के साथ-साथ नवीनतम चिकित्सा तकनीकों तक पहुंच प्राप्त करने के लिए उत्कृष्ट अवसर पैदा कर सकते हैं। मंत्री ने एनएसआईसी और एएमटीजेड को समझौता ज्ञापन के अनुसार कार्रवाई करने और भारत को चिकित्सा उपकरण/स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में एक वैश्विक निर्माता और निर्यातक बनाने के लिए शुभकामनाएं दीं।

यह भी पढ़ें :   श्री सर्बानंद सोनोवाल ने मिजोरम में प्रमुख स्वास्थ्य क्षेत्र को प्रोत्साहन देने की घोषणा की, छह आयुष अस्पतालों का शिलान्यास किया

***

एमजी/एएम/एसएम/जीआरएस

यह भी देखें :   Gangapur City : शव लेने पहुंचे मृत लड़के के परिजन | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें