banner

स्टार्टअप इंडिया ने मार्ग पोर्टल के लिए स्टार्टअप आवेदन लॉन्‍च किया

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के तहत उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) ने स्टार्टअप इंडिया द्वारा नेशनल मेंटरशिप प्लेटफॉर्म, मार्ग पोर्टल पर पंजीकरण के लिए स्टार्टअप आवेदनों के लिए एक कॉल लॉन्‍च किया है।

भारतीय स्टार्टअप इकोसिस्टम, जो वर्तमान में वैश्विक रूप से तीसरे स्थान पर है, को और बढ़ावा देने के लिए स्टार्टअप इंडिया का ध्यान स्टार्टअप संस्कृति को उत्प्रेरित करने तथा भारत में नवोन्मेषण एवं उद्यमशीलता के लिए एक मजबूत और समावेशी इकोसिस्टम का निर्माण करने पर केंद्रित है। इस संदर्भ में एमएएआरजी (मार्ग) पोर्टल -मेंटरशिप, एडवायजरी, असिस्टैंस, रेजीलिएंस तथा ग्रोथ- विभिन्न सेक्टरों, समारोहों, चरणों, भौगोलिक क्षेत्र और पृष्ठभूमियों में स्टार्टअप्स के लिए संरक्षण की सुविधा प्रदान करने के लिए एक वन स्टॉप प्लेटफॉर्म है। मार्ग पोर्टल के उद्देश्य निम्नलिखित हैं –

स्टार्टअप्स अब विकास और कार्यनीति पर व्यक्तिगत मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए कृत्रिम आसूचना (एआई) आधारित मैचमेकिंग के माध्यम से प्रभावी तरीके से विश्व भर के अन्य शिक्षाविदों, उद्योग विशेषज्ञ, सफल संस्थापकों, अनुभवी निवेशकों और अन्य विशेषज्ञों के साथ प्रभावी तरीके से जुड़ सकते हैं।

यह भी पढ़ें :   प्रधानमंत्री ने भारतीय हॉकी टीम के प्रत्‍येक खिलाड़ी की सराहना की

पोर्टल की मुख्य विशेषताओं में इकोसिस्टम सक्षमकर्ताओं के लिए कस्टमाइजेबल मेंटरशिप प्रोग्राम, मोबाइल फ्रेंडली यूजर इंटरफेस, योगदान देने वाले संरक्षकों को सम्मान, वीडियो एवं ऑडियो कॉल ऑप्शन, आदि शामिल हैं।

मार्ग पोर्टल का प्रचालन तीन चरणों में किया जा रहा है

1.     पहला चरण: मेंटर ऑनबोर्डिंग

सफलतापूर्वक लॉन्‍च तथा निष्पादित किया गया, 400 से अधिक विशेषज्ञ संरक्षक सभी सेक्टरों में शामिल हैं 

2- दूसरा चरण: स्टार्टअप ऑनबोर्डिंग

डीपीआईआईटी 14 नवंबर 2022 से मार्ग पोर्टल पर स्टार्टअप्स की ऑनबोर्डिंग लॉन्‍च कर रहा है।

3- तीसरा चरण: मार्ग पोर्टल लॉन्‍च एवं मेंटर मैचमेकिंग

अंतिम लॉन्‍च जहां संरक्षकों को स्टार्टअप्स के साथ मैच किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :   पूर्वी दिल्ली के न्यू जाफराबाद में विकेन्द्रीकृत अपशिष्ट प्रबंधन प्रौद्योगिकी पार्क का उद्घाटन

डीपीआईआईटी ने दूसरे चरण के तहत स्टार्टअप्स की ऑनबोर्डिंग प्रक्रिया आरंभ की है। सभी इच्छुक स्टार्टअप्स को https://maarg.startupindia.gov.in पर आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

नवोन्मेषण किसी राष्ट्र के लिए विकास के अपरिहार्य वाहक होते हैं और केवल भारत में ही 82,000 से अधिक और डीपीआईआईटी मान्यता प्राप्त स्टार्टअप्स तथा 107 से अधिक यूनिकॉर्न हैं। उद्यमशीलता हमरे महान राष्ट्र की आर्थिक संपदा तथा समृद्धि की नींव है और हम तेजी से रोजगार चाहने वाले देश से बदल कर रोजगार सृजन करने वाले राष्ट्र के रूप में रूपांतरित हो रहे हैं।

****

एमजी/एएम/एसकेजे/एसएस  

यह भी देखें :   Live :अतिक्रमण का हाल।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें