banner

श्री नितिन गडकरी ने तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के लिए 573.13 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को स्वीकृति प्रदान की

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने तेलंगाना के मुलुगु जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग-163 के हैदराबाद-भूपालपट्टनम खंड से मौजूदा 2 लेन की सड़क को छोटे वाहनों के आवागमन के लिए आवश्यक स्थान के साथ-साथ 2 लेन में चौड़ा करने को मंजूरी दे दी है। श्री नितिन गडकरी ने ट्वीट्स की एक श्रृंखला में यह जानकारी दी कि इस परियोजना पर कुल 136.22 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। उन्होंने कहा कि यह परियोजना खंड प्रमुख पर्यटन स्थलों जैसे लकनावरम झील और बोगोथा झरने को आपस में जोड़ता है। इस खंड के निर्माण कार्य से तेलंगाना और छत्तीसगढ़ के बीच अंतरराज्यीय संपर्क में सुधार होगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुलुगु जिला वाम उग्रवाद (एलडब्ल्यूई) से प्रभावित एक जिला है और इस खंड के विकास से सरकार को वामपंथी उग्रवाद गतिविधियों पर नियंत्रण रखने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें :   एनएमडीसी ने पहली तिमाही के नतीजे घोषित किए

श्री गडकरी ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग-167के पर छोटे वाहनों के आवागमन के लिए आवश्यक स्थान के साथ-साथ 2/4 लेन के पुनर्सुधार और उन्नयन कार्य को ईपीसी मोड पर 436.91 करोड़ रुपये की कुल लागत से मंजूरी दी गई है। इस परियोजना में तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में नागरकुर्नूल जिले में कृष्णा नदी पर प्रतिष्ठित पुल के साथ संपर्क मार्ग भी शामिल है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग-167के हैदराबाद/कलवाकुर्थी और तिरुपति, नंद्याला/चेन्नई जैसे महत्वपूर्ण स्थानों के बीच की दूरी को लगभग 80 किलोमीटर कम कर देगा, क्योंकि वर्तमान में राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर चलने वाला यातायात इस परियोजना के पूरा होने के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग-167के पर स्थानांतरित हो जाएगा। उन्होंने कहा कि नंद्याला कृषि उत्पादों और वन उत्पादों के लिए एक महत्वपूर्ण व्यापारिक केंद्र है क्योंकि यह नल्लामाला वन के निकट है। श्री गडकरी ने कहा कि कोल्लापुर में स्वीकृत किया गया पुल दोनों राज्यों के लिए प्रवेश द्वार सिद्ध होगा और यह पर्यटन को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

यह भी पढ़ें :   रेल विद्युतीकरण की दिशा में जबरदस्‍त प्रोत्‍साहन

 

**********

एमजी/एएम/एनके/डीवी

यह भी देखें :   Live : IAS कुंजीलाल मीणा व उनके परिवार ने किया नुक्ता प्रथा को बंद – रामसिंहपुरा

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें