banner

भारत के उपराष्ट्रपति श्री जगदीप धनखड़ यूनेस्को इंडिया अफ्रीका हैकथॉन के समापन सत्र को संबोधित करेंगे

भारत के उपराष्ट्रपति, श्री जगदीप धनखड़ कल प्रातः 11 बजे गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश में मुख्य अतिथि के रूप में संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक तथा सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को– यूएनईएससीओ) भारत (इंडिया) – अफ्रीका हैकथॉन के समापन सत्र को संबोधित करेंगे। केंद्रीय शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान; उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल; उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ; यूनेस्को के सहायक महानिदेशक (पैक्स), श्री फ़िरमिन एडुआर्ड माटोको और 13 अफ्रीकी देशों के मंत्री की गरिमामयी उपस्थिति इस अवसर पर रहेगी।

यूनेस्को इंडिया अफ्रीका हैकथॉन का उद्घाटन 22 नवंबर, 2022 को एक भव्य उद्घाटन समारोह के साथ गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में किया गया था। यूनेस्को इंडिया-अफ्रीका हैकाथॉन एक वार्षिक 36 घंटे का कार्यक्रम है जो छात्रों, शिक्षकों, अध्‍यापकों और भारत के अनुसंधान समुदाय और अपने अफ़्रीकी साझेदारों को इसके एक मंच पर साथ लाता है जो अपने देशों के सामने आने वाली आम चुनौतियों से निपटने के लिए तथा सांस्कृतिक समामेलन हेतु एक सूत्रधार के रूप में कार्य करते हैं।

यह भी पढ़ें :   सीएसआईआर-भारतीय पेट्रोलियम संस्थान द्वारा 26-27 अगस्त, 2022 के दौरान “शेपिंग द एनर्जी फ्यूचर: चैलेंजेज एंड ऑपर्चुनिटी" (एसईएफसीओ) पर छठे राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

यूनेस्को इंडिया -अफ्रीका हैकथॉन युवा नवप्रवर्तकों को एक साथ आने और सहयोगी देशों द्वारा अनुभव की जाने वाली सामाजिक, पर्यावरणीय और तकनीकी समस्याओं का समाधान खोजने के लिए एक उपयुक्त मंच प्रदान करता है। यह विश्व को बदलने की क्षमता वाले संभावित स्टार्ट-अप्स तैयार करने की नींव के रूप में कार्य करता है। साथ ही यह इसमें भाग लेने वाले छात्रों को उनकी रचनात्मकता को उजागर करने और विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में वास्तविक दुनिया की समस्याओं को हल करने के लिए नई तकनीकों का पता लगाने की अनुमति देता है और इस प्रकार, आधुनिक विश्व में व्यावसायिक नवाचार की अगुवाई करता है।

यह भी पढ़ें :   केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री, श्री अमित शाह ने आज गुजरात के केवड़िया में ‘न्यायालयिक विज्ञान क्षमताएं: समयबद्ध और वैज्ञानिक जांच के लिए सुदृढ़ीकरण’ विषय पर गृह मंत्रालय की परामर्शदात्री समिति की बैठक की अध्यक्षता की

हैकथॉन भारत और उसके अफ्रीकी समकक्षों द्वारा पोषित घनिष्ठ संबंधों के प्रतीक के रूप में भी कार्य करता है और यह ऐसे सहयोग की भावना का प्रतीक है जो मानव जाति की भलाई के लिए समस्याओं को हल करने के लिए उन्हें एक साथ लाता है।

***

एमजी/एएम/एसटी/एसएस

यह भी देखें :   Gangapur City : बिजली कर्मचारियों से मारपीट के विरोध में बिजली विभाग के कर्मचारियों ने दिया ज्ञापन |

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें