मॉडर्ना के लिए करना पड़ सकता है इंतजार, हानि से सुरक्षा की शर्त पर अटका है मामला

मॉडर्ना के लिए करना पड़ सकता है इंतजार, हानि से सुरक्षा की शर्त पर अटका है मामला

देश में मॉडर्ना वैक्सीन की बाट जोह रहे लोगों को अभी और इंतजार करना पड़ सकता है। इस वैक्सीन को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) द्वारा पिछले महीने ही देश में आपातकालीन उपयोग के लिए हरी झंडी मिल चुकी है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक कंपनी हानि से सुरक्षा देने की मांग पर अड़ी हुई है। मंगलवार को  नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी के पॉल ने बताया कि मॉडर्ना कंपनी से बातचीत चल रही है। कंपनी को कई बार बुलाया जा रहा है लेकिन उनकी तरफ से गंभीरता नहीं दिखाई दे रही है। हालांकि बातचीत का दौर जारी है। उम्मीद है कि जल्दी ही बातों का कुछ नतीजा निकलेगा।
बताते चलें कि देश में दो स्वदेशी कोविशील्ड, कोवैक्सिन और रूस की स्पुतनिक-वी वैक्सीन को प्रयोग में लाया जा रहा है। हाल ही में, डीसीजीआई ने मुंबई स्थित दवा कंपनी सिप्ला को देश में आपातकालीन उपयोग के लिए मॉडर्ना की वैक्सीन को आयात करने की अनुमति दी थी।

यह भी पढ़ें :   केंद्रीय मंत्रिमंडल ने होल्डिंग/मूल सार्वजनिक उपक्रमों के निदेशक मंडल को विनिवेश/अपनी सहायक कंपनियों/इकाइयों को बंद करने/संयुक्त उद्यमों में हिस्सेदारी की सिफारिश करने और वैकल्पिक तंत्र को अतिरिक्त अधिकार सौंपने के लिए प्रक्रिया शुरू करने का अधिकार प्रदान किया

 

यह भी देखें :   Gangapur City : श्री श्याम बाबा मंदिर निर्माण का महोत्स्व G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें