fbpx
मंगलवार , सितम्बर 21 2021
Breaking News
Phone Panchayat

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय पिछले 75 वर्षों से इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र से जुड़े टेक चैंपियंस को उनके योगदान के लिए सम्मानित करेगा

आजादी का अमृत महोत्सव समारोह के हिस्से के रूप में, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री श्री राजीव चंद्रशेखर ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) के क्षेत्र में वैज्ञानिकों/प्रौद्योगिकीविदों द्वारा किए गए उत्कृष्ट योगदान का सम्मान करने के लिए एक कार्यक्रम का शुभारंभ किया। पहल के तहतइलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) ने उन वैज्ञानिकों/प्रौद्योगिकीविदों से नामांकन आमंत्रित किए हैं, जिन्होंने पिछले 75 वर्षों में इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान दिया है। देश भर के लोग वेब पोर्टल www.innovateindia.mygov.in पर नामांकन जमा कर सकते हैं।

श्री चंद्रशेखर ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी के दृष्टिकोण का उल्लेख किया जो इस देश के युवाओं में वैज्ञानिक सोच को बढ़ावा देने में दृढ़ विश्वास रखते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने भारत को आत्मनिर्भर भारत में बदलने का स्पष्ट आह्वान किया है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए ज्ञान और नवाचार का एक मजबूत इको सिस्‍टम अनिवार्य है और यही प्रधानमंत्री का दृष्टिकोण है।

श्री चंद्रशेखर ने उल्लेख किया कि कोविड के बाद की वैश्विक व्यवस्था भारत को अपार अवसर प्रदान करती है क्योंकि देश अपनी प्रौद्योगिकी आपूर्ति श्रृंखला की व्यवस्था में बदलाव करना चाहते हैं। भारत ने पिछले 75 वर्षों में सूचना और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अपना कौशल साबित किया है और अगले 25 वर्षों में विकास का पथ इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी क्षेत्र द्वारा मजबूती से संचालित होगा।

श्री चंद्रशेखर ने कहा कि मंत्रालय इस अवसर का लाभ उठाने और माननीय प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। इन चीजों को ध्यान में रखते हुए हीइलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने स्वतंत्रता के बाद से इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी के क्षेत्र में किए गए उत्कृष्ट योगदान को मान्यता देने के लिए एक नई पहल की है। यह पहल वैज्ञानिकों/प्रौद्योगिकीविदों के वैज्ञानिक कार्य और प्रतिभा का ध्यान दिलाएगी और साथ ही वैज्ञानिकों तथा तकनीकी नवप्रवर्तकों की वर्तमान एवं भविष्य की पीढ़ियों को प्रेरित करेगी।

आज से नामांकन आमंत्रित किए जाएंगे और नामांकन जमा करने की अंतिम तिथि 07 नवंबर, 2021 होगी।

चयन प्रक्रिया पूरी होने के बाद मंत्रालय द्वारा चयनित वैज्ञानिकों/प्रौद्योगिकीविदों के नामों की घोषणा की जाएगी।

इस कार्यक्रम में इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय के सचिव, अतिरिक्त सचिव, और प्रोफेसर एस साधोपन, प्रोफेसर यू बी देसाई, प्रोफेसर भास्कर जैसे प्रसिद्ध शिक्षाविद उपस्थित थे।

***

एमजी/एएम/पीके/एसएस

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

रीट

अजमेर में रीट परीक्षार्थियों को भोजन के पैकेट नि:शुल्क मिलेंगे।

अजमेर में रीट परीक्षार्थियों को भोजन के पैकेट नि:शुल्क मिलेंगे। पार्षद ज्ञान सारस्वत, रमेश सोनी, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com