fbpx
मंगलवार , नवम्बर 30 2021
Breaking News
SLSA Fashion

हर महत्वाकांक्षी कलाकार के लिए ‘मी वसंतराव’ की एक सार्वभौमिक अपील है: निर्देशक निपुण धर्माधिकारी

यदि आप महाराष्ट्र में पले-बढ़े हैं और शास्त्रीय संगीत या संगीत नाटकों के प्रति लगाव रखते हैं, तो हिंदुस्तानी शास्त्रीय के बड़े नाम पंडित वसंतराव देशपांडे का नाम संभवतः आपके लिए अपरिचित नहीं हो सकता है। भारत के अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) के 52वें संस्करण में भारतीय पैनोरमा सेक्शन की फीचर फिल्म श्रेणी में फिल्म प्रेमियों को प्रस्तुत की गई फिल्म मी वसंतराव, संगीत उस्ताद के निर्माण की कहानी बताती है और न केवल महाराष्ट्र से, बल्कि भारत और विदेशों में फिल्म और संगीत के पारखी लोगों को प्रेरित करने का वादा करती है।

24 नवंबर, 2021 को इस फेस्टिवल के मौके पर एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, निर्देशक निपुण धर्माधिकारी ने कहा कि फिल्म में विविध दर्शकों को आकर्षित करने की क्षमता है। उन्होंने कहा, “हालांकि कहानी वसंतराव देशपांडे की है, मगर इसमें एक सार्वभौमिक अपील है जो हर उस व्यक्ति को छूती है जो कलाकार बनने की कोशिश कर रहा है।”

मी वसंतराव प्रतिष्ठित गोल्डन पीकॉक अवार्ड के लिए भी प्रतिस्पर्धा कर रही है और इसे दुनिया भर से चुनी गई सर्वश्रेष्ठ फीचर-लेंथ फिल्म से सम्मानित किया गया है। यह फिल्म संगीतकार के प्रसिद्ध होने से पहले उसके जीवन में क्या हुआ था, इसकी अनकही कहानी की पड़ताल करती है। महाराष्ट्र के विदर्भ के एक गाँव में जन्मे और फिर नागपुर में अपनी माँ द्वारा अकेले ही पाले गए, वसंतराव का जीवन रोमांचक घटनाओं का एक कैनवास प्रस्तुत करता है- ऐसी घटनाएं जिन्होंने उनके जीवन और अंततः उनके संगीत को आकार दिया। विविध जीवन की घटनाओं ने उन्हें आकार दिया जिसमें पी.एल. देशपांडे और बेगम अख्तर के साथ मास्टर की अनूठी दोस्ती शामिल है। इन घटनाओं में इंडियन मिलिट्री अकांउट्स में जीवन, लाहौर में संगीत सीखना, 1962 के युद्ध के दौरान भारत-चीन सीमा पर उनकी पोस्टिंग, और कात्यार कलजात ग़ुस्ल में उनका रोल भी शामिल है। यह वह नाटक था जिसके लिए उन्हें जाना गया।

वसंतराव देशपांडे की बहुमुखी भूमिका किसी और ने नहीं बल्कि उनके पोते और प्रमुख समकालीन शास्त्रीय गायक राहुल देशपांडे ने निभाई है। अपनी भूमिका के बारे में बोलते हुए, निर्देशक ने कहा: “राहुल देशपांडे और मैंने साथ में काम किया है और संगीत नाटक को पुनर्जीवित किया है। पेशे से अभिनेता न होने के बावजूद उन्होंने बहुत ही लगन से भूमिका निभाई।”

धर्माधिकारी ने कहा कि उन्हें स्क्रिप्ट तैयार करने में दो साल लग गए क्योंकि उन्हें वसंतराव देशपांडे को समझने में मुश्किल हुई। उन्होंने कहा, “मैं जानना चाहता था कि उन्होंने अपनी जिंदगी के यह फैसले क्यों लिए। शायद यह उनके शुरुआती जीवन की घटनाएँ थीं जिन्होंने वसंतराव को अपने गायन के जुनून को जीवन में जल्दी नहीं अपनाने का फैसला किया, हालांकि उन्हें अपने समय के सर्वश्रेष्ठ गायकों में से एक के रूप में जाना जाता था। वह नेटवर्किंग में भी बहुत अच्छे नहीं थे, हमने फिल्म में उस तथ्य को बहुत ईमानदारी से दिखाया है।”

निर्देशक ने फिल्म प्रतिनिधियों को यह जानकारी दी कि उन्होंने वसंतराव देशपांडे के जीवन के प्रति यथासंभव सच और ईमानदार होने का प्रयास किया है। उनके जीवन के बाद के चरणों में हुई दो घटनाओं को भी फिल्म में शामिल किया गया था।

आईएफएफआई में सिनेमा की पहुंच और फिल्म के स्वागत पर बात करते हुए, निपुण धर्माधिकारी ने कहा: “जब कल फिल्म दिखाई गई, तो गैर-मराठी दर्शक भी हमारे पास आए और हमें बताया कि वे फिल्म में दिखाए गए पात्रों से जुड़ाव महसूस कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वे अपनी भाषा में डब की गई इस फिल्म को देखना चाहेंगे। मुझे पूरा यकीन नहीं है कि ऐसा होगा या नहीं, हालांकि, ओटीटी ने पहुंच का विस्तार किया है लेकिन मेरा मानना ​​है कि सिनेमा अंततः अपने दर्शकों तक पहुंचता है; यह एक कालातीत कला है, इसलिए मैं आशान्वित हूं।”

निपुण अविनाश धर्माधिकारी एक मराठी लेखक, अभिनेता और निर्देशक हैं। उन्हें संगीत नाटक के पुनरुद्धार और लंबे पांच-अभिनय नाटकों के लिए जाना जाता है।

****

एमजी/एएम/पीके

Follow us on social media: @PIBMumbai    /PIBMumbai    /pibmumbai  [email protected]

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
SLSA Fashion

Check Also

रेल न्यूज़

ट्रेनों में फिर से मिलेंगे कंबल-चादर

ट्रेनों में फिर से मिलेंगे कंबल-चादर कोटा। न्यूज़. कोरोना के मामले में कमी को देखते …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com