fbpx
शनिवार , जनवरी 22 2022
Breaking News

इंडियास्किल्स 2021 राष्ट्रीय प्रतियोगिता के 270 विजेताओं को 61 स्वर्ण, 77 रजत, 53 कांस्य और 79 उत्कृष्टता पदकों से सम्मानित किया गया

भारत सरकार के कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) के सचिव राजेश अग्रवाल के 150 से अधिक प्रतिभागियों को सम्मानित करने के साथ, देश की सबसे बड़ी कौशल प्रतियोगिता इंडियास्किल्स 2021 नेशनल्स का आज समापन हो गया। कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के मार्गदर्शन में राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में कंक्रीट निर्माण कार्य, सौंदर्य चिकित्सा, कार पेंटिंग, स्वास्थ्य और सामाजिक देखभाल, दृश्य बिक्री उत्पाद, ग्राफिक डिजाइन प्रौद्योगिकी, दीवार और फर्श टाइलिंग, वेल्डिंग, आदि जैसे 54 कौशलों में भागीदारी की गई।

 

 

युवाओं की क्षमता और पहचान को बढ़ावा देने वाली इंडियास्किल्स प्रतियोगिता में इस वर्ष 26 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के 500 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। स्थानीय अधिकारियों और दिल्ली सरकार द्वारा अनिवार्य कोविड-19 दिशा-निर्देशों के तहत 7 से 9 जनवरी तक प्रगति मैदान और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के ऑफसाइट स्थलों सहित कई स्थानों पर कौशल प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। इसके अलावा, आगंतुकों/दर्शकों के लिए प्रतिबंध, पर्याप्त सामाजिक दूरी और प्रतियोगिता परिसर की निरंतर स्वच्छता बनाए रखने जैसे सभी सुरक्षा प्रोटोकॉलों का पालन किया गया। प्रतिभागियों को पृथक रखने के लिए 3 से 5 जनवरी तक बेंगलुरु और मुंबई में आठ कौशल प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं।

150 से अधिक विजेताओं में से 59 को 100,000 रुपये की नकद पुरस्कार राशि के साथ स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया, 73 को 75,000 रुपये की पुरस्कार राशि के साथ रजत पदक और 53 को 50,000 रुपये की नकद पुरस्कार राशि के साथ कांस्य पदक से सम्मानित किया गया। 50 से अधिक प्रतिभागियों ने उत्कृष्टता पदक हांसिल किया। इस वर्ष की इंडियास्किल्स प्रतियोगिता ने अगस्त-सितंबर 2021 में 2.5 लाख से अधिक पंजीकरणों के साथ कौशल विकास के क्षेत्र में उत्कृष्टता के स्तर को हासिल किया है।

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के सचिव राजेश अग्रवाल ने इंडियास्किल्स राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भागीदारी करने वाले उम्मीदवारों की प्रतिभा, उत्साह और दृढ़ता को देखते हुए अपनी प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सभी विजेताओं और प्रतिभागियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि सरकार, उद्योग और विशेषज्ञ यह सुनिश्चित करने के लिए मिलकर कार्य करेंगे कि टीम इंडिया इस वर्ष के अंत में शंघाई, चीन में आयोजित होने वाली वर्ल्डस्किल्स अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए आवश्यक प्रशिक्षण और उपकरणों से सुसज्जित हो।

राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के मुख्य परिचालन अधिकारी और कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी अधिकारी वेद मणि तिवारी ने कहा कि कौशल अवसरों का सृजन करते हैं, समाज का निर्माण करते हैं और आर्थिक विकास को बढ़ावा देते हैं। कौशल प्रतियोगिताएं व्यक्तियों के जीवन में कौशल के महत्व के विषय में जागरूकता बढ़ाने और भविष्य के रोजगारों और चुनौतियों के लिए उन्हें तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उन्होंने कहा कि आधुनिक युग के कौशलों के सामने आने से स्पष्ट होता है कि कैसे इंडियास्किल्स प्रतियोगिता भविष्य के लिए प्रासंगिक ट्रेडों और रोजगार की भूमिकाओं के लिए अपडेट होती है। उन्होंने कहा कि यह निश्चित रूप से हमें सर्वोच्च स्थान पर रखेगा और अन्य युवाओं को इन कौशलों में व्यवसाय निर्धारित करने पर विचार करने के लिए प्रेरित करेगा।

इंडियास्किल्स 2021 राष्ट्रीय प्रतियोगिता की मुख्य विशेषताएं

इंडियास्किल्स 2021 राष्ट्रीय प्रतियोगिता में कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, पेंटिंग, कढ़ाई, पोस्टर डिजाइनिंग और फोटोग्राफी सहित 16 कौशलों में दिव्यांगजनों (पीडब्ल्यूडी) द्वारा कौशल प्रदर्शन एबिलिम्पिक्स भी शामिल है। इस तरह की भागीदारी के साथ, इंडियास्किल्स में जमीनी स्तर तक पहुंचने की क्षमता है और यह एक कुशल कार्यबल की मांग और आपूर्ति के बीच के अंतर को दूर करने की दिशा में एक बड़ा कदम है।

इंडियास्किल्स 2021 में तीन नए कौशलों को योग, जूता निर्माण (चमड़ा) और परिधान निर्माण (चमड़ा), को प्रस्तुत करते हुए इन्हें व्यवसायों में उम्मीदवारों के लिए अवसरों का उल्लेख करने के लिए प्रदर्शित किया गया था।

सात नवयुग कौशल-रोबोट कार्यप्रणाली एकीकरण, योगशील विनिर्माण, डिजिटल निर्माण, उद्योग 4.0, नवीकरणीय ऊर्जा, मोबाइल एप्लिकेशन विकास और उद्योगिक रूपरेखा तकनीक- को इस वर्ष की प्रतियोगिता में उभरती प्रौद्योगिकियों के साथ पेश किया गया।

इंडियास्किल्स न केवल युवाओं के जीवन को बदलने के लिए एक मंच प्रदान करता है बल्कि सभी को समान अवसर भी प्रदान करता है। प्‍लंबिंग और ताप कौशल में पहली बार किसी महिला उम्मीदवार ने भाग लिया। परिदृश्य और बागवानी कौशल में दो महिला टीमें थीं। विजुअल मर्चेंडाइजिंग भी महिला प्रधान थी। मोबाइल रोबोटिक्स में भी दो लड़कियों की एक टीम ने भाग लिया। जैसे-जैसे हम एक समाज के रूप में आगे बढ़ते हैं, महिलाएं रूढ़ियों को तोड़ रही हैं और सभी प्रकार के कौशल में भाग ले रही हैं। पीएफएलएस के आंकड़े बताते हैं कि कार्यबल में महिलाओं की भागीदारी 22% है और अगर महिलाओं को अवसर नहीं मिलते हैं, तो यह देश के आर्थिक विकास को प्रभावित करता है। हमें गर्व है कि इंडियास्किल्स सभी को अपनी क्षमता का प्रदर्शन करने के लिए समान अवसर प्रदान रहा है।

कार्यशालाओं, बूट शिविरों और प्रतियोगिताओं के दौरान उम्मीदवारों के कौशल प्रशिक्षण के लिए बुनियादी ढांचे, विशेषज्ञों और उपकरणों की आवश्यकता का समर्थन करने वाले उद्योग और भागीदार संस्थानों से इस आयोजन को शानदार प्रतिक्रिया मिली है।

इंडियास्किल्स राष्ट्रीय प्रतियोगिता का समर्थन करने वाले साझेदार संस्थानों में मारुति सुजुकी, लार्सन एंड टुब्रो, फेस्टो इंडिया, होटल लीला, टोयोटा इंडिया, सीबीआईपी, कॉन्सेप्ट महिंद्रा, पेस्ट्री और एकेडमी ऑफ पेस्ट्री, सरकारी टूल रूम और प्रशिक्षण केंद्र (जीटीटीसी), कर्नाटक जर्मन तकनीकी प्रशिक्षण संस्थान (केजीटीटीआई) और इंडियन मशीन टूल मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (आईएमटीएमए), बेंगलुरु, आईसीटी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, मुंबई, इंडिया टीवी न्यूज़ (मीडिया पार्टनर के रूप में), और प्लेटोनिया (गेमिंग पार्टनर के रूप में) के साथ-साथ बहुत से अन्य शामिल हैं

इंडियास्किल्स 2021 राष्ट्रीय प्रतियोगिता (7 से 9 जनवरी तक) से पूर्व इसका आयोजन अक्टूबर-दिसंबर के दौरान पूर्व (पटना), पश्चिम (गांधीनगर), उत्तर (चंडीगढ़) और दक्षिण (विशाखापत्तनम) में चार क्षेत्रीय प्रतियोगिताओं के रूप में किया गया है। अगस्त और सितंबर 2021 के बीच जिला और राज्य स्तर पर आयोजित प्रतियोगिताओं के माध्यम से क्षेत्रीय प्रतिभागियों का चयन किया गया, जिसमें 250,000 से अधिक पंजीकरण दर्ज किए गए। इंडियास्किल्स 2021 नेशनल्स के विजेताओं को चीन के शंघाई में अक्टूबर 2022 को होने वाले वर्ल्डस्किल्स में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए कठोर प्रशिक्षण से गुजरना होगा।

 

क्र.सं

राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश

स्वर्ण

रजत

कांस्य

पदक

कुल

1

उड़ीसा

10

18

9

14

51

2

केरल

8

8

5

4

25

3

महाराष्ट्र

8

4

7

11

30

4

कर्नाटक

7

8

4

4

23

5

आंध्र प्रदेश

7

4

1

4

16

6

बिहार

4

2

5

2

13

7

हरियाणा

3

4

1

3

11

8

गुजरात

3

1

2

5

11

9

राजस्थान

3

1

1

6

11

10

तमिलनाडु

2

8

8

5

23

11

चंडीगढ़

2

2

1

6

11

12

पंजाब

1

4

1

2

8

13

उत्तर प्रदेश

1

2

2

2

7

14

मध्य प्रदेश

1

2

 

1

4

15

पश्चिम बंगाल

1

1

1

 

3

16

दिल्ली

 

2

1

4

7

17

झारखंड

 

2

1

 

3

18

उत्तराखंड

 

2

 

1

3

19

त्रिपुरा

 

 

1

1

2

20

असम

 

1

 

1

2

21

गोवा

 

1

 

 

1

22

मिजोरम

 

 

1

 

1

23

अंडमान और निकोबार

 

 

1

 

1

24

हिमाचल प्रदेश

 

 

 

1

1

25

तेलंगाना

 

 

 

2

2

 

 

 

 

 

 

 

 

 

61

77

53

79

 

 

*****

एमजी/एएम/एसएस/एसएस

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें

Check Also

राजस्थान

मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्र भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी संघवाद की भावना के विपरीत सरदार पटेल द्वारा ‘स्टील फ्रेम ऑफ इंडिया’ बताई गई सेवाएं भविष्य में कमजोर होंगी

Description मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्रभारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *