fbpx
शनिवार , जनवरी 22 2022
Breaking News

श्री अरुण गोयल ने वर्चुअल माध्यम से ”मध्य प्रदेश के स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों” पर प्रदर्शनी का उद्घाटन किया

भारी उद्योग मंत्रालय के तहत केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम, भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड, भोपाल, 10 से 16 जनवरी, 2022 तक “आजादी का अमृत महोत्सव” मना रहा है। “आजादी का अमृत महोत्सव” समारोह के एक हिस्से के रूप में, बीएचईएल, भोपाल में ”स्वतंत्रता आंदोलन के गुमनाम नायकों” पर प्रदर्शनी का उद्घाटन और संरचना पोर्टल पर ”आइडिया जनरेशन चैलेंज” पर प्रस्तुति का आयोजन ऑनलाइन माध्यम से किया गया। भारी उद्योग मंत्रालय के सचिव श्री अरुण गोयल नई दिल्ली से वर्चुअल तौर पर मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम में शामिल हुए। अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक डॉ. नलिन सिंघल, कार्यात्मक निदेशक, कार्यकारी निदेशकों, महाप्रबंधकों और बीएचईएल की इकाइयों के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने इस कार्यक्रम में देश के विभिन्न स्थानों से हिस्सा लिया।

बीएचईएल, भोपाल के महाप्रबंधक एवं प्रमुख श्री सुशील कुमार बावेजा ने उद्घाटन भाषण दिया। इसके बाद बीएचईएल का एंथम गाया गया। एजीएम (एचआर) श्री बिनॉय कुमार ने केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय और भारी उद्योग राज्य मंत्री के आजादी का अमृत महोत्सव पर भेजे संदेश को पढ़कर सुनाया। श्री अरुण गोयल ने वर्चुअल तौर पर मध्यप्रदेश से ”स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों” पर प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। इसके बाद तांतिया भील, अवंतीबाई लोधी, सदाद खान, झलकारी बाई, भगीरथ सिलावट, राजा शंकर शाह, भीमा नायक, कुंवर रघुनाथ शाह, श्रीमती सहोदरा बाई राय तथा राजा बख्तावर सिंह जैसे गुमनाम नायकों पर संक्षिप्त विवरण दिया गया और प्रगति दीर्घा में “स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों की पिक्चर गैलरी” का अनावरण किया गया। समारोह के दौरान एजीएम (एचआरडी) श्री अमिताभ दुबे और वरिष्ठ अभियंता (एचआरडी) श्री अरविंद तिवारी ने प्रदर्शन पर इन-हाउस निर्मित विभिन्न भारी औद्योगिक उत्पादों के मॉडल पर जानकारी दी। कॉर्पोरेट स्ट्रेटेजिक मैनेजमेंट ग्रुप द्वारा “आइडिया जनरेशन चैलेंज” पर प्रस्तुति के बाद कार्यक्रम का समापन किया गया।

भारत अपनी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है। आज़ादी का अमृत महोत्सव प्रगतिशील भारत के 75 साल और यहां के लोगों, संस्कृति एवं उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास का उत्सव मनाने के लिए भारत सरकार की एक पहल है। यह महोत्सव भारत के लोगों को समर्पित है, जिन्होंने न केवल भारत की विकास यात्रा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है बल्कि उनमें आत्मनिर्भर भारत की भावना से प्रेरित भारत 2.0 के लक्ष्य को पूरा करने के प्रधानमंत्री मोदी के विजन को आगे बढ़ाने की शक्ति और क्षमता भी है।

*******

एमजी/एएम/एसकेएस/डीवी

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें

Check Also

राजस्थान

मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्र भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी संघवाद की भावना के विपरीत सरदार पटेल द्वारा ‘स्टील फ्रेम ऑफ इंडिया’ बताई गई सेवाएं भविष्य में कमजोर होंगी

Description मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्रभारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *