banner

श्री अनुराग ठाकुर कल विश्व साइकिल दिवस के अवसर पर नई दिल्ली के मेजर ध्यानचंद स्टेडियम से राष्ट्रव्यापी कार्यक्रमों का शुभारंभ करेंगे

आजादी का अमृत महोत्सव-भारत@75 के समारोह के एक हिस्से के रूप में युवा मामले और खेल मंत्रालय 3 जून, 2022 को पूरे देश में विश्व साइकिल दिवस का आयोजन कर रहा है। 12 मार्च, 2021 को आजादी का अमृत महोत्सव के पूर्वालोकन के दौरान प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के उद्घाटन भाषण से प्रेरणा लेते हुए युवा मामले और खेल मंत्रालय ने कार्यों और संकल्पों के स्तंभ@75 के तहत आजादी का अमृत महोत्सव मनाने की अवधारणा की है।

3 जून, 2022 को विश्व साइकिल दिवस के एक हिस्से के रूप में युवा मामलों का विभाग अपने दो अग्रणी युवा संगठनों यानी नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस) और राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) की सहायता से एक साथ चार गतिविधियों का आयोजन कर रहा है। ये कार्यक्रम हैं- दिल्ली में विश्व साइकिल दिवस का शुभारंभ, 35 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की राजधानियों, देश भर के 75 प्रतिष्ठित स्थानों और देश के सभी ब्लॉकों में साइकिल रैलियों का आयोजन।

केंद्रीय युवा मामले और खेलमंत्री श्री अनुराग ठाकुर 3 जून, 2022 को दिल्ली के मेजर ध्यानचंद स्टेडियम से राष्ट्रव्यापी कार्यक्रमों का शुभारंभ करेंगे, जिसके दौरान वे 750 युवा साइकिल चालकों के साथ 7.5 किमी की दूरी साइकिल चलाकर तय करेंगे। इसके अलावा, एनवाईकेएस द्वारा 35 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की राजधानियों तथा देश भर के 75 प्रतिष्ठित स्थानों पर साइकिल रैलियों का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान 75 प्रतिभागी 7.5 किलोमीटर साइकिल चलाएंगे। इसके अलावा नेहरू युवा केंद्र संगठन अपने युवा स्वयंसेवकों और यूथ क्लबों के सदस्यों की सहायता और योगदान से स्वैच्छिक आधार पर देश के सभी ब्लॉकों में इन साइकिल रैलियों का आयोजन कर रहा है।

यह भी पढ़ें :   राष्ट्रीय सुपरकंप्यूटिंग मिशन के तहत आईआईटी रुड़की में पेटास्केल सुपरकंप्यूटर ‘‘परम गंगा’’ स्‍थापित किया गया

इस प्रकार 3 जून, 2022 को विश्व साइकिल दिवस के अवसर पर पूरे देश में साइकिल रैलियों का आयोजन किया जाएगा। इन प्रस्तावित साइकिल रैलियों के माध्यम से एक ही दिन यानी 3 जून, 2022 को 1.29 लाख युवा साइकिल चालकों द्वारा 9.68 लाख किलोमीटर से अधिक दूरी तय की जाएगी।

इन रैलियों का उद्देश्य लोगों को शारीरिक फिटनेस गतिविधियों के लिए अपने दैनिक जीवन में साइकिल चलाने के लिए प्रोत्साहित और प्रेरित करना तथा मोटापे, आलस्य, तनाव, चिंता जैसी बीमारियों से मुक्ति दिलाना है। आम नागरिकों द्वारा साइकिलिंग को अपनाने से कार्बन उत्सर्जन कम करने में मदद मिलेगी। विश्व साइकिल दिवस के आयोजन के माध्यम से नागरिकों को अपने जीवन “फिटनेस की खुराक आधा घंटा रोज” में कम से कम 30 मिनट शारीरिक गतिविधियों को शामिल करने का संकल्प लेने का आह्वान किया जाएगा।

विश्व साइकिल दिवस के आयोजन की प्रमुख गतिविधियों में वातावरण निर्माण और संदेश प्रवर्धन, फिटनेस पर जागरूकता और फ्लैग-ऑफ साइकिल रैलियां शामिल हैं। आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर युवा स्वयंसेवकों को भाग लेने और अपने-अपने गांवों और इलाकों में इसी तरह की साइकिल रैलियां आयोजित करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। आमतौर पर लोग और विशेष रूप से युवा #साइकिलिंग4इंडिया और #विश्व साइकिल दिवस2022 के साथ अपने सोशल मीडिया चैनलों पर साइकिल रैलियों का प्रचार कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें :   कश्मीर मुद्दे पर जहर उगलने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री आखिर अब भारत की प्रशंसा क्यों कर रहे हैं?

प्रतिष्ठित व्यक्तियों, जन प्रतिनिधियों, पीआरआई लीडर्स, सामाजिक कार्यकर्ताओं, खिलाड़ियों और अन्य गणमान्य व्यक्तियों से यह अनुरोध किया जा रहा है कि वे विभिन्न स्तरों पर इन आयोजनों में भाग लेकर लोगों को प्रोत्साहित और प्रेरित करें।

केंद्र सरकार के मंत्रालयों, राज्य सरकारों और अन्य संगठनों से अनुरोध किया जा रहा है कि वे अपने-अपने इलाकों में साइकिल रैलियों में शामिल हों। विश्व साइकिल दिवस के आयोजन को जन प्रेरित बनाने के लिए मित्रों, परिवारों और मित्र समूहों को इस कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करने के प्रयास किये जा रहे हैं।

***

एमजी/एएम/आईपीएस/एचबी

यह भी देखें :   Live 1 : फर्जी पेपर माफिया द्वारा REET परीक्षा 2021 में करीब 4 करोड़ रुपयों का लेनदेन का मिला हिसाब

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें