गृह मंत्री श्री अमित शाह ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2021 का उद्घाटन किया; इस भव्य समारोह में हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल और केन्द्रीय खेल मंत्री श्री अनुराग ठाकुर भी शामिल हुए

बहुप्रतीक्षित एसबीआई खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2021, हरियाणा, की शनिवार को जोरदार शुरुआत हुई। केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने एक भव्य उद्घाटन समारोह में इन खेलों का उद्घाटन किया।  

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल और केन्द्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री श्री अनुराग ठाकुर ने शानदार ताऊ देवी लाल खेल परिसर में उत्साही दर्शकों का नेतृत्व किया। यह खेल परिसर अगले 10 दिनों तक पदकों के लिए खिलाड़ियों के बीच अधिकांश प्रतिस्पर्धा का गवाह बनेगा।

इन खेलों के उद्घाटन के मौके पर बोलते हुए, श्री शाह ने कहा, “मुझे इस बात की बेहद खुशी है कि हरियाणा, एक ऐसा राज्य जो देश की निर्विवाद खेल राजधानी है, खेलो इंडिया यूथ गेम्स के चौथे संस्करण की मेजबानी कर रहा है। यह प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की परिकल्पना है कि एथलीटों को हरसंभव सहायता प्रदान की जाए। केन्द्र सरकार ने खेल बजट को 2014 में 864 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 2022 में 1,992 करोड़ रुपये कर दिया है और इसका परिणाम टोक्यो ओलंपिक में 7 पदकों के साथ अब तक के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से स्पष्ट है जोकि 2016  के पिछले ओलंपिक से 5 अधिक है। इसी तरह, पैरालंपिक में, पदकों की संख्या 2016 में सिर्फ चार से बढ़कर 2021 में 19 हो गए।

2,262 लड़कियों सहित लगभग 5000 एथलीट अगले 10 दिनों तक पांच  स्वदेशी खेलों सहित 25 रोमांचक खेलों में स्वर्ण पदक और यश पाने के लिए आपस में प्रतिस्पर्धा करेंगे।

वर्चस्व की होड़ रविवार को ही शुरू हो जाएगी, जिसमें भारोत्तोलन, कुश्ती, साइकिलिंग, योगासन और गतका में 25 स्वर्ण पदक दांव पर होंगे।  

इस कार्यक्रम में बोलते हुए, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा, “हरियाणा को खेलो इंडिया यूथ गेम्स (केआईवाईजी) 2021 की मेजबानी का मौका देने के लिए मैं प्रधानमंत्री को धन्यवाद देता हूं। यह सिर्फ एक खेल प्रतियोगिता नहीं है, बल्कि संस्कृतियों का मेल भी है क्योंकि जब देश भर से एथलीट यहां आते हैं तो वे सिर्फ अपना खेल कौशल नहीं लाते हैं, बल्कि अपने साथ अपनी संस्कृति भी लाते हैं। यह सांस्कृतिक आदान-प्रदान प्रधानमंत्री के ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की परिकल्पना का एक अदभुत उदाहरण है, जहां देश भर के लोग एक साथ आ रहे हैं और देश को मजबूत बना रहे हैं।”

यह भी पढ़ें :   राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के तहत बिहार के भागलपुर में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के विकास के लिए रियायत समझौते पर हस्ताक्षर किये गए

90 मिनट के एक रोमांचक कार्यक्रम ने दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियम को मुग्ध कर दिया।  रफ्तार के नाम से पहचाने जाने वाले लोकप्रिय पंजाबी एवं हिंदी रैपर दिलिन नायर ने इस कार्यक्रम में शो-स्टॉपर के रूप में प्रदर्शन किया और केआईवाईजी 2021 का गीत ‘अब की बार हरियाणा’ गाया।

केन्द्रीय गृह मंत्री का स्वागत करते हुए श्री ठाकुर ने कहा, “यह बड़े सम्मान की बात है कि आज हमारे बीच श्री अमित शाह जी मौजूद हैं, जिनकी खेलों में गहरी दिलचस्पी के कारण दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बना है। वे भारत को एक खेल राष्ट्र बनाने के प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने की दिशा में सबसे आगे बढ़कर नेतृत्व कर रहे हैं।”   

अपने भाषण में, श्री ठाकुर ने प्रत्येक एथलीट से खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का आग्रह किया और कहा, “खेलो इंडिया यूथ गेम्स और खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की परिकल्पना के परिणाम हैं। उनकी परिकल्पना ने ही यह सुनिश्चित किया है कि एथलीटों को सभी जरूरी सहायता मिले। चाहे वह लगभग 2500 एथलीटों को प्रति माह 10,000 रुपये का जेब खर्च की बात हो चाहे खेलो इंडिया अकादमियों में खेलो इंडिया एथलीटों के प्रशिक्षण के लिए पांच लाख रुपये के वित्त पोषण की बात हो या फिर टॉप्स के माध्यम से प्रतिभाशाली एथलीटों को प्रशिक्षण और विदेश का अनुभव दिलाने के रूप में व्यक्तिगत समर्थन तथा प्रत्येक के लिए छह लाख रुपये के वार्षिक भत्ते की बात हो, खिलाड़ियों को समग्र सहायता उपलब्ध है। एथलीट के रूप में आपको सिर्फ अच्छा खेलना है, आपको अपनी आवश्यकताओं के बारे में चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है। आपकी सभी जरूरतों का ध्यान हम रखेंगे।”

यह भी पढ़ें :   राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने नैसकॉम की सहभागिता में ‘आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) - डिजिटल स्वास्थ्य में क्रांति’ विषयवस्तु पर एक सम्मेलन का आयोजन किया

इस कार्यक्रम में हरियाणा के इतिहास एवं विरासत, वैभव एवं समृद्धि, संपन्न्ता एवं विविधता को दर्शाने वाला एक अत्यधिक ऊर्जा एवं जोश से भरा  मनोरंजन प्रस्तुत किया गया।

केआईवाईजी के लोकप्रिय शुभंकर, विजया द टाइगर और जया द ब्लैकबक  द्वारा नाचते हुए स्टेडियम में प्रवेश के साथ ही इस रंगारंग कार्यक्रम की छटा शुरू हुई। हालांकि, दर्शकों की ओर से सबसे जोरदार सराहना हरियाणा के अपने शुभंकर, धाकड़ द बुल, को मिली।

इन शुभंकरों को खेलो इंडिया के मूल गीत ‘हम, हम, हम’ की आकर्षक धुन के साथ ट्रैक्टर पर स्टेडियम में लाया गया था।

सभी प्रतिभागियों की ओर से एथलीटों ने ओलंपिक शैली में खेल के नियमों और उत्कृष्ट खेल की भावना का सम्मान व पालन करने की शपथ ली।

ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त, पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता सुमित अंतिल, पैरालंपिक रजत पदक विजेता योगेश कथूनिया, विश्व चैंपियनशिप कांस्य पदक विजेता मनीषा मौन सहित कई प्रख्यात एथलीट युवा प्रतिभागियों को प्रेरित करने के लिए कार्यक्रम में शामिल हुए और स्टेडियम में मशाल रिले में भाग लिया। इस मशाल रिले को 25 दिन पहले शुरू किया गया था और यह पूरे राज्य की यात्रा कर अंत में ताऊ देवी लाल स्टेडियम पहुंचा, जोकि अगले 10 दिनों तक खेल से जुड़ी गतिविधियों का केन्द्र-बिंदु बना रहेगा। 

*******

एमजी/एमए/आर/एसएस

यह भी देखें :   Gangapur City | बंद चिट फंड कम्पनियो को ले कर थाने में लगा कैंप | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें