कृषि राज्य मंत्री सुश्री शोभा करंदलाजे ने ब्रिक्स कृषि मंत्रियों की 12वीं बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व किया

बीती शाम ब्रिक्स कृषि मंत्रियों की 12वीं बैठक वर्चुअल माध्यम से संपन्न हुई। इस बैठक में चीन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, रूस और भारत के मंत्रियों ने भाग लिया।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री सुश्री शोभा करंदलाजे ने इस बैठक में भाग लिया। केंद्रीय मंत्री ने भारत सरकार द्वारा कृषि और किसान कल्याण के क्षेत्र में पीएम किसान, पीएम फसल बीमा योजना, सॉइल हेल्थ कार्ड, प्राकृतिक कृषि, एफपीओ का गठन और संवर्धन आदि शुरू की गई पहलों और कदमों का उल्लेख किया।

 

 

मंत्री ने कृषि मंत्रालय द्वारा हाल में कृषि में डिजिटल प्रौद्योगिकियों का उपयोग बढ़ाने के लिए की गईं एग्री-स्टैक और इंडिया डिजिटल इकोसिस्टम फॉर एग्रीकल्चर (आईडीईए) जैसी पहलों का उल्लेख किया।

यह भी पढ़ें :   प्रशासन गांवों के संग अभियान-2021 , मंगलवार को 12 ग्राम पंचायतों में लगे शिविर

सुश्री शोभा करंदलाजे ने प्राकृतिक संसाधनों के टिकाऊ उपयोग के माध्यम से भूख को समाप्त करने और कृषि के उत्पादन और उत्पादकता बढ़ाने के सतत विकास लक्ष्यों को पूरा करने के भारत के संकल्प पर जोर दिया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पोषक अनाजों और फसलों की जैव फोर्टिफाइड किस्मों के विकास पर जोर के साथ राष्ट्रीय खाद्य एवं पोषण मिशन पर प्रकाश डाला। साथ ही खाने में बाजरा के महत्व के साथ ही पोषण सुरक्षा और जलवायु लचीलेपन पर जोर दिया। उन्होंने ब्रिक्स देशों द्वारा अंतर्राष्ट्रीय बाजरा वर्ष, 2023 को समर्थन और आयोजन का आह्वान किया।

यह भी पढ़ें :   भारत को सोना देने वाले 'शोणे' के लिए बधाई, PM ने की बात, CM बोले- लट्ठ दिया गाड़, मंत्री झूमे-देश जश्न में डूबे

 

ब्रिक्स कृषि मंत्रियों ने “समन्वित कृषि और ग्रामीण विकास के लिए ब्रिक्स सहयोग को मजबूत बनाने” की विषय वस्तु के साथ 12वीं बैठक की संयुक्त घोषणा और साथ ब्रिक्स सदस्य देशों के बीच खाद्य सुरक्षा सहयोग पर ब्रिक्स रणनीति को भी अपनाया।

 

*****

एमजी/एएम/एमपी/डीए

यह भी देखें :   Live: बाटोदा से सीधा मोरपा की ओर जाने वाला सड़क मार्ग अधूरा आवागमन में लोगों को हो रही परेशानी

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें