केन्‍द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री श्री भूपेंद्र यादव ने जिनेवा में विश्व कार्य शिखर सम्मेलन में भाग लिया

केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री श्री भूपेंद्र यादव ने आज जिनेवा में एक उच्च स्तरीय पैनल चर्चा में भाग लिया। इसका आयोजन आईएलसी बैठक के इतर विश्व कार्य शिखर सम्मेलन के तहत आईएलओ द्वारा किया गया था। चर्चा का विषय “कई वैश्विक संकटों से निपटना: मानव केंद्रित रिकवरी और लचीलापन को बढ़ावा देना” था।

चर्चा मुख्य रूप से उन कई चुनौतियों पर केंद्रित थी जिसका सामना काम की दुनिया (वर्ल्ड ऑफ वर्क) कर रही हैं जैसे असमानताओं की बढ़ती खाई, जनसांख्यिकीय वास्तविकताएं, असमान तकनीकी प्रगति, अनौपचारिकता, जलवायु परिवर्तन। चर्चा में यह बात भी शामिल थी कि इन चुनौतियों से निपटने के लिए देशों और अंतर्राष्ट्रीय समुदायों को क्या करना चाहिए कि मानव केंद्रित, लचीला और टिकाऊ रिकवरी का लक्ष्य हासिल हो सके।

यह भी पढ़ें :   पंचायती राज मंत्रालय आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए आइकॉनिक वीक समारोहों के हिस्से के रूप में ग्रामीण स्थानीय निकायों (आरएलबी) के लिए राजस्व के अपने स्रोतों को बढ़ाने पर राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करेगा

केंद्रीय मंत्री श्री भूपेंद्र यादव ने अनौपचारिकता से निपटने और असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए भारत के किए गए उपायों के बारे में विस्तार से बात की। उन्होंने अनौपचारिक श्रमिकों के पंजीकरण के लिए ई-श्रम पोर्टल और उनकी सामाजिक सुरक्षा के वित्तपोषण के लिए सामाजिक सुरक्षा कोष की स्थापना का उल्लेख किया। उन्होंने काम के भविष्य, डिजिटल परिवर्तन, ठेलों और प्लेटफॉर्मों पर काम करने वाले श्रमिकों और उनके अधिकारों की सुरक्षा एवं उनके कल्याण के लिए किए गए उपायों के बारे में भी बात की। उन्होंने श्रमिकों के नियोजित प्रवास और आवाजाही की आवश्यकता पर जोर दिया, जो दुनिया भर में जनसांख्यिकी में बदलाव के कारण आवश्यक हो गया है। उन्होंने दुनिया भर में कुशल कार्यबल की आवाजाही को सुविधाजनक बनाने के लिए वैश्विक कौशल मानचित्रण के बारे में भी बात की। इस चर्चा में एक लचीला समाज बनाने और समावेशी तथा टिकाऊ विकास लाने में सरकार की कार्रवाई पर भी जोर दिया गया।

यह भी पढ़ें :   आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव ने मंत्रालय की 'लाभार्थियों से रूबरू' पहल की अध्यक्षता की

 

इस चर्चा में अन्य लोग भी शामिल थे:

Participated in the World of Work Summit Panel Discussion at the #ILC2022. Underlined the need for global community to work together because poverty anywhere is a danger to prosperity everywhere. pic.twitter.com/Yi4cAxjuV8

***

एमजी/एमए/एके/एसएस

यह भी देखें :   Karnal Kirori Singh Bainsla : कर्नल बैंसला हुए पंचतत्व में विलीन | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें