banner

आयकर विभाग ने जम्मू-कश्मीर और दिल्ली में तलाशी अभियान चलाया

आयकर विभाग ने जमावार शॉल, पश्मीना और कश्मीरी शॉल के एक प्रमुख निर्माता व विक्रेता के विरुद्ध 15 जून 2022 को तलाशी और जब्ती अभियान चलाया। इस तलाशी अभियान में श्रीनगर, अनंतनाग और दिल्ली में फैले 15 से अधिक परिसरों को शामिल किया गया।

इस तलाशी अभियान के दौरान, हार्ड कॉपी दस्तावेजों और डिजिटल साक्ष्य सहित बड़ी संख्या में आपत्तिजनक सबूत पाए गए तथा उन्हें जब्त किया गया। जब्त किए गए दस्तावेजों के प्रारंभिक विश्लेषण से संकेत मिलता है कि बिक्री का बड़ा हिस्सा नकद में किया गया है, जो नियमित बही-खाते में दर्ज नहीं किया गया है। तलाशी कार्रवाई से यह भी पता चला है कि समूह ने स्टॉक के कम मूल्यांकन और कम दर्ज करने के माध्यम से बड़े पैमाने पर कर चोरी की गई। अकेले दिल्ली में 4 करोड़ रुपये से अधिक के बेहिसाब स्टॉक का पता चला है।

यह भी पढ़ें :   केंद्रीय मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने एससीओ बैठक को संबोधित करते हुआ कहा- 'स्टार्टअप और इनोवेशन पर विशेष कार्य समूह की जरूरत'

यह समूह भारत से सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात में स्थित अपनी विभिन्न कंपनियों को निर्यात भी दिखा रहा है। हालांकि, संयुक्त अरब अमीरात में अनौपचारिक लाभ के बंटवारे की व्यवस्था के साथ तीसरे पक्ष के नाम पर व्यापार किए जाने का पता चला है।

यह पाया गया है कि समूह ने न केवल भारत में बल्कि विदेशों में भी बड़ी संख्या में अचल संपत्तियों में काफी बेहिसाब निवेश किया है। जांच में एक लग्जरी होटल में समूह द्वारा निवेश का भी खुलासा हुआ है, जिसके बारे में लेखा-जोखा में पूरी तरह से खुलासा नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें :   प्रधानमंत्री ने 27 मार्च, 2022 को ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिये देशवासियों से विचार और सुझाव आमंत्रित किये

तलाशी अभियान में 46 लाख रुपये से अधिक की बेहिसाब नकदी बरामद हुई है।

आगे की जांच जारी है।

***

एमजी/एमए/एसकेएस/एसके

 

यह भी देखें :   Rural Life : इस सड़क के बनने से 10 KM से 2 KM होगा रास्ता | Bamanwas News | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें