संस्कृति मंत्रालय ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के सहयोग से आज पुराना किला में ‘योग महोत्सव’ का आयोजन किया

संस्कृति मंत्रालय ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के सहयोग से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 समारोह के हिस्से के रूप में आज नई दिल्ली के पुराना किला में ‘योग महोत्सव’ का आयोजन किया। लोगों के बीच सांस्कृतिक कल्याण के चिरस्थायी मूल्य को स्थापित करना इस कार्यक्रम का उद्देश्य है।

इस कार्यक्रम में संस्कृति एवं संसदीय कार्य राज्य मंत्री श्री अर्जुन राम मेघवाल और संस्कृति एवं विदेश राज्य मंत्री श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने भाग लिया।

इस कार्यक्रम में संस्कृति मंत्रालय के अधिकारियों और 40 से अधिक देशों के विदेशी प्रतिनिधियों सहित 500 से अधिक लोगों ने भाग लिया।

कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना से हुई और इसके बाद मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के प्रशिक्षकों द्वारा योग सत्र का आयोजन किया गया।

यह भी पढ़ें :   10 हजार से अधिक आबादी वाले गांवों का शीघ्र मास्टर प्लान तैयार करें- मुख्य सचिव

इस अवसर पर श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने कहा कि योग स्वस्थ और सक्रिय जीवन की कुंजी है। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से योग विश्व स्तर पर भी दूर-दूर तक फैला है।

श्रीमती लेखी ने इस बात पर जोर दिया कि कैसे योग शरीर, मन, लोकाचार और विचारों को सशक्तता की ओर ले जाता है। उन्होंने सशक्तता के लिए योग के अभ्यास और प्रकृति से जुड़ने के महत्व पर भी चर्चा की।

इस अवसर पर श्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि योग शरीर, मन, बुद्धि और आत्मा को एक साथ रखने में मदद करता है। केंद्रीय मंत्री ने योग का अभ्यास करके और दूसरों के साथ इसके लाभों को साझा करके 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने की भी अपील की।

यह भी पढ़ें :   कोविड-19 टीकाकरण अपडेट- 392वां दिन

***

एमजी/एमए/एसकेएस/एसएस

यह भी देखें :   Gangapur City : करौली की घटना में गिरफ़्तारी की मांग को लेकर बजरंग दल ने दिया ज्ञापन | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें