banner

ओएनजीसी विदेश ने कोलम्बिया में नई खोज का ऐलान किया

राष्ट्रीय तेल कंपनी ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉर्पोरेशन लि. (ओएनजीसी) के पूर्ण स्वामित्व वाली आनुषंगिक कंपनी और विदेशी इकाई ओएनजीसी विदेश लिमिटेड (ओवीएल) ने हाल में कोलम्बिया के सीपीओ-5 ब्लॉक, लियानोस बेसिन में ड्रिल किए गए कुएं यूरेका- IX में तेल की खोज की है। वेल, यूरेका- IX की खुदाई 20 अप्रैल, 2022 को की गई थी और कुल 10956 फुट की लक्षित गहराई तक ड्रिलिंग की गई, जिसमें 10201-10218 फुट की गहराई पर 17 फुट मोटी तेल युक्त रेत का पता चला। इलेक्ट्रिक सबमर्सिबिल पम्प (ईएसपी) से शुरुआती जांच के दौरान, लगभग 40-50 प्रतिशत डब्ल्यू/सी और 16 डिग्री एपीआई के तेल के साथ लगभग 600 बीबीएल/ दिन की दर से तरल पदार्थ का प्रवाह मिला। लोअर मिराडोर में तेल की खोज से ब्लॉक के उत्तरी हिस्से में आगे की खोज के लिए नए क्षेत्र खुल गए हैं।

यह भी पढ़ें :   इस्पात राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा : वित्तीय वर्ष 2022 के दौरान भारत ने 13.5 मिलियन टन तैयार इस्पात का निर्यात किया, जिसकी कीमत एक लाख करोड़ रुपये थी

ओएनजीसी विदेश इससे पहले मारीपोसा और इंडिको क्षेत्र में ब्लॉक में क्रमशः 2017 और 2018 में लोअर सैंड पे में व्यावसायिक तेल की खोज कर चुका है, जहां फिलहाल प्रति दिन 20,000 बीबीएल व्यावसायिक उत्पादन हो रहा है।

ओएनजीसी विदेश लिमिटेड को वर्ष 2008 में कोलम्बिया के एक बोली के चरण में ब्लॉक सीपीओ-5 आवंटित किया गया था। ओएनजीसी विदेश के पास ऑपरेटरशिप के साथ ब्लॉक में 70 प्रतिशत भागीदारी हित (पीआई) है, बाकी 30 प्रतिशत हिस्सेदारी साझीदार जिओपार्क के पास है। ओएनजीसी विदेश की कोलम्बिया के तेल एवं गैस क्षेत्र में अच्छी पहुंच है, जिसमें देश के तीन अन्य खोज संबंधी ब्लॉक और तेल उत्पादक कंपनी मानसरोवर एनर्जी कोलम्बिया लि. (एमईसीएल) में संयुक्त हिस्सेदारी शामिल है। यूरेका-1X के साथ ब्लॉक में एक नए तेल की खोज से ओएनजीसी की विदेश में तकनीकी और परिचालन दक्षता का पता चलता है और कोलम्बिया में व्यापक खोज तथा ड्रिलिंग अभियान से इस दिशा में एक और उपलब्धि जुड़ गई है। 

यह भी पढ़ें :   ‘हर घर नल से जल’ योजना के लिए 60 हजार करोड़ रुपए आवंटित किए गए; 3.8 करोड़ घरों को कवर किया जाएगा

********

एमजी/एएम/एमपी/वाईबी

यह भी देखें :   Live : रेलवे स्टेशन पर धरना प्रदर्शन दूसरे दिन भी जारी, मुर्दाबाद के लगे नारे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें