कोरोनाकाकहर गंगापुरसिटी

कोरोना से आमजन को बचाने के लिए गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर होगी सख्त कार्यवाही

कोरोना से आमजन को बचाने के लिए गाइडलाइन
का पालन नहीं करने पर होगी सख्त कार्यवाही- कलेक्टर
-समझाईश अभियान चलाकर हर व्यक्ति को किया जा चुका है जागरूक- आयुक्त ग्रेटर
-सख्ती का उद्देश्य जनता को परेशान करना नहीं, कोरोना से बचाना है- आयुक्त हैरिटेज
जयपुर, 5 दिसम्बर। जिला कलेक्टर श्री अन्तर सिंह नेहरा ने कहा है कि आमजन को कोरोना के प्रति जागरूक करने के लिये लगातार समझाईश अभियान चलाये गये है। लोगों से अपेक्षा रही है कि वे मास्क पहने, सामाजिक दूरी का पालन करें, दुकानदार स्वयं भी मास्क पहने तथा मास्क नहीं लगाकर आने वाले ग्राहकों को सामान नहीं दे। उन्होंने कहा कि समझाईश का बहुत प्रयास कर लिया गया है अब कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं करने वालों पर सख्त कार्यवाही होगी। जिला कलेक्टर शनिवार को नगर निगम ग्रेटर जयपुर के ईसी हॉल में आयोजित प्रेस वार्ता को सम्बोधित कर रहे थे।
8 हजार से ज्यादा टेस्ट प्रतिदिन हो रहे है
उन्होंने कहा कि आधारभूत सुविधाओं में हमने इजाफा किया है। अब जयपुर में प्रतिदिन सरकारी एवं निजी स्तर पर 8 हजार से ज्यादा कोविड टेस्ट हो रहे हैं, जिन्हें और बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये डोर-टू-डोर स्केनिंग की व्यवस्था शीघ्र की जायेगी। उन्होंने कहा कि लोगों से अपेक्षा है कि रात 8 बजे बाद बाहर नहीं निकलें और कफ्र्यू का पालन करें।
अभियान चलाकर घर-घर तक जागरूक किया जा चुका है
आयुक्त नगर निगम ग्रेटर जयपुर श्री दिनेश कुमार यादव ने प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुये कहा कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिये बरती जाने वाली सावधानियों के सम्बन्ध में अभियान चलाकर घर-घर तक संदेश पहुंचाया गया है। ग्रेटर निगम में कोरोना जागरूकता के लगभग 7 लाख से ज्यादा स्टीकर छपवाकर घर-घर तक पहुंचाये जा चुके हैं। इसके अतिरिक्त 5 लाख से ज्यादा मास्क वितरित किये जा चुके हैं। अब लगभग हर व्यक्ति को यह जानकारी है कि मास्क लगाना चाहिए, सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए तथा बार-बार हाथ धोने चाहिए। अगर अब भी कोई लापरवाही करता है तो सख्त दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।
सख्ती इसलिये ताकि लोग कोरोना से बचे
आयुक्त नगर निगम जयपुर हैरिटेज श्री लोकबन्धु ने कहा कि अब सख्ती इसलिये बरती जा रही है ताकि लोग कोरोना संक्रमण से बचे। सख्ती का उद्देश्य लोगों को परेशान करना नहीं है बल्कि उनके जीवन की रक्षा करना है। उन्होंने कहा कि 3 लाख 50 हजार मास्क लोगों को वितरित किये जा चुके हैं और लगभग 5 लाख स्टीकर घर-घर तक पहुंचाये जा चुके हैं।
शादियों पर रहेगी नजर
आयुक्त हैरिटेज ने कहा कि विवाह सम्बन्धी समारोह में 100 से ज्यादा लोग एकत्रित नहीं हो। मैरिज गार्डन में सामाजिक दूरी की पालना हो तथा सैनेटाइजेशन की व्यवस्था हो। इन बातों पर नगर निगम द्वारा सख्त निगरानी रखी जायेगी। यदि इन नियमों का उल्लंघन होगा तो मैरिज गार्डन सीज और लाईसेंस निरस्त करने की कार्यवाही होगी।
जागरूक कर रहे हैं और नियमों का उल्लंघन करने पर कार्यवाही : डीसीपी ईस्ट
पुलिस उपायुक्त जयपुर (पूर्व) श्री राहुल जैन ने कहा कि सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करवाने का काम पुलिस द्वारा करवाया जा रहा है। अभियान चलाकर तथा समझाईश कर लोगों को इन गाइडलाइन्स का पालन करने के लिये जागरूक किया जा रहा है। सभी विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर शहर को कोरोना से बचाने के पूरे प्रयास किये जा रहे है। जो लोग सरकारी गाइडलाइन का उल्लंघन कर रहे है उन पर सख्त कार्यवाही भी की जा रही है।
घरों पर भिजवा रहे हैं दवाई किट और होम आईसोलेशन बुकलेट
कोविड पॉजिटिव पाये जा रहे लोगों के घरों पर पोस्टर लगाना पुनः शुरू कर दिया गया है ताकि पड़ोसियों को भी जानकारी रहे और वे सावधानी बरते। होम आईसोलेट लोगों के घरों पर दवाई किट और होम आईसोलेशन बुकलेट भिजवाई जा रही है।
मेडिकल ऑफिसर और स्वास्थ्य कर्मियों के नम्बर भी होम आईसोलेट व्यक्तियों को उपलब्ध करवाये जा रहे ताकि आवश्यकता पड़ने पर उनसे सम्पर्क किया जा सके। कोविड पॉजिटिव रोगियों की सूची पुलिस को उपलब्ध करवाई जा रही है जिसे थाना वाइज बीट कांस्टेबल तक पहुंचाया जा रहा है। मेडिकल कर्मियों के साथ-साथ बीट कांस्टेबल तथा बीएलओ भी घर-घर सम्पर्क कर रहे हैं।
कोविड पॉजिटिव व्यक्तियों के घरों को नगर निगम द्वारा सेनेटाईज करवाया जा रहा है।
इस दौरान अतिरिक्त आयुक्त अरूण गर्ग भी मौजूद रहे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें