रेल न्यूज़

Indian Railways : सीआरबी के फिजूलखर्ची रोकने के आदेशों की 4 दिन बाद ही उड़ाई धज्जियां

Indian Railways : सीआरबी के फिजूलखर्ची रोकने के आदेशों की 4 दिन बाद ही

उड़ाई धज्जियां, पिता का इलाज कराने स्पेशल ट्रेन लेकर पहुंचे मंडल मुखिया

Kota Rail News : मंडल प्रशासन सीआरबी के आदेशों को कितनी गंभीरता से लेता है इसका ताजा उदाहरण देखने को मिला है। फिजूलखर्ची रोकने के सीआरबी के आदेशों की मंडल प्रशासन में 4 दिन बाद ही धज्जियां उड़ा दी।
निरीक्षण के बहाने मंडल मुखिया इलाज के लिए अपने पिता को स्पेशल ट्रेन से लेकर गए।
स्पेशल ट्रेन करीब 12:15 बजे भरतपुर पहुंची। यहां करीब पौन घंटे निरीक्षण के बाद मंडल मुखिया व्हील चेयर पर बैठे अपने पिता को कार में इलाज के लिए कहीं ले गए। सूत्रों ने बताया कि इलाज के लिए आगरा जाने की बात सामने आ रही है। इलाज करा कर मंडल मुखिया शाम करीब 6:30 बजे भरतपुर लौटे। इसके बाद रात करीब 10:30 बजे अपने घर पहुंचे। इस दौरान साथ गए अधिकारी और कर्मचारी भी परेशान नजर आए।
पहला कारनामा नहीं
मंडल मुखिया का यह पहला कारनामा नहीं है। इससे पहले भी स्पेशल ट्रेन से निरीक्षण के नाम पर मंडल मुखिया के अपने रिश्तेदारों की शादी समारोह में शामिल हो चुके हैं। तब भी भरतपुर में निरीक्षण के बाद मंडल मुखिया अपने परिजनों के साथ कार से आगरा रवाना हुए थे।
सीआरबी के आदेश हवा
उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों निरीक्षण के लिए पहुंचे सीआरबी ने 6 घंटे की बैठक में अधिकारियों को खासतौर से फिजूलखर्ची रोकने के आदेश दिए थे। लेकिन मंडल मुखिया ने अपने कारनामों से 4 दिन बाद ही इन आदेशों को हवा में उड़ा दिया।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें