Indian Railways : अंडर ब्रिज के लिए बिना स्लैब के ही रखे बॉक्स, धंसने की आशंका

Indian Railways : अंडर ब्रिज के लिए बिना स्लैब के ही रखे बॉक्स, धंसने की आशंका

Indian Railways : अंडर ब्रिज के लिए बिना स्लैब के ही रखे बॉक्स, धंसने की

आशंका

Kota Rail News : रावंठा रोड स्टेशन के पास अंडर ब्रिज बनाने के लिए बिना स्लैब के ही बॉक्स रखने का मामला सामने आया है। हालांकि अधिकारियों द्वारा काम नियमानुसार ही होने की बात कही जा रही है।
कर्मचारियों ने बताया कि अप लाइन पर तो स्लैब के ऊपर ही बॉक्स रखे गए हैं। लेकिन डाउन लाइन पर दो बॉक्स के नीचे स्लैब नहीं रखा गया गया है। इसके चलते बॉक्स के जमीन में धंसने की आशंका है। दो बॉक्स के नीचे एक स्लैब रखा जाता है। इसके चलते नियमानुसार यहां पर 12 बॉक्सों के नीचे 11 स्लैब होने चाहिएं, लेकिन यहां पर 10 स्लैब ही रखे नजर आ रहे हैं। बचा हुआ एक स्लैब बाहर ही पड़ा हुआ है।
कर्मचारियों ने बताया कि इसके अलावा बॉक्स पूरी तरह एक सूत और सावल में भी नजर नहीं आ रहे हैं। ड्राइंग के अनुसार बॉक्सों के एलाइनमेंट सही नहीं है। बॉक्सों में गैप और कुछ ऊपर-नीचे भी दिख रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि इसी जगह पर सट्टाने तोड़ने के लिए अनियंत्रित ब्लास्टिंग का मामला भी सामने आया था।
नहीं बनाया एप्रोच रोड
कर्मचारियों ने बताया कि इस अंडर ब्रिज को क्रॉसिंग गेट बंद कर बनाया जा रहा है। लेकिन इसके बाद भी यहां पर एप्रोच रोड नहीं बनाई गई है। इसके चलते यहां राहगीरों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। राहगिरों को कई किलोमीटर लंबा चक्कर लगाकर जाना पड़ रहा है।
बॉक्सों के साइड में भर रहे मिट्टी
इसके अलावा कई जगह बॉक्सों के साइड में भी मिटटी भरी जा रही है। जबकि मोर्रम और पत्थर आदि भरे जाने चाहिए। इससे बॉक्सों में गड़बड़ी की आशंका है।
अधिकारियों के निरीक्षण के बाद यह हाल
कर्मचारियों ने बताया कि यह हाल तो तब जब अधिकारियों द्वारा लगातार इन पूलों का निरीक्षण किया जा रहा है। प्रमुख मुख्य ब्रिज इंजीनियर ओपी तंवर भी कोटा मंडल का लगातार दौरा कर रहे हैं। सोमवार और मंगलवार को भी ओपी तंवर कोटा में ही है।
इसके 2 दिन पहले भी तंवर कोटा मंडल के दौरे पर थे।
नियमानुसार हो रहा काम
कोटा मंडल में अंडर ब्रिजों का काम नियमानुसार हो रहा है। स्लैब और बॉक्स भी नियमानुसार ही डाले जा रहे हैं।
– ओपी तंवर, प्रमुख मुख्य ब्रिज इंजीनियर

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें