fbpx
सोमवार , सितम्बर 20 2021
Phone Panchayat
पंज प्यारे बयान पर हरीश रावत ने मांगा माफी

पंज प्यारे बयान पर हरीश रावत ने मांगा माफी, कैप्टन ने दिया राहुल गांधी से अलग बयान

पंज प्यारे बयान पर हरीश रावत ने मांगा माफी, कैप्टन ने दिया राहुल गांधी से अलग बयान

पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और 4 कार्यकारी अध्यक्षों को पंज प्यारा कहकर विवाद में फंसे पार्टी के प्रदेश प्रभारी हरीश रावत ने माफी मांगी है. एक फेसबुक पोस्ट के जरिए उन्होंने कहा है कि प्रायश्चित के रूप में वो अपने राज्य के किसी गुरुद्वारे में झाड़ू से सफाई करेंगे. रावत ने कहा है कि उनका मकसद सिख समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था. शिरोमणि अकाली दल के नेता दलजीत सिंह चीमा ने उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री की टिप्पणी पर आपत्ति जताई थी और माफी की मांग की थी.

रावत ने फेसबुक पर लिखा, कभी आप आदर व्यक्त करते हुए, कुछ ऐसे शब्दों का उपयोग कर देते हैं जो आपत्तिजनक होते हैं. मुझसे भी कल अपने माननीय अध्यक्ष व 4 कार्यकारी अध्यक्षों के लिए पंज प्यारे शब्द का उपयोग करने की गलती हुई है. मैं देश के इतिहास का विद्यार्थी हूं और पंज प्यारों के अग्रणी स्थान की किसी और से तुलना नहीं की जा सकती है. मुझसे ये गलती हुई है, मैं लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए क्षमा प्रार्थी हूं. उन्होंने आगे लिखा, मैं प्रायश्चित स्वरूप अपने राज्य के किसी गुरुद्वारे में कुछ देर झाड़ू लगाकर सफाई करूंगा. मैं सिख धर्म और उसकी महान परंपराओं के प्रति हमेशा समर्पित भाव और आदर भाव रखता रहा हूं. वहीं राहुल गांधी ने जलियांवाला बाग़ का पुनर्निमाण पर केंद्र पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया जबकि सीएम अमरिंदर ने इसका स्वागत करते हुए केंद्र के कार्य को सराहा.

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

यात्रियों से अवैध वसूली करते तीन टीटीई पकड़े रेलवे बोर्ड विजिलेंस ने की जनशताब्दी में कार्रवाई टीम को देखते ही एक टीटीई ने फेंके पैसे

विजिलेंस कार्रवाई के बाद जागा रेल प्रशासन, जनशताब्दी में वेटिंग यात्रियों को सीट देने के जारी किए आदेश

कोटा।  रेलवे बोर्ड विजिलेंस की कार्रवाई के बाद रेल प्रशासन की आंखें खुली हैं। शनिवार …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com