fbpx
Breaking News

राजस्थान समग्र जैन युवा परिषद् के राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को लिखी पाती


राजस्थान समग्र जैन युवा परिषद् के राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को लिखी पाती

“प्रथम तीर्थंकर देवाधिदेव ऋषभदेव भगवान के जन्म एवं दीक्षा कल्याणक महोत्सव पर घोषित किया जाए सार्वजनिक अवकाश “
प्रथम तीर्थकर प्रभु श्री ऋषभदेव भगवान के जन्म एवं दीक्षा कल्याणक महोत्सव पर राजस्थान समग्र जैन युवा परिषद् ने महामहिम राज्यपाल महोदय श्रीयुत कलराज जी मिश्र और राजस्थान सरकार के मुखिया माननीय मुख्यमंत्री श्रीयुत अशोक जी गहलोत साहब को पाती भेजकर इस दिन सार्वजनिक अवकाश घोषित किये जाने की मांग की है l

इस अवसर पर परिषद् के परम संरक्षक अशोक जी बांठिया साहब ने बताया की राजस्थान जैन धर्म की पूरी चौबीसी के प्रथम तीर्थंकर देवाधिदेव भगवान ऋषभदेव है l इन्हें वर्तमान के अवसर्पिणी काल के प्रथम तीर्थंकर भी माना जाता है l उनके पुत्र भरत के नाम पर इस देश का नाम भारतवर्ष पडा़ हैं l भगवान ऋषभदेव का समय संक्रान्ति का समय था l उन्होने राजा के रूप में जनता को शस्त्र विध्या ,लेखन कला, कृषि, ज्योतिष, व्यापार, कला एवं शिल्प (कारीगरी) का ज्ञान दिया l उस काल से आज तक कृषि का मूलाधार रहा बृषभ (बैल) ही भगवान ऋषभदेव का प्रतीक है l

वयोवृद्ध समाजसेवी राधेश्याम जैन ने बताया कि भगवान ऋषभदेव जैन धर्म के प्रथम श्रवण, पहले राजा, असी मसीह के प्रतिपादक थे l उन्होंने दुनिया को सभी प्रकार के कार्यो मे मार्गदर्शन प्रदान किया l ऐसे आदिनाथ परमात्मा ऋषभदेव प्रभु आदि देव कहलाए l इसलिए इनका नाम आदिनाथ पड़ा l

राजस्थान समग्र जैन युवा परिषद् के अध्यक्ष जिनेन्द्र जैन ने बताया की चैत्र कृष्ण नवमी के दिन जैन धर्म के लोग युगाधिदेव ऋषभदेव प्रभु के पंच कल्याणक पूजन के साथ -साथ भव्य रथयात्रा निकालते हैं l इस दिन भगवान का पंचामृत अभिषेक, चंदन केशर आदि से पूजन एवं विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं l भगवान ऋषभदेव लाखों जैन धर्माबलम्बियों के सामाजिक, सांस्कृतिक एवं स्वाभिमान की पहचान और गौरव के प्रतीक हैं l परन्तु अल्पसंख्यक वर्ग के जैन समुदाय के द्वारा कई बार निवेदन करने के बावजूद भी सरकार द्वारा ऋषभदेव भगवान के जन्म एवं दीक्षा कल्याणक महोत्सव पर सार्वजनिक अवकाश घोषित नहीं करने के कारण जैन समुदाय के लोगो मे काफी आक्रोश है l

मंगल चन्द जैन ने बताया की माननीय महामहिम राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री महोदय से पाती को माध्यम से करबद्ध प्रार्थना की है की वर्ष 2022 के अन्तर्गत देवाधिदेव भगवान ऋषभदेव के जन्म एवं दीक्षा कल्याणक महोत्सव पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किये जाने का आदेश पारित करने के साथ -साथ उनके योगदान को भी पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए साथ ही दूरदर्शन पर उनके ऊपर बनी फिल्म को प्रसारित करवाने के लिये निवेदन किया l

भवदीय
जिनेन्द्र जैन
7877735999
अध्यक्ष
राजस्थान समग्र जैन युवा परिषद्

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

मुख्य समाचार

मुख्य समाचार ■ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडन के निमंत्रण पर आज …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *