fbpx
Breaking News
कोहरे का असर: ट्रेन के ड्राइवरों को दी जा रही फॉग सेफ्टी डिवाइस

कोहरे का असर: ट्रेन के ड्राइवरों को दी जा रही फॉग सेफ्टी डिवाइस

कोहरे का असर: ट्रेन के ड्राइवरों को दी जा रही फॉग सेफ्टी डिवाइस

गंगापुर सिटी में 198 फॉग सेफ्टी डिवाइस तैयार
भास्कर न्यूज. गंगापुर सिटी
कोहरे की वजह से ट्रेनों के संचालन पर असर नहीं पड़े इसको देखते हुए हुए कोटा से दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनों के ड्राइवरों को फाग सेफ्टी डिवाइस दी जा रही है। साथ ही कोटा रेल मंडल में कोहरे में ट्रेनों के पहिए नहीं थामे,उसके लिए 718 पेट्रोल मैन लगाए है।दिल्ली मुंबई रेल मार्ग के कोटा रेल मंडल में मथुरा से सवाई माधोपुर इंदरगढ़ सुमेरगंज मंडी रेलवे स्टेशन के आसपास तक कोहरे का असर दिखाई देता है। कोहरे में ट्रेनों के संचालन के लिए रेलवे ने सभी तैयारी कर ली है इसके लिए कोटा में 102 और गंगापुर सिटी में 198 फॉग सेफ्टी डिवाइस तैयार किए हैं। कैसे किया जाता फाग सेफ्टी डिवाइस का उपयोग कोहरे में ट्रेनों के संचालन के लिए फाग सेफ्टी डिवाइस का उपयोग किया जाने लगा है। इस डिवाइस को ट्रेन के इंजन में लगाया जाता है। इससे लोको पायलट को सिंगल और ट्रैक पर किसी भी प्रकार के गतिरोध की जानकारी ऑडियो वीडियो सिस्टम के जरिए मिल जाती है। जैसे ही एक स्टेशन से ट्रेन रवाना होती है। पायलट को प्ले स्टेशन का डिस्टेंस की जानकारी मिलने लगती है कोटा रेल मंडल में मथुरा से सवाई माधोपुर व गंगापुर सिटी तक कोहरे का असर रहता हैकोटा रेल मंडल के मथुरा से गंगापुर सिटी सवाई माधोपुर तक कोहरे का असर रहता है। इस रूट पर घने कोहरे के कारण केवल ट्रेनों की स्पीड भी निर्धारित कर दी जाती है। इसके लिए रेलवे स्टेशन मास्टर द्वारा ट्रेनों के ड्राइवर सतर्कता आदेश जारी किए जाते हैं इसमें ट्रेन की स्पीड 30 किमी प्रति घंटा 60 किमी प्रति घंटा तक लिखा जाता है।
रेलवे की तैयारी
 रेलवे अधिकारियों के अनुसार रात 11:00 बजे से 7:00 बजे तक ट्रेन पेट्रोलिंग कराई जा रही है। सिंगल बोर्ड को पेट किया गया है। इसके अलावा ट्रेन के पीछे एलईडी इंडिकेटर लगाया जाएगा। ओएचई की सफाई की गई है। डेटोनेटर बिछाने के लिए फॉगमैन की तैनाती की जाएगी।
इनका कहना है
कोटा रेल मंडल में पेट्रोलिंग शुरू कर दी गई है इस कार्य में पूरे मंडल में 718 पेट्रोल नैनो की ड्यूटी पर लगाया गया है इंजन के केबिन में लगाने के लिए 304 सेफ्टी डिवाइस तैयार हैं जिन्हें ड्राइवरों को दिया जाने लगा है।अजय कुमार पाल, रेलवे सीनियर डीसीएम कोटा।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

18 वर्ष वालों को वैक्सीन लगाने के लिए 200 करोड़ डोजेज चाहिए।

18 वर्ष वालों को वैक्सीन लगाने के लिए 200 करोड़ डोजेज चाहिए। नेगेटिव रिपोर्ट के …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *