IMG  WA

एनजीटी के निर्देशों की पालना सुनिश्चित की जाए

एनजीटी के निर्देशों की पालना सुनिश्चित की जाए
सवाईमाधोपुर, एनजीटी द्वारा पारित निर्णयों की पालना के लिये गठित जिला स्तरीय समिति की बैठक सोमवार को जिला कलेक्टर राजेन्द्र किशन की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट में आयोजित हुई।
कलेक्टर ने दोनों नगरपरिषद क्षेत्रों में प्रतिबंधित पॉलीथिन जब्त करने की कार्रवाई में तेजी लाने के निर्देश दिये। इसके तहत पॉलीथिन के होल सेल विक्रेताओं पर विशेष ध्यान दिया जाये। कलेक्टर ने प्रदूषण फैलाने वाले नाकारा वाहनों, आबादी क्षेत्र में नियम विरूद्ध हॉर्न बजाने वालों के विरूद्ध कार्रवाई करने, निजी और सरकारी अस्पतालों के कचरा निस्तारण में पूर्ण सावधानी बरतने के निर्देश दिये। उन्होंने खनिज लीज का उल्लंघन करने पर कार्रवाई के निर्देश दिये हैं। लीजधारी को निर्धारित स्थान पर निश्चित संख्या में पौधे लगाकर उनकी देखभाल करनी होती है। इस कार्य का सत्यापन करने के खनिज अभियन्ता को निर्देश दिये। बजरी के अवैध खनन और परिवहन को रोकने के लिये की गई कार्रवाई की भी समीक्षा की।
जिला परिषद के प्रतिनिधि ने बताया कि आदर्श ग्राम पंचायत बहरावण्डा खुर्द के सम्बंध में पॉंचों बिन्दुओं की पालना में कार्य पूर्ण हो चुके हैं, इसी प्रकार चौथ का बरवाडा एवं श्यामपुरा में कार्य सम्बंधी डीपीआर के बारे में हुई प्रगति की रिपोर्ट दी गई। जिले की 152 ग्राम पंचायतों में ठोस और तरल कचरा प्रबंधन की डीपीआर तैयार करवाई गई है।
सवाईमाधोपुर नगरपरिषद अधिशाषी अभियन्ता ने सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोसेसिंग फेसिलिटी की प्रगति की जानकारी दी। सवाईमाधोपुर शहर से 3 टन प्लास्टिक कचरा रिसाईकल करने के लिये लाखेरी भेजा गया है। सूरवाल में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के ट्रीटेड पानी का उपयोग कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा किया जा रहा है। गंगापुर सिटी के कचरे को संग्रहित और निस्तारित करने के लिये दौलतपुर स्थित कचरागाह में एमआरएफ के निर्माण कार्य की प्रगति समीक्षा की गई। गंगापुर में कम्पोस्टिंग मशीन लगाने की कार्य प्रगति की भी समीक्षा की।
एनजीटी के आदेशानुसार रामेश्वर घाट पर चम्बल तथा अन्य स्थानों पर बनास, मोरेल, जीवद और ढील से निरन्तर सैम्पल लेकर लैब टेस्टिंग की जा रही है। गत माह तक लिये गये सैम्पलों की प्रदूषण नियन्त्रण मण्डल से जॉंच रिपोर्ट आ चुकी है। बैठक में जिला पर्यावरण योजना के संबंध में प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा भी की गई।
बैठक में खनिज विभाग, वन विभाग से जुडे बिन्दुओं पर चर्चा कर प्रस्तावों की पालना के संबंध में निर्देश दिए। बैठक में डीएफओ जयराम पांडे, अति.सीएमएचओ डॉ.कैलाश सोनी, महा प्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के प्रतिनिधि, आयुक्त नगर परिषद सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें