ग्राम खवारावजी एवं ग्राम नन्देरा में पेयजल सप्लाई सुचारू रूप से दुरूस्त

पेयजल का समान वितरण किया जाए,

पेयजल का समान वितरण किया जाए,
हैंडपंप मरम्मत के लिए टीमांे को समय पर भिजवाया जाए
बिजली, पानी, चिकित्सा सहित अन्य विभागों के कार्याे की प्रगति
समीक्षा कर कलेक्टर ने दिए निर्देश
सवाईमाधोपुर, 21 दिसंबर। जिला कलेक्टर राजेन्द्र किशन ने सोमवार को बिजली, पानी, चिकित्सा सहित अन्य विभागों की समीक्षा बैठक में विभागों में चल रहे कार्याे एवं योजनाओं की समय पर क्रियांविति के संबंध में निर्देश दिए।
कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बिजली, पेयजल, स्वास्थ्य सहित अन्य विभागों की योजनाआंे एवं स्वीकृत कार्याे की प्रगति समीक्षा करते हुए जिला कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आमजन के कार्याे को प्राथमिकता के साथ निस्तारित करें। जिससे पैंडेंसी नहीं रहे। उन्होंने जेवीवीएनएल के अधीक्षण अभियन्ता को झूलते और जर्जर तारों को बदलने या मरम्मत करने के निर्देश दिये हैं। सिंगल फेस और थ्री फेस ट्रांसफार्मरों की जिले में मांग और उपलब्धता की समीक्षा की। इसी प्रकार कृषि कनेक्शन एवं घरेलू कनेक्शन देने के कार्याे में तेजी लाने के निर्देश दिए। बैठक में बिजली निगम की प्रगतिरत 132 केवी एवं 33 केवी जीएसएस के कार्याे की समीक्षा की। कलेक्टर ने दिल्ली बडोदरा एक्सप्रेस वे के बीच आने वाले चार स्थानों के बिजली के तारों की अंडरग्राउंड शिफ्टिंग के कार्य को शीघ्र करवाने के संबंध में बिजली निगम के एसई को निर्देश दिए।
जिला कलेक्टर ने पीएचईडी के कार्याे की समीक्षा करते हुए अधीक्षण अभियंता से जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की संचालित योजनाओं की विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने जिले में संचालित पेयजल की पाइप्ड योजना, जनता जल योजना एवं हैंडपंप आदि के बारे में विस्तार से जानकारी ली। जिले में स्वीकृत 379 नए हैंडपंप के संबंध में प्रगति, खराब हैंडपंपों की मरम्मत के संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने नाकारा हो चुके हैंडपंपों का सर्वे करवाकर इन्हें भूजल रिचार्ज के रूप में उपयोग करवाने के लिए विशेष प्रयास के निर्देश दिए। कलेक्टर ने जिले में शुद्ध पेयजल के लिए संचालित 123 आरओ प्लांट, सोलरबेस नलकूप, डीएफयू यूनिट आदि के संचालन की समीक्षा कर निर्देश दिए। पेयजल का समान वितरण हो, अवैध कनेक्शन, बूस्टर लगाने, बिना टोंटी वाले नलों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए। हैंडपंप मरम्मत के कार्य को तारीखवार एक्शन प्लान बनाकर करवाने के निर्देश अधीक्षण अभियंता को दिए। इसी प्रकार कोहली प्रेमपुरा गांव में पेयजल आपूर्ति के लिए एक टैंकर द्वारा प्रतिदिन दो फेरे लगाकर ग्रामीणों को आपूर्ति करवाने का कार्य शुरू करने की जानकारी अधीक्षण अभियंता ने दी।
जिला कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि जनहित को सर्वाेपरि रखते हुए अधिकारी कार्य करें। उन्होंने अधिकारियों से कार्याे को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए तथा कहा कि कार्याे को पूरा करने तथा योजनाओं का लाभ पात्रों को मिले। बैठक में डीएम ने सीएमएचओ को निर्देश दिये कि नियमित टीकाकरण की प्रगति को बढायें, मौसमी बीमारियों पर नियंत्रण के लिये पूरी तैयारी रखें। इसी प्रकार जिले में कोविड -19 की स्थिति, सैंपल बढाने तथा इसके लिए की गई व्यवस्थाओं की समीक्षा की।
आरयूआईडीपी के अधिशासी अभियंता को सीवरेज कार्य को समय पर करवाने के निर्देश देते हुए अब तक हुई कार्य की प्रगति समीक्षा की। बैठक में सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता से सडकों के पेचवर्क एवं मरम्मत के कार्य की समीक्षा की। बैठक में अधीक्षण अभियंता पीएचईडी सीताराम मीना, जेवीवीएनएल, पीडब्ल्यूडी, सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीना, अधिशासी अभियंता आरयूआईडीपी सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें