fbpx
रविवार , अक्टूबर 17 2021
Breaking News
Phone Panchayat
बांसरोटा बने राजस्थान शिक्षक महासंघ के जिलाध्यक्ष

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री व कृषि एवं पशुपालन मंत्री ने ली जिला स्तरीय समीक्षा बैठक नागौर जिला प्रशासन के नवाचारों को सराहा

DESCRIPTION

 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री व कृषि एवं पशुपालन मंत्री ने ली जिला स्तरीय समीक्षा बैठक
नागौर जिला प्रशासन के नवाचारों को सराहा
जयपुर, 22 दिसम्बर। राज्य सरकार के दो वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने के अवसर पर नागौर जिले में जन घोषणा पत्र के तहत हुए विकास कार्यों और उपलब्धियों को लेकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा तथा कृषि एवं पशुपालन मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने मंगलवार को जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली।
नागोर जिला कलक्ट्रेट सभागार में हुई इस समीक्षा बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री व कृषि एवं पशुपालन मंत्री ने राज्य सरकार द्वारा अपने चुनाव घोषणापत्र में किए गए विकास कायोर्ं को क्रियान्वित करने के संबंध में अधिकारियों से जानकारी ली और इसे लेकर और अधिक सक्रियता व संवेदनशीलता और समयबद्धता के साथ कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने विभिन्न विभागों की प्रगति रिपोर्ट जानने के बाद आवश्यक मार्गदर्शन भी दिया।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. शर्मा तथा कृषि एवं पशुपालन मंत्री श्री कटारिया ने वंचित पात्र आशार्थियों को शिविर लगाकर पालनहार योजना का लाभ दिलाने, विशेष शिविर आयोजित कर नए सिलिकोसिस रोगी चिन्हित करने, ब्लॉक स्तर पर दिव्यांगों के लिए विशेष शिविर लगाने तथा खेत-ढाणी की राह आसान करने के लिए चलाए जा रहे रास्ता खोलो अभियान सरीखे नवाचारों पर जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी  के प्रयासों की सराहना की।
समीक्षा बैठक में स्लाइड प्रजेंटेशन के जरिए सबसे पहले सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से दी गई प्रगति रिपोर्ट पर समीक्षा करते हुए सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री ने कहा कि जिले में सड़कों का विकास संतोषजनक है, परन्तु दुर्घटनाओं को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाएं जाएं। राजमार्ग सहित गांवों की ओर जाने वाली मुख्य सड़कों पर रोड सेफ्टी के नियमों को इंगित किया जाए। इसके बाद जिला रसद अधिकारी और फिर जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग व नागौर लिफ्ट पेयजल परियोजना के मुख्य अभियंता और फिर अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के अधीक्षण अभियंता की ओर से प्रगति रिपोर्ट कर स्लाइड पर प्रस्तुतिकरण किया गया।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री तथा कृषि पशुपालन मंत्री ने विद्युत निगम की प्रगति रिपोर्ट पर समीक्षा के निर्देश दिए कि कृषि कनेक्शनों पर विद्युत सप्लाई को लेकर नागौर जिले को तीन-तीन ब्लॉक में बांटकर कर रोटेशन के आधार पर साप्ताहिक रूप से बिजली देने के समय में परिवर्तन करने का निर्देश दिया। इस अवसर पर अधिकारियों ने नागौर में 222 केवी और 132 केवी के जीएसएस लगाने की आवश्यकता जताई, जिस पर कृषि मंत्री ने सरकार के स्तर पर सकारात्मक कार्रवाई करवाने का आश्वासन दिया। बैठक में डीडवाना विधायक चेतन डूडी द्वारा मौलासर क्षेत्र में उपभोक्ताओं को फ्लैट रेट से बिजली के बिल जारी करने के मसले को गंभीरता से लेते हुए सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री शर्मा ने विद्युत निगम के अधीक्षण अभियंता को जांच करवाकर रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिए। इसके साथ ही खरवालिया व पीड़वा में फीडर चेंज के संबंध में शीघ्र सामग्री आवंटित करने का भी निर्देश दिए गए। बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा कृषि व पशुपालन मंत्री ने जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी से कहा कि जिले में पानी, बिजली और सड़क सुविधाओं से जुड़े मसलों के निराकरण और रिव्यु को लेकर संबंधित विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों व जनप्रतिनिधिगण की बैठक बुलाई जाए।
इसके बाद चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की प्रगति रिपोर्ट पर समीक्षा करते हुए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि राजकीय जेएलएन अस्पताल, नागौर सहित जिले के उप जिला अस्पतालों में आईसीयू बैड बढ़ाएं जाएं, जिले में दस सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को मॉडल सीएचसी के रूप में विकसित किया जाए, ऑक्सीजन सिलेण्डर की मात्रा बढ़ाई जाए। चिकित्सा मंत्री ने निर्देश दिए कि लैब टैक्नीशियन व एक्स-रे टैक्नीशियन को विशेष प्रशिक्षण दिलाया जाए ताकि वे अत्याधुनिक जांच उपकरणों का संचालन ठीक से कर सकें। डॉ. शर्मा ने नागौर में कोविड-19 मैनेजमेंट की प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा के बाद कहा कि हर समय सतर्क रहें, सरकार द्वारा देय चिकित्सा सुविधाएं सरकारी चिकित्सा संस्थानों में हर समय उपलब्ध रहनी चाहिए, कोरोना अभी गया नहीं है, सतर्क रहें और हर परिस्थिति में तैयार रहें, क्योंकि हर मरीज का जीवन बचाना हमारा कर्तव्य है। कृषि मंत्री कटारिया ने मोबाइल मेडिकल यूनिट के मॉनिटरिंग सिस्टम को अपडेट रखने के निर्देश दिए ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि आमजन इससे लाभान्वित हो रहा है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की प्रगति रिपोर्ट पर संतोषव्यक्त करते हुए चिकित्सा मंत्री शर्मा व कृषि मंत्री श्री कटारिया ने कहा कि पेंशन योजनाओं का लाभ हर पात्र को मिले, यह सुनिश्चित कर लिया जाए। उन्होंने पालनहार योजना में नागौर का राज्य में पहला स्थान होने पर संतोष व्यक्त किया।
कृषि मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने फसल बीमा की किसानों को दी जाने वाली बकाया क्लेम राशि के संबंध में भी जानकारी ली और इसका भुगतान करवाने के निर्देश दिए। इस उप निदेशक कृषि विस्तार ने अब तक की गई आवश्यक कार्रवाई और किसानों को दिलवाए गए बकाया फसल बीमा क्लेम के बारे में कृषि मंत्री को जानकारी दी। कृषि मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने किसानों के कल्याण के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने और इसमें आवेदन करने वाले किसानों को नियमानुसार जल्द लाभान्वित करने के निर्देश दिए। उन्होंने नागौर जिले में इस योजना के तहत किसानों की प्रशिक्षण  की आवश्यकता पर भी बल दिया। श्री कटारिया ने राजस्थान कृषि प्रसंस्करण, कृषि व्यवसाय एवं कृषि निर्यात प्रोत्साहन नीति के बारे में किसानों को जागरूक करने और उन्हें इसका लाभ दिलाने के निर्देश दिए। कृषि एवं पशुपालन मंत्री ने नागौर जिले में पशुपालन विभाग की प्रगति रिपोर्ट पर समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने खनन क्षेत्रों में काम करने वाले श्रमिकों की हैल्थ टीम भेजकर हर माह स्वास्थ्य जांच करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने खनन क्षेत्रों के श्रमिकों को सिलिकोसिस बीमारी से बचाने के लिए वहां वेट ड्रिलिंग करवाने के साथ-साथ इसे लेकर नियमों का पालन नहीं करने वाले खनन पट्टधारियों को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने श्रम विभाग व क्षय रोग निवारण अधिकारी को निर्देश दिए कि सिलिकोसिस पीड़ित की मृत्युपरान्त आश्रितों को नई सिलिकोसिस नीति के तहत दी जाने वाली सहायता राशि के भुगतान में विलंब न किया जाए।
समीक्षा बैठक में नागौर की जिला प्रभारी सचिव व संभागीय आयुक्त डॉ. वीना प्रधान, जिला पुलिस अधीक्षक श्वेता धनकड़, पूर्व मंत्री व जायल की विधायक डॉ. मंजू मेघवाल, डीडवाना के विधायक श्री चेतन डूडी, पूर्व विधायक श्री जाकिर हुसैन, जिला प्रमुख भागीरथ राम, अतिरिक्त जिला कलक्टर मनोज कुमार, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री जवाहर चौधरी, सहायक निदेशक लोकसेवाएं दमयंती राठौड़ व नागौर पंचायत समिति प्रधान सुमन सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।
दो साल जन सेवा के, प्रदर्शनी का अवलोकन किया
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य व सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री डॉ. रघु शर्मा तथा कृषि व पशुपालन मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने जिला स्तरीय समीक्षा बैठक से पूर्व कलेक्ट्रेट परिसर में ही सूचना एवं जनसंपर्क विभाग तथा नगर परिषद की ओर से लगाई गई दो साल जन सेवा के, विकास प्रदर्शनी का अवलोकन किया। उनके साथ जिला प्रभारी सचिव डॉ. वीना प्रधान तथा जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

राजस्थान

मौसमी बीमारियों की रोकथाम में भी सहायता करेंगे कोविड स्वास्थ्य सहायक

Description मौसमी बीमारियों की रोकथाम में भी सहायता करेंगे कोविड स्वास्थ्य सहायकजयपुर, 16 अक्टूबर। राज्य …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com