fbpx
बुधवार , अक्टूबर 27 2021
Breaking News
Phone Panchayat

अन्तरराष्ट्रीय ई-वेस्ट दिवस-14 अक्टूबर- ई-कलेक्शन ड्राइव के तहत मोबाइल वैन के जरिये किया जाएगा डोर टू डोर ई-कचरा संग्रहण

Description

अन्तरराष्ट्रीय ई-वेस्ट दिवस-14 अक्टूबर-ई-कलेक्शन ड्राइव के तहत मोबाइल वैन के जरिये किया जाएगा डोर टू डोर ई-कचरा संग्रहणजयपुर, 14 अक्टूबर। राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल द्वारा अन्तरराष्ट्रीय ई-वेस्ट दिवस- 2021 के अवसर पर मण्डल मुख्यालय से डोर टू डोर ई-वेस्ट संग्रहण के लिए मोबाइल वैन रवाना की गई। मण्डल अध्यक्ष श्रीमती वीनू गुप्ता ने वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने बताया कि 14 से 24 अक्टूबर तक चलने वाली ई-कलेक्शन ड्राइव के तहत राज्य में ई-वेस्ट के अधिकृत डिस्मेंटलर तथा रिसाईकलर्स द्वारा उपयोगकर्ताओं से ई-वेस्ट एकत्रित किया जाएगा तथा उन्हें इसके लिए उचित प्रोत्साहन राशि व प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा। इस अवसर पर श्रीमती गुप्ता ने ई-वेस्ट “टेक बैक वेब पोर्टल” का उद्घाटन भी किया।अन्तरराष्ट्रीय ई-वेस्ट दिवस पर मण्डल मुख्यालय में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि श्रीमती गुप्ता ने कहा कि राज्य में ई-वेस्ट के समुचित निस्तारण के लिए अधिकृत डेटा की आवश्यकता महसूस की जा रही है। इसे ध्यान में रखते हुए राज्य में ई-वेस्ट के अध्ययन के लिए एन्वायर्नमेंट प्रोटेक्शन ट्रेनिंग एण्ड रिसर्च इंस्टीट्यूट, हैदराबाद के साथ एमओए किया गया है। इसके तहत संस्था द्वारा राज्य के 5 शहरों जयपुर, जोधपुर, अजमेर, कोटा तथा उदयपुर में ई-वेस्ट का अध्ययन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इससे राज्य में ई-वेस्ट उत्पन्न होने की मात्रा तथा निस्तारण की सही-सही गणना की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि तकनीक के विकास के साथ साथ ई-वेस्ट में भी तेजी से इजाफा हो रहा है तथा नगरों के साथ साथ ग्रामीण इलाकों में भी ई-वेस्ट की समस्या तेजी से बढ़ रही है। इसीलिए ई- वेस्ट की री साइक्लिंग को वृहद स्तर पर किये जाने की योजना बनाई जा रही है। उन्होंने रीसाइक्लर्स को कहा कि उन्हें प्रति वर्ष कम से कम 30 हजार मीट्रिक टन ई-कचरे के निस्तारण का लक्ष्य लेकर काम करना होगा। उन्होंने कहा कि आमजन को ई- वेस्ट के प्रति जागरूक किया जाना चाहिये।मण्डल के सदस्य सचिव श्री आनंद मोहन ने बताया कि राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल द्वारा “अंतरराष्ट्रीय-ई-वेस्ट दिवस-2021” का प्रथम बार आयोजन किया गया है। इस अवसर पर भीलवाड़ा, जोधपुर, अलवर व भिवाड़ी के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों एवं रिहायशी कॉलोनियों, रेजिडेन्शियल वेलफेयर एसोसिएशन, शॉपिंग मॉल व अन्य वाणिज्यिक संस्थानों के लिए “ई-वेस्ट कलेक्शन ड्राइव” का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि “मोबाइल वैन” के माध्यम से ई-वेस्ट एकत्रित किया जाएगा तथा पोस्टरों, बैनरों के माध्यम से आमजन को इस संबंध में जागरूक भी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आर.एल.जी. इण्डिया द्वारा ई-वेस्ट “टेक बैक वेब पोर्टल विकसित  किया गया है। इसके माध्यम से व्यक्ति या संस्था ई-वेस्ट का निस्तारण घर से ही ई-कॉमर्स साइट के समान कर सकते हैं और ऑनलाइन ई वेस्ट देकर उचित मूल्य प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि इसके लिए मोबाइल एप भी शीघ्र ही लाया जाएगा। कार्यक्रम में मण्डल के अधिकारियों के अतिरिक्त आरएलजी तथा एन्वायर्नमेंट प्रोटेक्शन ट्रेनिंग एण्ड रिसर्च इंस्टीट्यूट के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।  —-

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

डॉ. मनसुख मांडविया ने निवेशक शिखर सम्मेलन- “औषध और चिकित्सा उपकरणों में अवसर व भागीदारी” का उद्घाटन और इसे संबोधित किया

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और रसायन एवं उर्वरक मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने आज …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com