fbpx
शनिवार , जनवरी 22 2022
Breaking News

योग महोत्सव शुभांरभ -नाथद्वारा नाथद्वारा शहर की धार्मिक ,सांस्कृतिक पहचान – विधानसभा अध्यक्ष योग से शरीर रहता है स्वस्थ, योग अपनायें – आयुर्वेद राज्यमंत्री योग को जीवन में अपनायें – खान व गोपालन मंत्री

Description

योग महोत्सव शुभांरभ -नाथद्वारा नाथद्वारा शहर की   धार्मिक ,सांस्कृतिक  पहचान  – विधानसभा अध्यक्षयोग से शरीर रहता है स्वस्थ, योग अपनायें – आयुर्वेद राज्यमंत्री योग को जीवन में अपनायें – खान व गोपालन मंत्री जयपुर, 10 जनवरी। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी. पी. जोशी ने कहा कि नाथद्वारा में गायत्री शक्ति पीठ का एक केन्द्र बने। विधानसभा अध्यक्ष सोमवार को राजसमंद जिले के नाथद्वारा शहर में आयोजित तीन दिवसीय योग महोत्सव के समापन अवसर पर कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने योग के माध्यम से जीवन में मिलने वाले लाभ के बारे में भी बताया । महोत्सव में आयुर्वेद राज्य मंत्री डॉ सुभाष गर्ग  ने कहा कि योग को जीवन में अपनाये जिससे हम स्वस्थ्य रह सके इसके साथ ही उन्होंने कहा कि निरोगी राजस्थान हमारा संकल्प है। उन्होेंने कहा कि  भारत में उपचार के लिये योग एवं आयुर्वेद हमारे प्राचीन पद्वतियां है जिनसे हम स्वस्थ रह सकते है। इस अवसर पर खान व गौपालन मंत्री श्री प्रमोद जैन भाया ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते  हुये योग के महत्व के बारे में बताया और कहा कि इससे हमारा  मन और मस्तिष्क स्वस्थ रहता है । इसके अनेक लाभ है जिससे कोरोना महामारी में संक्रमण से बचने में मदद मिल सकती है। उन्होंने गौशालाओं और उनके गो संरक्षण, संर्वद्वन के संदर्भ में विस्तार से सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम को वर्चुअली  डॉ पण्ड्या ने भी सम्बोधित किया और गायत्री परिवार के बारे में चल रहे कामों की जानकारी दी। राजसमंद जिला कलक्टर श्री अरविन्द कुमार पोसवाल नगर पालिका के उपाध्यक्ष श्यामलाल गुर्जर समाजसेवी हरिसिंह राठौड, पुष्पेन्द्र भारद्वाज, गायत्री परिवार सहित आमजन मौजूद थे। 

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें

Check Also

राजस्थान

मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्र भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी संघवाद की भावना के विपरीत सरदार पटेल द्वारा ‘स्टील फ्रेम ऑफ इंडिया’ बताई गई सेवाएं भविष्य में कमजोर होंगी

Description मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्रभारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *