fbpx
बुधवार , जनवरी 19 2022
Breaking News

तीन साल में 2.48 लाख कृषि कनेक्शनों सहित 20.63 लाख विद्युत कनेक्शन जारी, सोलर रुफटाप में भी राजस्थान तीसरे पायदान पर -अतिरिक्त मुख्य सचिव ऊर्जा

Description

तीन साल में 2.48 लाख कृषि कनेक्शनों सहित 20.63 लाख विद्युत कनेक्शन जारी,सोलर रुफटाप में भी राजस्थान तीसरे पायदान पर-अतिरिक्त मुख्य सचिव ऊर्जाजयपुर, 11 जनवरी। अतिरिक्त मुख्य सचिव ऊर्जा डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया है कि राज्य में पिछले तीन वर्षों में 2 लाख 48 हजार नए कृषि कनेक्शनों सहित 20 लाख 63 हजार नए विद्युत कनेक्शन जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में 60 हजार 672 कृषि कनेक्शन जारी किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में विद्युत क्षेत्र में विद्युत उत्पादन से लेकर वितरण तक सभी क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की है। एसीएस माइंस, पेट्रोलियम व एनर्जी डॉ. सुबोध अग्रवाल मंगलवार को वर्चुअल बैठक मेें ऊर्जा विभाग से जुड़ी सभी संस्थाओं के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि तीन साल मेें प्रदेश में 2 लाख 48 हजार कृषि कनेक्शन, 12 लाख 55 हजार ग्रामीण क्षेत्र में घरेलू कनेक्शन, शहरी क्षेत्र में 3 लाख 51 हजार घरेलू कनेक्शन और 3 हजार 319 बीपीएल कनेक्शन जारी किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि सोलर रुफटॉप में भी राजस्थान अब देश में तीसरे पायदान पर आ गया है। अब तक 516 सोलर रुफटाप संयत्र स्थापित किए जा चुके हैं। एसीएस डॉ. अग्रवाल ने अधिकारियोें से मिशन मोड़ पर काम करते हुए जनघोषणा पत्र, बजट घोषणाओं, मुख्यमंत्री की घोषणाओं, दिशा-निर्देशों, मुख्यमंत्री द्वारा गत समीक्षा बैठकों में दिए गए निर्देशों और संपर्क पोर्टल पर प्राप्त प्रकरणों व मुख्यमंत्री कार्यालय में दर्ज शिकायतों के शीघ्र व समयबद्ध निस्तारण की सराहना करते हुए आगे भी यही गति जारी रखने के निर्देश दिए। सीएमडी डिस्कॉम्स श्री भास्कर ए सावंत ने बताया कि विभाग द्वारा प्राप्त प्रकरणों और शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने बताया कि संपर्क पोर्टल पर दर्ज 8 लाख 26 हजार 177 शिकायतों में से 8 लाख 16 हजार 702 शिकायतों का निस्तारण किया जा चुका हैं वहीं मुख्यमंत्री कार्यालय में दर्ज एक हजार 162 शिकायतों में से 6 शिकायतों का निस्तारण विभागीय स्तर पर होना है जबकि एक हजार112 शिकायतों का निस्तारण दर्ज कराया जा चुका है और 42 प्रकरण क्लोजर प्रक्रिया में है। श्री सावंत ने बताया कि नियमित समीक्षा और प्रभावी कार्यवाही का ही परिणाम है कि राज्य में विद्युत आपूर्ति व्यवस्था में उल्लेखनीय सुधार यहां तक कि कोल समस्या के बावजूद निर्बाध आपूर्ति बनाए रखने में सफलता प्राप्त की गई है। उन्होंने बताया कि परस्पर सहयोग व समन्वय का परिणाम है कि सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने लगे हैं। बैठक में सीएमडी विद्युत उत्पादन निगम श्री आर.के. शर्मा ने बताया कि राज्य में विद्युत उत्पादन क्षमता में लगातार बढ़ोतरी की जा रही है वहीं देशव्यापी कोल संकट के बावजूद कोयले की आपूर्ति व्यवस्था में सुधार के प्रयास जारी है। बैठक में संयुक्त सचिव एनर्जी श्री आलोक रंजन, जयपुर डिस्काम के एमडी श्री नवीन अरोड़ा डिस्काम्स के वरिष्ठ अधिकारी व अन्य संस्थाओं के अधिकारी उपस्थित रहे।——

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें

Check Also

उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय के मणिपुर के सेनापति जिले में एपेक्स क्लस्टर कम्युनिटी रिसोर्स डेवलपमेंट सोसाइटी (एसीसीओआरडीएस) द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिरता और उन्नति

एपेक्स क्लस्टर कम्युनिटी रिसोर्स डेवलपमेंट सोसाइटी (एसीसीओआरडीएस) एक गैर लाभकारी संगठन है जिसकी स्थापना वर्ष …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *