fbpx
शनिवार , जनवरी 22 2022
Breaking News

इन्वेस्टमेंट समिट के माध्यम से दौसा में विकास के नये आयाम होंगे स्थापित – 950 करोड़ रुपए से अधिक इन्वेस्टमेंट का हुआ एमओयू

Description

इन्वेस्टमेंट समिट के माध्यम से दौसा में विकास के नये आयाम होंगे स्थापित -950 करोड़ रुपए से अधिक इन्वेस्टमेंट का हुआ एमओयू  जयपुर, 12 जनवरी। दौसा जिले में बुधवार को इन्वेस्टमेंट समिट का आयोजन महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती ममता भूपेश व कृषि विपणन मंत्री श्री मुरारी लाल मीना के मुख्य आतिथ्य में किया गया। इस अवसर पर विधायक बांदीकुई श्री जी आर खटाना, दौसा जिला प्रमुख हीरा लाल सैनी, दौसा जिला कलक्टर श्री पीयुष समारिया उपस्थित रहे। समिट में निवेशकों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया तथा 950 करोड रुपए से अधिक इन्वेस्टमेंट के एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। इस अवसर पर मंत्री श्रीमती ममता भूपेश ने कहा कि प्रदेश की तरक्की में उद्वमियों का महत्वपूर्ण योगदान रहता है। कोरोना महामारी से प्रदेश देश के विकास की गति में बाधा आई है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने प्रदेश के विकास को गति प्रदान करने तथा ग्रामीणों को उनके गांव के आस पास ही रोजगार उपलब्ध करवाने के लिये उद्योग स्थापित करवाने का निर्णय लेकर सभी ब्लॉक पर उद्योग एरिया घोषित कर विकसित करवाने का कार्य किया है। उन्हाेंने कहा कि दौसा में आयोजित  इन्वेस्टमेंट समिट निश्चित रूप से दौसा के विकास के नए आयाम को स्थापित करेगी, इससे दौसा में औद्योगिक विकास होगा तथा स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होने कहा कि इन्वेस्टमेंट सम्मिट से दौसा में नए निवेशक सामने आए हैं, ऎसे में नेशनल स्तर की समिट हो तो बड़े स्तर के निवेशक भी दौसा और इसके आसपास के क्षेत्र में इन्वेस्टमेंट के लिए आ सकते हैं। महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा कि दौसा जिले के विकास में सभी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों  एवं गणमान्य नागरिकों का सकारात्मक सहयोग जरूरी है। जिले जब सकारात्मक माहौल होगा तो उद्यमी व्यापार स्थापित करने के लिये स्वंय चला आयेगा। उन्हाेंने कहा देश व प्रदेश में आदी आबादी महिला की है। महिलाओं को उद्योग स्थापित करने के लिये प्रात्साहित करे तथा इंदिरा महिला शक्ति योजना के तहत ़ऋण एवं अनुदान उपलब्ध करवा कर उन्हे आगे बढाने में अधिकारी सहयोग करे। ’’इन्वेस्ट समिट’’ को संबोधित करते हुये कृषि विपणन मंत्री श्री मुरारी लाल मीणा ने कहा कि दौसा में औद्योगिक इकाइयां स्थापित करने के लिए पर्याप्त संसाधन हैं। उद्यमियों के लिये यहां पर सस्ती दर पर भूमि उपलब्ध है वही पानी हेतु राज्य सरकार ने ईसरदा बांध से जिले को पानी उपलब्ध कराने की कार्य योजना प्रगति पर है। जहां तक मानव संसाधन का सवाल है, कुशल और एक अकुशल कारीगरों की बहुतायत है, ट्रांसपोर्ट सुविधा राज्य में सबसे अच्छी दौसा जिले में होने जा रही है। सडक ट्रान्सपोर्ट में देश का प्रत्येक हिस्सा दौसा से जुड़ा हुआ है।लघु और कुटीर उद्योग हमारे क्षेत्र में पूर्व से ही कार्यरत है। इनके माल की डिमांड देश और विदेश में है। इन उद्योगों को आपका साथ मिल जाएगा तो ऎसी स्थिति में जहां उत्पादन बढ़ेगा वहीं उत्पादित माल को बेचने के लिए नए बाजार भी उपलब्ध होंगे। उन्होने कहा कि जिले में उद्योग लगने से क्षेत्र में लोगों को रोजगार मिलेगा वही उनकी आय भी बढ़ेगी।  इस अवसर पर बांदीकुई विधायक श्री जी आर खटाणा ने कहा कि आगामी दिनों में जब यह इन्वेस्टमेंट धरातल पर मूर्त रूप लेगा तो निश्चित रूप से दौसा जिले में विकास के नये आयाम स्थापित होगें।  कार्यक्रम में दौसा जिला प्रमुख हीरा लाल सैनी, जिला कलक्टर पीयुष समारिया, जिला व्यापार संघ के जिला अध्यक्ष मनोहर लाल गुप्ता ने विचार व्यक्त किये।—–

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें

Check Also

राजस्थान

मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्र भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी संघवाद की भावना के विपरीत सरदार पटेल द्वारा ‘स्टील फ्रेम ऑफ इंडिया’ बताई गई सेवाएं भविष्य में कमजोर होंगी

Description मुख्यमंत्री का प्रधानमंत्री को पत्रभारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रतिनियुक्ति नियमों में प्रस्तावित संशोधन सहकारी …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *