बिना साड़ी पहने थाने पहुंची गैंगरेप पीडिता, गहलोत सरकार पर बताया कंलक।

बिना साड़ी पहने थाने पहुंची गैंगरेप पीडिता, गहलोत सरकार पर बताया कंलक।

उदयपुर जिले के ग्रामीण इलाके के एक थाना क्षेत्र में दो बदमाशों द्वारा एक महिला के साथ किए गैंगरेप के बाद शुक्रवार को जिला पुलिस अधीक्षक मनोज चौधरी भी मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम के बारे में जानकारी ली। इससे पहले बदमाशों ने बेखौफ होकर पुलिस चौकी से महज 250 मीटर दूर की दूरी पर इस घटना को अंजाम दिया। हालांकि पुलिस को इस  घटना की जानकारी तब हुई जब पीड़िता बिना साड़ी के दौड़ते हुए चौकी पर पहुंची तो वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी आनन-फानन में उसके साथ घटना स्थल पर पहुंचे। वहीं से पुलिसकर्मियों ने अधिकारियो को प्राथमिक तौर पर गैंगरेप की जानकारी दी।
घटना स्थल पर पहुंचे एसपी।
जिला पुलिस अधीक्षक मनोज चौधरी शुक्रवार को घटना स्थल पर पहुंचे। इस दौरान उनके अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय कुंदन कंवरिया, डिप्टी जितेन्द्र सिंह और थानाधिकारी मोती लाल और एफएसएल की टीम के सदस्य मौजूद थे। चौधरी ने पुलिस अधिकारियों ने से विस्तृत चर्चा करने के बाद जल्द ही गैंगरेप के आरोपियों को पकड़ने का दावा किया हैं। उन्होंने बताया कि गैंगरेप का मुकदमा दर्ज करने के बाद इस मामले में लिप्त आरोपियों का पता लगाने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय के सुपरविजन में टीमों का गठन किया गया जिनके द्वारा गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। इधर एफएसएल की टीम ने घटना स्थल से साक्ष्य जुटाने की कोशिश की।

यह था घटनाक्रम।
गुरूवार की शाम महिला अपने ससुराल से अकेली पीहर जा रही थी। कच्चे रास्ते पर महिला पैदल जा रही थी। इसी दौरान एक बाइक पर 3 युवक आए। इसमें दो युवक महिला के पास उतर गए और तीसरा बाइक लेकर चला गया। इसके बाद दोनों युवकों ने महिला से बात करने की कोशिश की, जब उसने बात नहीं की, तो महिला को खींचते हुए दोनों आरोपी खेत में ले गए। वहां दोनों युवकों ने गैंगरेप किया। महिला उसे छोड़ने के लिए मिन्नतें करती रही। उसने चिल्लाने की कोशिश की, मगर आरोपियों ने उसके मुंह को हाथ से दबाए रखा। वारदात के बाद महिला बदहवास हालत में भागती हुई बिना साड़ी ही पुलिस चौकी पहुंची।
घटना के बाद आरोपी हुए फरार।
जब तक महिला पुलिस चौकी पहुंची तब तक दोनों आरोपी मौके से भाग गए। इधर मौके पर पहुंची पुलिस को एक युवक की घड़ी और पीड़िता की साड़ी पड़ी मिली। इसके बाद सूचना पर महिला के पति और पिता भी पुलिस चौकी पहुंचे। महिला की रिपोर्ट पर पुलिस ने गैंगरेप का मामला दर्ज कर लिया है।
उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने किया ट्वीट।
आदिवासी महिला के साथ गैंगरेप की घटना को लेकर उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने ट्वीट कर गहलोत सरकार पर निशाना साधा है। राठौड़ ने ट्वीट कर लिखा कि उदयपुर में आदिवासी महिला के साथ गैंगरेप की घटना गूंगी-बहरी राज्य सरकार के माथे पर कलंक है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में प्रतिदिन 15 अबलाओं की इज्जत लूटी जाती है और ना जाने कितनी अबलाएं ऐसी भी हैं जो दरिंदगी का शिकार होने के बावजूद इज्जत बचाने के खातिर सामने नहीं आती। राठौड़ के साथ भाजपा के अन्य नेताओं ने इस प्रकरण में प्रदेश की गहलोत सरकार पर जुबानी हमला बोला है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और प्रवक्ता रामलाल शर्मा सहित कई भाजपा नेताओं ने राजस्थान में जंगलराज कायम होने की बात कहते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधा है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने कहा कि उदयपुर में हुई घटना शर्मसार करने वाली घटना है। गहलोत सरकार के कार्यकाल में अपराधियों के हौसले बुलंद हो रहे हैं। शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने यदि इस प्रकार की घटनाओं पर अंकुश नहीं लगाया तो राजस्थान की स्थिति बेहद खराब हो जाएगी।

यह भी देखें :  
यह भी पढ़ें :   राजस्थान में 5 करोड़ 14 लाख को पहली और एक करोड़ 27 लाख नागरिकों को वैक्सीन की दोनों डोज लगने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपनी पीठ थपथपाई, लेकिन वैक्सीन मुफ्त में मिलने पर केंद्र सरकार का जिक्र तक नहीं।
Gangapur City : रंगे हाथों पकडे गए चोर से बाइक बरामद, किसी की हो तो उदई मोड़ पुलिस से सम्पर्क करें

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें