fbpx
बुधवार , अक्टूबर 27 2021
Breaking News
Phone Panchayat

बिना भूमि रूपान्तरण के संचालित ईंट भट्टों पर कार्यवाही के निर्देश – उद्योग मंत्री

बिना भूमि रूपान्तरण के संचालित ईंट भट्टों पर कार्यवाही के निर्देश – उद्योग मंत्री
 उद्योग मंत्री श्री परसादी लाल मीना ने गुरूवार को विधानसभा में कहा कि गंगानगर जिले में, बिना भूमि रूपान्तरण के संचालित 29 ईंट भट्टों पर कार्यवाही के निर्देश दिये गये हैं। इस संबंध में अधिकारियों को इन ईंट भट्टाें का भूमि रूपान्तरण करवाने अथवा रूपान्तरण नहीं करने पर इन्हें बंद करने के निर्देश भी दिये गये हैं।
श्री मीना प्रश्नकाल में विधायकों द्वारा इस संबंध में पूछे गये पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने बताया कि अधिकारियों द्वारा वर्ष 2016 से जनवरी 2021 तक ईंट भट्टों का नियमित निरीक्षण किया गया है। जिले में आबादी क्षेत्र में ईंट भट्टों के संचालन की कोई शिकायत नहीं मिली है। ईंट भट्टे गांव की सीमा के एक किलोमीटर दूर तक संचालित है। उन्होंने कहा कि फिर भी इस संबंध में कोई शिकायत प्राप्त होती है तो उस पर कार्यवाही की जाएगी।
इससे पहले विधायक श्री जगदीश चन्द्र के मूल प्रश्न के जवाब में श्री मीना ने बताया कि जिला श्रीगंगानगर में कुल 403 ईंट भट्टे संचालित है। उप श्रम आयुक्त श्रीगंगानगर द्वारा वर्ष 2016 से जनवरी 2021 तक 14 ईंट भट्टों की जांच की गई। सैन्ट्रल इंस्पेक्शन सिस्टम के तहत श्रम निरीक्षक एवं फैक्ट्री एवं बांयलर निरीक्षक द्वारा 14 ईंट भट्टों पर संयुक्त निरीक्षण किया गया जिसमें कोई बाल श्रमिक नहीं पाया गया।
उन्होंने बताया कि RSPCB बीकानेर द्वारा जिले में वर्ष 2016 से जनवरी 2021 तक 256 ईंट भट्टों का निरीक्षण किया गया जिनमे सभी ईंट भट्टों मे निर्धारित मानकों के अनुरूप चिमनी की उंचाई व गुरूत्वीय अवक्षेपण कक्ष स्थापित पाए गए। यद्यपि सभी ईंट भट्टों पर उचित प्रदुषण नियंत्रण व्यवस्था पाई गई तथापि जो ईंट भट्टे प्रदुषण नियंत्रण मण्डल की संचालन सम्मति के बिना कार्यरत है उन्हे नोटिस जारी किये गए।
उन्होंने बताया कि श्रीगंगानगर जिले में कुल 403 ईंट भट्टे संचालित है, जिनमें से 374 ईंट भट्टों का भूमि रूपांतरण करवा लिया गया है तथा 29 ईंट भट्टों का भूमि रूपांतरण संबंधित विभाग में प्रक्रियाधीन है।
श्री मीना ने बताया कि कृषि भूमि पर संचालित हो रहे भट्टाें की सूचना प्राप्त होने पर जल संसाधन विभाग द्वारा ऎसा भू-भाग जिस पर ईंट भट्टा स्थापित है उसकी सिंचाई हेतु पानी की बारी को विवर्जित किया जाता है।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

पंचायतीराज विभाग के निदेशक ने टोंक जिले की ग्राम पंचायत ललवाड़ी का किया दौरा, प्रशासन गांवो के संग अभियान से आमजन को मिल रही है राहत

Description पंचायतीराज विभाग के निदेशक ने टोंक जिले की ग्राम पंचायत ललवाड़ी का किया दौरा,प्रशासन …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com