G News Portal

बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय

📔 बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय: BTU ने सालभर ऑनलाइन पढ़ाई करवाई, अब परीक्षा ऑफलाइन लेने की तैयारी, स्टूडेंट्स ने किया विरोध

बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के अधीन राज्य के 42 इंजीनियरिंग कॉलेज है….

बीकानेर।
कोरोना काल में इंजीनियरिंग छात्रों को ऑनलाइन पढ़ने के लिए मजबूर करने वाले टेक्निकल यूनिवर्सिटी के पास परीक्षा ऑनलाइन लेने की सुविधा नहीं है। ऐसे में बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के छात्रों ने मोर्चा खोल दिया है। छात्रों का कहना है कि जब पढ़ाया ऑनलाइन है तो परीक्षा ऑफलाइन क्यों ली जा रही है? न सिर्फ बीकानेर का तकनीकी विश्वविद्यालय बल्कि कोटा का तकनीकी विश्वविद्यालय भी ऑफ लाइन परीक्षा ही लेने को मजबूर है।

बीकानेर टेक्निकल यूनिवर्सिटी (BTU) ने पिछले दिनों बीटेक के तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा का कार्यक्रम घोषित किया था। इसके लिए परीक्षा केंद्र भी निर्धारित कर दिए गए। उधर, छात्रों ने मांग रख दी कि जब पढ़ाई ऑनलाइन हुई तो परीक्षा भी ऑनलाइन ही होनी चाहिए। राजस्थान के करीब 8 जिलों की 42 इंजीनियरिंग कॉलेज इस विश्वविद्यालय से जुड़ी हुई है। इसमें हजारों की संख्या विद्यार्थी जुड़े हुए हैं। बीकानेर के अलावा जोधपुर, अजमेर, अलवर, सीकर, श्रीगंगानगर और बाडमेर में स्थित सरकारी व निजी इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्र BTU से जुड़े हुए हैं।

यह भी पढ़ें :   माइक्रो मेनेजमेंट प्लान तैयार कर रैंकिंग बढाने के प्रयास करें
न्यून प्रगति एवं लापरवाह अधिकारियों/कार्मिकों को नोटिस देने के निर्देश

सोमवार को छात्रों ने विश्वविद्यालय के मुख्यद्वार पर प्रदर्शन करके विरोध जताया। उनकी मांग है कि ऑफलाइन के बजाय ऑनलाइन परीक्षा ली लाए। अगर ऑनलाइन व्यवस्था नहीं है तो ऑफ लाइन के लिए बच्चों को अतिरिक्त समय दिया जाए।

राज्य सरकार के आदेश
इस विरोध के बाद विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग ने कुलपति एचडी चारण को रिपोर्ट भेज दी है। विश्वविद्यालय ने इस बारे में राज्य सरकार को पत्र लिखा। राज्य सरकार ने भी शिक्षा की गुणवत्ता को ध्यान में रखते परीक्षा करवाने के आदेश कर दिए। अब तो वैसे भी राज्य में सभी स्कूल व कॉलेज खोलने के आदेश हो गए।

यह भी पढ़ें :   विधानसभा उपचुनाव-2021 दोनों विधानसभाओं में 29 उम्मीदवारों ने 43 नामांकन पत्र किए दाखिल 11 अक्टूबर को संवीक्षा और 13 अक्टूबर को नाम वापसी के बाद होगी उम्मीदवारों के बारे में होगी तस्वीर साफ

कुलपति का कहना है

विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एचडी चारण का कहना है कि बच्चों का शिक्षा सत्र जुलाई में शुरू हो गया था। सरकार ने अब कॉलेज में नियमित पढ़ाई के आदेश कर दिए हैं। ऐसे में कोई कारण नहीं रह जाता कि परीक्षा नहीं करवाई जाए। उन्होंने माना कि हमारे पास इतना संसाधन नहीं है कि बच्चों की परीक्षा भी ऑनलाइन आयोजित करवा लें।

📔🏆 शिक्षा विभाग समाचार 🏆📔

यह भी देखें :   Breaking News : लेडी डॉन रेखा मीणा का एक और साथी गिरफ्तार | Karauli News | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें