Alwar : सिख समुदाय युवक के बदमाशों ने काटे सिर के बाल, आँखों मे झोंकी लाल मिर्ची।

Alwar : सिख समुदाय युवक के बदमाशों ने काटे सिर के बाल, आँखों मे झोंकी लाल मिर्ची।

Alwar : सिख समुदाय युवक के बदमाशों ने काटे सिर के बाल, आँखों मे झोंकी लाल मिर्ची।

अलवर जिले के रामगढ़ क्षेत्र के ग्राम अलावड़ा से मिलकपुर की ओर जा रहे सिख समुदाय के एक युवक के कुछ लोगों ने सिर के बाल काट दिए। ये लोग युवक को जान से मारने की फिराक में थे। इस घटना से सिख समुदाय में भारी रोष व्याप्त हो गया।पीड़ित ने बताया कि मारपीट के दौरान उन्होंने उसके घर का एड्रेस भी पूछा और उसकी गर्दन काटने की बातें भी कर रहे थे। शोर मचाने पर हमलावर उसे सड़क पर ही छोड़कर फरार हो गए। अलवर एसपी तेजस्विनी गौतम व अलवर जिला एडीएम रामगढ़ मौके पर पहुंचे और पीड़ित के हाल जाने। उन्होंने बताया कि मिलकपुर निवासी गुरुबख्श सिंह गुरुवार को अलावड़ा दवाई लेने गया था। देर शाम मिलकपुर अपने घर लौट रहा था। रास्ते में करीब चार से पांच लोगों ने उसे घेर लिया और उसकी बाइक को साइड में खड़ी करवा दी। उसके आंखों में मिर्च झोंक दी और खेतों की तरफ ले गए, जहां लाठी-डण्डी और चाकू गर्दन पर लगाकर उससे नाम पता पूछने लगे जब उसने बताया कि वह पूर्व ग्रंथि है।

यह भी पढ़ें :   Alwar : ACB का NH 48 पर DTO दफ्तर पर छापा, 12 लाख नगद जब्त

इसके बाद उसे आंखों पर पट्‌टी बांधकर बिठा दिया। रामगढ़ सीएचसी में भर्ती गुरबख्श ने बताया कि वे लोग मेरी गर्दन काटने की बात कर रहे थे। मैंने घबराकर कहा कि मुझे क्यों मार रहे हो ? मैं तो गुरुद्वारा का पुजारी हूं। तब उन्होंने किसी जुम्मा नाम के व्यक्ति को फोन किया। फोन पर दूसरे व्यक्ति को बदमाशों ने बताया कि ये तो गुरुद्वारा का पुजारी है, मिलकपुर का नहीं है। सीकरी का बता रहा है।गुरबख्श ने बताया कि जुम्मा नाम के व्यक्ति के कहने पर बदमाशों ने पिटाई की और बाल काट डाले। वे आपस में बात कर रहे थे कि जुम्मा ने कहा है कि गुरुद्वारे के आदमी है तो इसके बाल ही काट दो। वो ही बहुत है। इसके बाद हमलावरों ने धमकाया कि चुपचाप यहीं बैठे रहना। वारदात के बाद बदमाश वहां से फरार हो गए। इसके बाद पीड़ित गुरुबख्श ने रामगढ़ थाने और परिचितों को कॉल किया। इसके बाद घायल को रामगढ़ अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है। एसपी तेजस्विनी गौतम ने बताया कि पीड़ित से पूरी बात की है। गुरबख्श को रोड पर हाथ देकर रोका था। यह कहा था कि आपके मिलकपुर का कोई सरदारों का लड़का पड़ा है। उसे लेकर जाएं। तभी तीन चार व्यक्ति और आ गए। इल्जाम ये लगाया कि किसी लड़की को भगा ले जाने का मामला मिलकपुर में चल रहा है। उससे संबंधित आरोप लगाए।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें