fbpx
मंगलवार , सितम्बर 21 2021
Breaking News
Phone Panchayat
एक ऐसी बुजुर्ग माँ की झकझोर देने बाली दर्दभरी कहानी - भरतपुर

एक ऐसी बुजुर्ग माँ की झकझोर देने बाली दर्दभरी कहानी – भरतपुर

पतनशील मूल्यों के इस दौर में तारतार होते रिश्तों के बीच राजस्थान के भरतपुर में एक ऐसी बुजुर्ग माँ की झकझोर देने बाली कहानी सामने आई है जिसमे उसके दो दो कमाऊ पूतो के साथ उनकी सर्विस क्लॉस पत्नियों के होते हुए भी दो बक्त की रोटियों के लिए माँ दर दर की ठोखरे खा रही है।

जी हाँ ये दर्दभरी कहानी है भरतपुर जिले के भुसावर थाना इलाके के हिसामड़ा गांव की रहने वाली 60 साल की महिला महादेई की। महिला के दो बेटे हैं, दोनों एयर फोर्स में हैं और दो बहुएं हैं जो सरकारी नौकरी करती हैं। इतना सब होने के बाद भी बेटे अपनी मां को दो वक्त की रोटी नहीं दे पा रहे। महादेई के पति धर्मवीर कि डेढ़ साल पहले गले में कैंसर की बीमारी के कारण मौत हो गई। बड़ा बेटा शेर सिंह एयरफोर्स में आगरा में तथा छोटा बेटा विश्वेन्द्र उधमपुर में तैनात है। शेर सिंह की पत्नी विनिता नर्स है जो धौलपुर में रहती है और विश्वेंद्र की पत्नी आरती टीचर है जो टोडाभीम में नौकरी करती है। महादेई कुछ दिन अपने बच्चों के पास भी गई लेकिन वह नौकरानी जैसा बर्ताव सहन न कर सकी तो अपने गांव लौट आई। महादेई ने संभागीय आयुक्त को अपनी पूरी व्यथा बताते न्याय की गुहार लगाई है।

एक ऐसी बुजुर्ग माँ की झकझोर देने बाली दर्दभरी कहानी - भरतपुर

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

प्रदेश के चिकित्सा राज्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र भरतपुर में स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली सवालों के घेरे में

प्रदेश के चिकित्सा राज्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र भरतपुर में स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली सवालों के घेरे में

प्रदेश के चिकित्सा राज्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र भरतपुर में स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली सवालों के …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com