fbpx
शनिवार , जनवरी 22 2022
Breaking News
भृष्टाचार निरोधक व्यूरो के उपाधीक्षक परमेश्वर लाल यादव पर एक बार फिर मंडराने लगे है संकट के बादल

भृष्टाचार निरोधक व्यूरो के उपाधीक्षक परमेश्वर लाल यादव पर एक बार फिर मंडराने लगे है संकट के बादल

राजस्थान के भरतपुर में 14 साल के एक नावालिग किशोर के साथ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो संभाग भरतपुर के निलंबित सेशन जज जितेंद्र गुलिया द्वारा कथित कुकर्म के मामले में नामजद किये गए भृष्टाचार निरोधक व्यूरो के उपाधीक्षक परमेश्वर लाल यादव पर एक बार फिर मंडराने लगे है संकट के बादल। राजस्थान ही नही बल्कि उत्तर-भारत के इस हाईप्रोफाइल व सनसनीखेज मामले में यादव को मुलजिम बनाये जाने के लिए पोस्को कोर्ट में पेश किया गया है एक प्रार्थनापत्र। पीड़ित नावालिग किशोर पक्ष की तरफ से पेश इस प्रार्थनापत्र में मामले की जाँच के दौरान पुलिस की तरफ से यादव के नाम को निकाल दिए जाने का किया गया है विरोध औऱ उन्हें मामले में फिर से मुलजिम बनाये जाने का किया गया है अनुरोध। मामले को लेकर प्रार्थनापत्र पर आज अदालत में हुई बहस के दौरान पीड़ित पक्ष की तरफ से दी गई दलील कि एफआईआर में नामजद होने के साथ पीड़ित किशोर के सीआरपीसी की धारा161 व 164 के बयानों में भी यादव का हुआ है जिक्र तो फिर पुलिस ने किस आधार पर यादव का नाम हटा दिया आरोपियों की लिस्ट से। दोनों पक्ष की बहस सुनने के बाद अदालत 18 जनवरी को सुनाएगी अपना फैसला।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें

Check Also

बुजुर्ग महिला के बैंक खाते से साढ़े तीन लाख रूपये हुए पार

बुजुर्ग महिला के बैंक खाते से साढ़े तीन लाख रूपये हुए पार

भरतपुर की हाउसिंग बोर्ड कृष्णा नगर कालोनी निवासी 61 वर्षीय विधवा बुजुर्ग महिला जडाव देवी …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *