पैंथर का शव मिला शव का पोस्टमार्टम कर किया अंतिम संस्कार

पैंथर का शव मिला, शव का पोस्टमार्टम कर किया अंतिम संस्कार

राजस्थान के सवाईमाधोपुर में रणथंभौर टाइगर रिजर्व के कालीभाट नाका वन क्षेत्र में एक पैंथर का शव मिला है। वन विभाग की टीम पैंथर के शव को कब्जे में लेकर राजबाग नाका लाई, जहां वन अधिकारियों की मौजूदगी में वेटनरी डॉक्टरों ने शव का पोस्टमार्टम किया। जिसके बाद पैंथर के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज कालीभाट नाका वनपाल योगेश शर्मा स्टाफ के साथ जंगल में गश्त पर गए थे। गश्त के दौरान करीब 9 बजे उन्हें जंगल मे एक पैंथर का शव मिला। जिसकी सूचना वन विभाग के उच्च अधिकारियों को दी। सूचना मिलने के बाद विभाग की टीम मौके पर पंहुची और पैंथर के शव को कब्जे में लेकर राजबाग नाका लाया गया। जहां वनाधिकारियों की मौजूदगी में वेटनरी डॉक्टरों ने शव का पोस्टमार्टम किया। जिसके बाद पैंथर के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। राजीव गर्ग ने बताया कि पैंथर की मौत टेरिटोरियल फाइट की वजह से हुई है।
पैंथर का किसी दूसरे बाघ से संघर्ष हो गया, जिसकी वजह से उसकी मौत हुई है। पैंथर की गर्दन पर एन्टीमोरट्म घाव था। पैंथर की गर्दन टूटी हुई थी। पैंथर की गर्दन पर दांयी तरफ बाइटिंग घाव था। पिछले हिस्से में पेल्विक केविटी में 49 सेमी व 19 सेमी घाव था। जो मरने के बाद किसी मांसाहारी द्वारा खाया गया है।
पैंथर का कोविड 19 का सैंपल लिया, जो भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान बरेली इज्जत नगर भेजा जाएगा| पैंथर के सभी पैरों के नाखून और केनाइन शव के साथ सुरक्षित थे। पैंथर की उम्र दो साल बताई जा रही है। इस दौरान डीएफओ महेंद्र शर्मा, रणथंभौर टाइगर रिजर्व के वेटनरी ऑफिसर डॉ. सीपी मीना, डॉ. अंजली गंगवार, तहसीलदार प्रीति मीना, शहर पुलिस चौकी जितेंद्र सिंह, वनपाल योगेश शर्मा मौजूद रहे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें