बांसरोटा बने राजस्थान शिक्षक महासंघ के जिलाध्यक्ष

गंदगी से परेशान लोग पार्षद उम्मद्वारों से पूछ रहे सवाल

गंदगी से परेशान लोग पार्षद उम्मद्वारों से पूछ रहे सवाल
लालसोट
शहर की सरकार चुनने के लिए मतदान का दिन नजदीक आने के साथ ही प्रत्याशी चुनाव प्रचार के लिए वार्ड के मतदाताओं को घर घर जाकर वोट की अपील कर रहे हैं। लेकिन ऐसे में मतदाता भी वार्ड का प्रतिनिधित्व कर चुके लोगों द्वारा विकास कार्य कराने को लेकर आकलन करने में जुटे हैं।
जहां अनेकों वार्डों में शहर तो दूर गावों जैसे विकास कार्य भी नहीं हुए। वार्ड नंबर 35 में गलियों में गंदगी का आलम है। अनेकों जगह कचरे व गंदगी के ढेर पड़े हैं। प्रशासन व पार्षदों ने लोगों की शिकायतों के बाद भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। यहां सफाई के लिए कर्मचारी की व्यवस्था भी नहीं है।
स्थानीय लोगों का कहना है कि कई जगह पर पानी की आपूर्ति सुलभ नहीं है। कई बार प्रशासन व जन प्रतिनिधियों पार्षदों के दरवाजों पर दस्तक देने के बाद भी गरीब तबके की सुनने वाला कोई नहीं है।
लोगों का कहना है कि चुनाव के दौरान झूठे वादों और चिकनी चुपड़ी बातें कर उनके वोट हासिल कर लेते हैं। लेकिन चुनाव के बाद जनता की सेवा के लिए चुने गए नुमाइंदे खुदगर्ज बन कर जनता को भूल जाते हैं। लोग वार्ड की समस्याओं को लेकर सवाल दाग रहे हैं। जिन्हें फिर से भरोसे की डोर में बांध कर वोट हांसिल करने का जतन किया जा रहा है। जनता भी अब पहले से जागरूक हो चुकी है। ऐसे में वार्ड 35 में राजनीतिक दलों के नेताओं को छोड़ नये नौजवान उम्मीदवार भी प्रभावी नजर आ रहे हैं।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें