fbpx
सोमवार , जनवरी 17 2022
Breaking News

आवश्यक सेवाओं की समीक्षा बैठक में बकाया प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण करने के निर्देश

आवश्यक सेवाओं की समीक्षा बैठक में बकाया प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण करने के निर्देश
दौसा 28 दिसम्बर। जिला कलेक्टर पीयुष समारिया ने कहा कि जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में आमजन को राहत प्रदान करने के लिये उनके द्वारा दर्ज करवाये जाने वाले प्रकरणों का सभी विभागीय अधिकारी शीघ्रता से समाधान करवाना सुनिश्चित करे। राजस्थान सम्पर्क पोर्टल, मुख्यमंत्री हेल्प लाईन एवं सीएमओ के बकाया प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण करवा कर पीड़ितों को राहत दिलवाने के लिये सक्रिय रहकर कार्य करें।
सोमवार को कलेक्टे्रट कक्ष में आयोजित आवश्यक सेवाओं की समीक्षा बैठक में विभागवार समीक्षा करते हुये जिला कलक्टर ने यह बात कही। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय व मुख्यमंत्री हेल्प लाईन पर दर्ज प्रकरणों की उच्च स्तर पर पर समीक्षा की जाती है। इसके लिए विभागीय अधिकारी प्रभावी मॉनिटरिंग कर दर्ज प्रकरणों का समय पर निस्तारण करवाना सुनिश्चित करें। उन्होने बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, कोरोना पर नियंत्रण, विद्युत एवं पेयजल आपूर्ति, रसद सामग्री वितरण, सफाई व्यवस्था,पशुपालन,सिचाई, कृषि महिला एवं बाल विकास विभाग, जिला परिषद, मनरेगा, ई मित्र केन्द्र, पेंशन प्रकरणों का निस्तारण सहित सभी विभागों द्वारा संचालित योजनाओं एवं विकास कार्यो की समीक्षा की तथा विभागीय योजनाओं एवं कार्यो का सफल क्रियान्वयन करने की बात कही। उन्होने अधूरे कार्यो को शीघ्रता से पूर्ण करवाने तथा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं में पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित करवाने पर बल दिया। जिला कलक्टर ने कहा कि सभी विभागीय अधिकारी सांसद स्थानीयध् विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास योजना में स्वीकृत अधूरे कार्यो को समय सीमा में पूर्ण करवा कर यूसी ध्सीसी भिजवाने के कार्य को गति प्रदान करे।
उन्होने कहा कि राजस्थान सम्पर्क पोर्टल व मुख्यमंत्री हेल्प लाईन पर दर्ज प्रकरणों को स्वंय अधिकारी प्रतिदिन देखें तथा वास्तविकता की जांच कर दर्ज प्रकरणोें के जवाब शीघ्रता से भिजवाने की व्यवस्था करे। बैठक में विभागीय अधिकारी को दर्ज प्रकरण के बारे में पूर्ण जानकारी हो तथा समय पर जांच कर जवाब भिजवाने या किसी कारण वश पेंडिग हो तो कारण भी जानकारी होनी चाहिये। बैठक में विभागीय अधिकारियों को दर्ज प्रकरणों के बारे में अवगत नही कराया जायेगा बल्कि उसका जवाब देने को कहा जायेगा। इसलिये सभी अधिकारी बैठक में आने से पहले पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों की जानकारी व जवाब साथ में लेकर आवे।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर लोकेश कुमार मीना ने कहा कि जिले में आमजन की समस्याओं से संबंधित प्रकरणों का तत्परता से निराकरण करवाने के लिये विभागीय अधिकारी सक्रिय रह कर कार्य करे। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एल के बालोत ने आवश्यक सेवाओं व सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों के समाधान के बारे में तत्परता से कार्रवाही करने की बात कही। उन्होने बताया कि जिले में राजस्थान सम्पर्क पोर्टल के 1815 प्रकरण बकाया है। इसमें 1698 प्रककरण 30 दिवस तक के, 30 प्रकरण 45 दिवस तक के, 32 प्रकरण 60 दिवस तक के,49 प्रकरण 80 दिवस तक के तथा 6 प्रकरण एक वर्ष तक की अवधि के शेष है। उन्होने कहा कि सभी विभागीय अधिकारी बकाया प्रकरणों की समय पर जांच करवा कर रिपोर्ट अपलोड करावे ताकि प्रकरण को निस्तारित करवाया जा सके।
अतिरित जिला कलक्टर ने बताया कि राजस्थान सम्पर्क पोर्टल पर सर्वाधिक प्रकरण जलदाय विभाग के 439,जयपुर विद्युत वितरण निगम लि0 210, ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग के 270, नगर परिषद के 87, रसद के 57, सार्वजनिक विभाग के 21, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के 140, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के 87, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी कार्यालय के 10, महिला एवं बाल विकास विभाग के 87, श्रम कल्याण विभाग के 6, जिला रोजगार अधिकारी के 77, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक के 8, जिला शिक्षा अधिकारी प्रारम्भिक के 8, आर्थिक एवं सांख्यिकी के 36, पुलिस के 64, पशुपालन के 11, कृषि के 10, सहकारिता के 2, कोष कार्यालय के 5,सहायक खनिज अभियन्ता के 30,एसीपी के 17,वन विभाग के 24,आबकारी के 11,नगर पालिका महवा के 16,नगर पालिका लालसोट के 56 व नगर पालिका बांदीकुई के 26 प्रकरण बकाया हैं। उन्होने निर्देश दिये सभी अधिकारी बकाया प्रकरणों का इसी सप्ताह में निराकरण करवाना सुनिश्चित करे।
बैठक में उपवन संरक्षक वी केतन कुमार, जिला परिषद के मुख्यकार्यकारी अधिकारी एल के बालोत, अतिरिक्त जिला कलेक्टर लोकेश कुमार मीना, जयपुर विद्युत वितरण निगम लि0 के एसई ए के सिंघल,सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिशषी जयप्रकाश करदम, विद्युत से बी एल मीना, जलदाय से रामलखन मीना, सिचाई विभाग से केदार प्रसादमीना, आयुक्त नगर परिषद सुरेन्द्र मीना,उप निदेशक आयुर्वेद सुधाकर शर्मा, उप निदेशक कृषि राधेश्याम मीना, उप निदेशक महिला एवं बाल विकास ओ पी वशिष्ट, संयुक्त निदेशक पशुपालन डा0 निरंजन लाल शर्मा,कोषाधिकारी रामचरन मीना, सहायक निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राजेन्द्र सिंह गुर्जर, एसीपी अनित तिवाडी, एडीपीआर रामजी लाल मीना, सीडीईओ ओमप्रकाश शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा0 बी के बजाज,सहायक निदेशक उद्यान बी एन मीना,जिला रसद अधिकारी हितेश कुमार मीना,श्रम कल्याण अधिकारी बलवीर सिंह गुर्जर,सहायक निदेशक बाल संरक्षण रोहित जैन,सहायक निदेशक सांख्यिकी राम प्रकाश सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें

Check Also

बुद्धि प्रकाश गुमशुदा प्रकरण परिजनों का धरना 33वें दिन भी जारी - लालसोट

बुद्धि प्रकाश गुमशुदा प्रकरण परिजनों का धरना 33वें दिन भी जारी – लालसोट

बुद्धि प्रकाश गुमशुदा प्रकरण परिजनों का धरना 33वें दिन भी जारी लालसोट 13 दिसम्बर। एसडीएम …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *