Dholpur : राजस्थान में फिर पिटी बिजली विभाग की टीम, अधिकारियों ने विधायक मंलिगा और समर्थकों पर लगाये मारपीट के आरोप

Dholpur : राजस्थान में फिर पिटी बिजली विभाग की टीम, अधिकारियों ने विधायक मंलिगा और समर्थकों पर लगाये मारपीट के आरोप

Dholpur : राजस्थान में फिर पिटी बिजली विभाग की टीम, अधिकारियों ने विधायक

मंलिगा और समर्थकों पर लगाये मारपीट के आरोप

धौलपुर जिले के बाड़ी बिजली कार्यालय में तैनात एईएन और जेईएन के साथ मारपीट के मामले में विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा और एक पार्षद प्रतिनिधि के खिलाफ मारपीट और एससी- एसटी एक्ट में मामला दर्ज किया है। अस्पताल में भर्ती एईएन हर्षदापति ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि विधायक मलिंगा और उनके साथ आए लोगों ने जमकर मारपीट की। मारपीट के दौरान जब वह विधायक के सामने गिड़गिड़ाए तो उनके साथ आए एक व्यक्ति ने सिर पर कट्टा तान दिया था।

वहीं इन लोगों ने साथी जेईएन के दोनों पैर तोड़ दिए।पुलिस को दिए बयान में जेईएन हर्षदापति ने बताया कि सोमवार दोपहर को करीब 12 बजे वो डिस्कॉम कार्यालय में बैठकर बकाया वसूली को लेकर फाइलें तैयार कर रहे थे। तभी बाड़ी कांग्रेस विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा और उनके साथ करीब 6-7 लोग हाथों में लाठी-डंडे लेकर आ घुसे। विधायक मलिंगा ने आते ही उनके सिर पर कुर्सी दे मारी और जाति सूचक गालियां दी। मलिंगा ने महुआ खेड़ा गांव से ट्रांसफार्मर उतारने पर धमकाया और जमकर लाठी-डंडों से मारपीट की। पीड़ित जेईएन ने कहा है कि मारपीट के दौरान जब वह विधायक के सामने गिड़गड़ाया तो एक युवक ने उनके सिर पर देशी कट्टा तान दिया।

यह भी पढ़ें :   बच्चों से जबरन भीख मंगवाने वाला गैंग का भंडाफोड़ कर गैंग के मुख्य सरगना और उसके साथी गिरफ्तार

इस युवक ने भी विधायक के सामने ही गालियां दी और मारपीट की। जेईएन हर्षदापति ने बताया कि मारपीट के बाद विधायक मलिंगा और उनके साथी डिस्कॉम कार्यालय से बाहर चले गए थे। लेकिन थोड़ी ही देर में विधायक गिर्राज मलिंगा, पार्षद के प्रतिनिधि समीर खान सहित कई लोग वापिस ऑफिस में घुसे और फिर से धमकाते हुए मारपीट की। आरोप है कि विधायक मलिंगा ने साथी एईएन नितिन गुलाटी को जमीन पर पटक कर गर्दन पर पैर रखा और बाल खींचे। मलिंगा के साथ आए पार्षद प्रतिनिधि समीर खान ने मारपीट करते हुए क्रिकेट बैट से एईएन गुलाटी के पैर तोड़ दिए। बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया है। मलिंगा ने कहा कि डिस्कॉम कार्यालय में भ्रष्टाचार फैला रहा है। इससे नाराज होकर जनता ने एईएन और जेईएन की पिटाई की है। मलिंगा ने बताया कि दोनों अधिकारियों के साथ मारपीट की खबर मिलते ही वे खुद मौके पर पहुंचे थे।

यह भी पढ़ें :   धौलपुर में तीन चरणो में सम्पन्न हुए पंचायत चुनाव

जहां एईएन-जेईएनदोनों गंभीर हालत में मिले। मारपीट के बाद कर्मचारियों ने दोनों एईएन और जेईएन को एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया था। मारपीट की सूचना के बाद एडीएम सुदर्शन सिंह तोमर, एसपी, एएसपी, कोतवाल सहित बिजली विभाग के अधिकारी अस्पताल पहुंचे थे और घटना की जानकारी ली थी। एईएन और जेईएन की हालत गंभीर होने पर डॉक्टर ने जयपुर के लिए रेफर कर दिया था। मारपीट में गंभीर रूप से घायल एईएन हर्षदापति कांग्रेस नेता कैप्टन मुकेश वाल्मीकि का बेटा हैं। मुकेश वाल्मीकि साल 2003 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं।

यह भी देखें :   Gangapur City : सड़क कितनी मजबूत खुल रही पोल | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें