Jaipur : ग्रेटर नगर निगम बैठक में सीएम गहलोत पर टिप्पणी पर हंगामा लगे गहलोत-मोदी के नारे।

Jaipur : ग्रेटर नगर निगम बैठक में सीएम गहलोत पर टिप्पणी पर हंगामा, लगे गहलोत-मोदी के नारे।

Jaipur : ग्रेटर नगर निगम बैठक में सीएम गहलोत पर टिप्पणी पर हंगामा, लगे

गहलोत-मोदी के नारे।

ग्रेटर नगर निगम में सोमवार को साधारण सभा की बैठक में भाजपा के पार्षद हरीश शर्मा सफाई के मुद्दे पर बोल रहे थे कि इसी दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कार्यप्रणाली को लेकर टिप्पणी कर दी। पार्षद की इस टिप्पणी से कांग्रेस के पार्षद भड़के और वे गहलोत जिंदाबाद के नारे लगाने लगे।वहीं भाजपा पार्षदों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नारे लगाने शुरू कर दिए। नारेबाजी के लिए सत्ता और विपक्ष के पार्षद वैल में आ गए और जोर-जोर से नारे लगाने लगे। हंगामा होता देखा मेयर सौम्या गुर्जर ने सदन को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया।

इसके बाद फिर शुरू हुई और पहले प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पास करवाकर सदन की कार्रवाई को एक घंटे के लिए स्थगित कर दिया।

इसके बाद भाजपा के पार्षद अक्षत खुटेटा ने आरोप लगाया था कि सदन के अंदर कांग्रेस महिला पार्षद राजुला के पति सदन के अंदर बैठे हैं। पहले उन्हें यहां से भगाया जाए।। जबकि रजुला के पति सदन में नहीं थे। इसी बात को लेकर कांग्रेस पार्षदों ने हंगामा कर दिया। धरने पर बैठ गए।

यह भी पढ़ें :   कालबेलिया डांस की प्रस्तुति ने मोहा मन

इससे पहले नगर निगम में डोर टू डोर कचरा संग्रहण की कार्यप्रणाली और टेण्डर की प्रक्रिया समझाने को लेकर संबंधित प्रोजेक्ट एक्सईएन मनोज कुमार शर्मा जवाब देते नहीं सके। जब मेयर ने कचरा कलेक्शन के लिए हर वार्ड में गाड़ियों की संख्या बताने को कहा तो वे जबाव नहीं दे पाए। इसके बाद आयुक्त यज्ञमित्र सिंह खुद उठे और उन्होंने एक-एक बात का जवाब देते हुए बात को संभाला। उन्होंने कहां कि इस बार डोर टू डोर कचरा संग्रहण में संख्या के हिसाब से वार्डो में हूपर न देकर रोड मैप और हाउस होल्ड (घरों की संख्या) के हिसाब से हूपर लगाए जाएंगे। इस तरह पूरे ग्रेटर नगर निगम क्षेत्र के 150 वार्डो में 425 से ज्यादा हूपर लगेंगे।

साधारण सभा की बैठक में आयुक्त यज्ञ मित्र सिंह ने का कि इस बार डोर टू डोर कचरा संग्रहण में नई व्यवस्था भी शुरू की है। हर घर के बाहर रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआईडी) लगाया जाएगा, जिसे कचरा कलेक्शन करने के लिए जो कर्मचारी आएगा वह स्कैन करेगा। स्कैन होने के बाद आपके मोबाइल पर मैसेज आएगा और आपको पता चलेगा कि आज आपके घर से कचरा उठ गया है। इसी के आधार पर नगर निगम कंपनी को भुगतान करेगा।

यह भी पढ़ें :   Rajasthan : जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर 2 साल से बंद पड़ी वाणिज्यिक अंतरराष्ट्रीय सेवाएं फिर से होगी शुरू। जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर 2 साल से बंद पड़ी वाणिज्यिक अंतरराष्ट्रीय सेवाएं फिर से होगी शुरू।

ग्रेटर नगर निगम के क्षेत्र में घर-घर कचरा संग्रहण से कचरा डिपो तक पहुंचाने का काम जोनवार अलग-अलग टेंडर करके अलग-अलग फर्मों को काम सौंपा जाए। इसकी निविदा की वित्तीय और प्रशासनिक स्वीकृति का प्रस्ताव पर चर्चा। जॉब बेसिस पर नगर निगम के हर वार्ड में 7-7 अस्थायी कर्मचारी उपलब्ध करवाने के लिए प्रस्ताव पर चर्चा।

नगर निगम की प्रशासनिक कार्यप्रणाली के सरलीकरण पर चर्चा। प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत अधिक से अधिक लोगों को फायदा पहुंचाया जाए। इसके लिए जनप्रतिनिधियों का सहयोग लेने पर चर्चा। साल 2021-22 में वार्डों में करवाए गए 55 लाख रुपए के विकास कार्यों की प्रगति रिपोर्ट पर चर्चा। साल 2022-23 में हर वार्ड में करवाए जाने वाले विकास कार्यों पर चर्चा। मानसून पूर्व शहर के नालों और सीवरेज की सफाई करवाने पर चर्चा।

यह भी देखें :   कोड़िया गैंग मुख्य सरगना सहित तीन शातिर बदमाश गिरफ्तार, हथियारों का जखीरा बरामद – श्रीमहावीरजी

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें